एडवांस्ड सर्च

कोरोना: ऐहतियाती कदम न उठाए जाते तो अब तक भारत में 78 हजार लोगों की चली जाती जान

सरकार का दावा है कि अगर कोरोना वायरस के खिलाफ सख्त कदम नहीं उठाए जाते और सतर्कता नहीं बरती जाती, तो 16 मई तक देश में कोरोना वायरस के मरीजों की संख्या 14 से 29 लाख के बीच पहुंच जाती है. साथ ही कोरोना वायरस से मरने वालों का आंकड़ा 37 हजार से 78 हजार के बीच पहुंच गया होता.

Advertisement
aajtak.in
मिलन शर्मा नई दिल्ली, 22 May 2020
कोरोना: ऐहतियाती कदम न उठाए जाते तो अब तक भारत में 78 हजार लोगों की चली जाती जान सांकेतिक तस्वीर (Courtesy- PTI)

  • 16 मई तक 14 से 29 लाख तक पहुंच जाते कोरोना मरीज
  • भारत में कोरोना मरीजों की रिकवरी की दर 41 फीसदी हुई

कोरोना वायरस के खिलाफ पूरा हिंदुस्तान मजबूती के साथ जंग लड़ रहा है. मोदी सरकार ने कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए देशव्यापी लॉकडाउन कर रखा है. 25 मार्च से लागू लॉकडाउन और सोशल डिस्टेंसिंग के चलते भारत कोरोना वायरस को फैलने से रोकने में काफी कामयाब भी रहा है. बोस्टन कंसल्टिंग ग्रुप ने इसका अनुमान लगाया है.

सरकार का दावा है कि अगर कोरोना वायरस के खिलाफ सख्त कदम नहीं उठाए जाते और सतर्कता नहीं बरती जाती, तो 16 मई तक देश में कोरोना वायरस के मरीजों की संख्या 14 से 29 लाख के बीच पहुंच जाती है. साथ ही कोरोना वायरस से मरने वालों का आंकड़ा 37 हजार से 78 हजार के बीच पहुंच गया होता. फिलहाल भारत में कोरोना वायरस के मरीजों की संख्या एक लाख 18 हजार 447 है, जबकि इससे मरने वालों की संख्या 3 हजार 583 है.

कोरोना पर फुल कवरेज के लि‍ए यहां क्ल‍िक करें

इस तरह भारत 16 मई तक करीब 13 से 28 लाख लोगों को कोरोना वायरस की चपेट में आने से बचाने में कामयाब रहा. साथ ही लगभग 37 से 74 हजार मौतों को टालने में सफल रहा. सरकार ने यह दावा पांच अलग-अलग मॉडल की स्टडी और शोधकर्ताओं के मूल्यांकन के आधार पर किया है. इन मॉडल में पब्लिक हेल्थ फाउंडेशन ऑफ इंडिया मॉडल, शमिका रवि का मॉडल समेत अन्य शामिल हैं.

कोरोना कमांडोज़ का हौसला बढ़ाएं और उन्हें शुक्रिया कहें...

इतना ही नहीं, भारत में कोरोना वायरस से काफी संख्या में लोग ठीक भी हो रहे हैं. शुक्रवार को केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने बताया कि अब देश में कोरोना वायरस के मरीजों की रिकवरी की दर 41 फीसदी है. पिछले 24 घंटे में 3334 कोरोना मरीज रिकवर हुए हैं. अब तक 48 हजार 534 लोग रिकवर हो चुके हैं. लव अग्रवाल ने यह भी बताया कि भारत में कोरोना से मौत की दर सिर्फ 3.02 फीसदी है. 19 मई को कोरोना से मरने वालों की दर 3.13 फीसदी थी, जिसमें अब 0.32 फीसदी की कमी आई है.

देश-दुनिया के किस हिस्से में कितना है कोरोना का कहर? यहां क्लिक कर देखें

कोरोना वायरस का कहर दुनियाभर में है. इस जानलेवा वायरस के सबसे ज्यादा चपेट में अमेरिका है. वहां अब तक कोरोना वायरस के मरीजों की संख्या 15 लाख 83 हजार से ज्यादा हो चुकी है, जिनमें से 95 हजार से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है. कोरोना से मौत के मामले में दूसरे नंबर पर ब्रिटेन हैं, जहां अब तक 36 हजार 475 से ज्यादा लोगों की जान जा चुकी है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay