एडवांस्ड सर्च

राहुल ने CBI के घमासान को राफेल से जोड़ा, कहा-नरेंद्र मोदी ने चोरी की है, पकड़े जाएंगे

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने गुरुवार को राफेल डील और सीबीआई में घमासान पर प्रेस कॉन्फ्रेंस की. कांग्रेस का आरोप है कि केंद्र सरकार ने राफेल डील की जांच के डर से सीबीआई डायरेक्टर आलोक वर्मा को छुट्टी पर भेज दिया है.

Advertisement
aajtak.in [Edited by: अनुग्रह मिश्र]नई दिल्ली, 26 October 2018
राहुल ने CBI के घमासान को राफेल से जोड़ा, कहा-नरेंद्र मोदी ने चोरी की है, पकड़े जाएंगे कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी (ANI)

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने गुरुवार को राफेल डील और सीबीआई में घमासान पर प्रेस कॉन्फ्रेंस की. सीबीआई डायरेक्टर आलोक वर्मा को छुट्टी पर भेजे जाने को लेकर राहुल गांधी ने कहा कि सरकार को राफेल डील की जांच का डर है. इस वजह से सरकार ने ये फैसला लिया.

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने पार्टी मुख्यालय में हुई प्रेस कॉन्फेंस में पत्रकारों से पूछा कि क्या अब आपको लगता है कि राफेल मामले में कुछ गलत हुआ है. सीबीआई के चीफ को हटाने का काम तीन लोगों की कमेटी करती है जिसमें पीएम, नेता प्रतिपक्ष और चीफ जस्टिस शामिल होते हैं. पीएम ने बिना इनके मशवरे के सीबीआई के मुखिया को हटाया. यह जनता का अपमान है, संविधान का अपमान है, चीफ जस्टिस का अपमान है. और इन सबसे बढ़कर यह गैरकानूनी है.

यहां देखें राहुल की पूरी प्रेस कॉन्फ्रेंस

राहुल गांधी ने कहा कि रात के 2 बजे सीबीआई पर की गई कार्रवाई के पीछे की वजह है कि सीबीआई राफेल मामले में प्रधानमंत्री की जांच करने वाली थी. क्योंकि अगर सीबीआई जांच हो जाएगी तो दूध का दूध पानी का पानी हो जाएगा, पूरे देश को पता लग जाएगा कि प्रधानमंत्री ने राफेल मामले में भ्रष्टाचार किया. उन्होंने आगे कहा कि नरेंद्र मोदी ने चोरी की है, वह पकड़े जाएंगे.

राहुल ने कहा कि दो बजे रात को सीबीआई के कमरे को सील किया गया, जो दस्तावेज थे उन्हें कब्जे में ले लिया गया, इसलिए यह कार्रवाई रात के दो बजे की गई. सीबीआई निदेशक आलोक वर्मा की जासूसी पर राहुल ने कहा कि पीएम मोदी सबकी जासूसी करते हैं.

कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा प्रधानमंत्री ने एक अपराध को छिपाने के लिए कई अपराध किए. वित्त मंत्री अरुण जेटली द्वारा सीवीसी की सलाह पर सीबीआई में की गई कार्रवाई के सवाल पर राहुल गांधी ने कहा कि वित्त मंत्री पहले अपनी बेटी और मेहुल चोकसी के बारे में बताएं.

राहुल ने कहा तथ्य साफ है आम तौर पर सरकार कुछ खरीदती है तो टेंडर होता है, राफेल मामले में टेंडर हुआ दसॉ को काम मिला लेकिन प्रधानमंत्री फ्रांस गए और टेंडर रद्द कर दूसरी डील कर आए. राहुल ने कहा कि यह ओपन एंड शट केस है, प्रधानमंत्री अनुभवी आदमी हैं वो जानते हैं कि यदि सीबीआई जांच करेगी तो वो बच नहीं पाएंगे. इसलिए राफेल मामले में सीबीआई से जांच कराना आत्महत्या करने समान होता, इसलिए प्रधानमंत्री ने सीबीआई की हत्या कर दी.

फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति फ्रांस्वा ओलांद के बयान पर  राहुल ने कहा कि ओलांद वो शख्स हैं जिन्होंने डील पर हस्ताक्षर किए और उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री चोर हैं, लेकिन प्रधानमंत्री उनके आरोप का जवाब नहीं दे पाए. रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण के फ्रांस दौरे के दौरान दसॉ कंपनी के जाने  पर राहुल ने कहा कि वो जानते हैं क्या बात हुई होगी. राहुल ने कहा कि उन्होंने दसॉ से कहा होगा कि जो हम कह रहे हैं आप भी वही कहिए नहीं तो हम डील रद्द कर देंगे.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay