एडवांस्ड सर्च

गोवा: पर्रिकर के शपथ ग्रहण से पहले कांग्रेस का अड़ंगा, SC में सुनवाई आज

गोवा कांग्रेस विधायक दल के नेता चंद्रकांत कवलेकर की ओर से दायर इस याचिका में मांग की गई है कि पर्रिकर के मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने पर रोक लगाई जाए. याचिका में यो भी मांग की गई है कि पर्रिकर को मुख्यमंत्री नियुक्त करने के राज्यपाल के फैसले को रद्द किया जाए.

Advertisement
aajtak.in
सना जैदी नई दिल्ली, 14 March 2017
गोवा: पर्रिकर के शपथ ग्रहण से पहले कांग्रेस का अड़ंगा, SC में सुनवाई आज मनोहर पर्रिकर

गोवा की राज्यपाल राज्यपाल द्वारा मनोहर पर्रिकर को मुख्यमंत्री नियुक्त किए जाने के फैसले को कांग्रेस ने सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी है. कांग्रेस की अपील पर सुप्रीम कोर्ट ने तुरंत सुनवाई करने की मंजूरी भी दे दी है.

गौरतलब है कि प्रधान न्यायाधीश न्यायमूर्ति जेएस खेहर के आवास पर सोमवार शाम याचिका दायर की गई और न्यायमूर्ति खेहर ने मंगलवार को इस अर्जी पर सुनवाई करने की सहमति जताई है. इस सिलसिले में विशेष पीठ का गठन किया गया है, क्योंकि शीर्ष अदालत होली की वजह से एक सप्ताह की छुट्टी पर है.

गोवा कांग्रेस विधायक दल के नेता चंद्रकांत कवलेकर की ओर से दायर इस याचिका में मांग की गई है कि पर्रिकर के मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने पर रोक लगाई जाए. याचिका में ये भी मांग की गई है कि पर्रिकर को मुख्यमंत्री नियुक्त करने के राज्यपाल के फैसले को रद्द किया जाए.कांग्रेस ने सबसे बड़ी पार्टी होने का दावा किया है. कांग्रेस ने गोवा के राज्यपाल को चिट्ठी लिखकर सरकार बनाने के लिए आमंत्रित करने की मांग की है. इस मसले पर कांग्रेस विधायक आज सुबह राज्यपाल से मुलाकात भी करेंगे.

 

पर्रिकर के साथ 9 मंत्री लेंगे शपथ
बीजेपी ने सोमवार को कहा कि मनोहर पर्रिकर के गोवा के मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने के साथ करीब नौ विधायक मंगलवार को मंत्री पद की शपथ लेंगे. गोवा बीजेपी के अध्यक्ष विनय तेंदुलकर ने कहा कि जिन विधायकों को मंत्री पद की शपथ दिलायी जाएगी उनमें गोवा फॉरवर्ड पार्टी (जीएफपी) और महाराष्ट्र गोमांतक पार्टी (एमजीपी) के दो-दो विधायक और दो निर्दलीय विधायक शामिल हैं.

तेंदुलकर ने बताया कि मंगलवार शाम राजभवन में होने वाले शपथ ग्रहण समारोह में बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह, राजनाथ सिंह और केंद्रीय सड़क परिवहन, राजमार्ग एवं पोत परिवहन मंत्री नितिन गडकरी मौजूद होंगे. गोवा की राज्यपाल मृदुला सिन्हा पर्रिकर सहित उनके मंत्रिमंडल के सदस्यों को पद और गोपनीयता की शपथ दिलाएंगी. सिन्हा ने पर्रिकर से शपथ ग्रहण के बाद गोवा विधानसभा में 15 दिनों के अंदर बहुमत साबित करने के लिए कहा है.

पर्रिकर इससे पहले दो बार गोवा के मुख्यमंत्री रह चुके हैं. पहली बार अक्टूबर 2000 से फरवरी 2005 तक और दूसरी बार मार्च 2012 से 8 नवंबर 2014 तक. इसके बाद वह रक्षा मंत्री बने थे. पर्रिकर ने 40 सदस्यीय गोवा विधानसभा में 21 सदस्यों के समर्थन का दावा किया है. विधानसभा चुनाव में बीजेपी को 13 सीटों पर जीत मिली हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay