एडवांस्ड सर्च

नागरिकता बिल का विरोध करने वालों से बोले CM- आंदोलनों में वक्त न गवाएं

असम के मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल ने नागरिकता संशोधन बिल का विरोध करने वालों को फटकार लगाई है. सोनोवाल ने कहा है कि प्रदर्शनकारी अपने विरोध से असम का भविष्य नहीं बदल सकते हैं. नागरिकता संशोधन बिल को सोमवार को गृह मंत्री लोकसभा में पेश करेंगे.

Advertisement
aajtak.in
aajtak.in गुवाहाटी, 08 December 2019
नागरिकता बिल का विरोध करने वालों से बोले CM- आंदोलनों में वक्त न गवाएं असम के CM सर्बानंद सोनोवाल और वित्त मंत्री हेमंत बिस्वा सरमा (फोटो-आजतक)

  • CAB का विरोध करने वालों को CM की फटकार
  • 'आंदोलन में न गवाएं कीमती समय'
  • कल लोकसभा में पेश होगा बिल

असम के मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल ने नागरिकता संशोधन बिल का विरोध करने वालों को फटकार लगाई है. सोनोवाल ने कहा है कि प्रदर्शनकारी अपने विरोध से असम का भविष्य नहीं बदल सकते हैं. नागरिकता संशोधन बिल को सोमवार को गृह मंत्री लोकसभा में पेश करेंगे. इसे लेकर बीजेपी ने अपने सांसदों को व्हिप भी जारी किया है. असम में कई राजनीतिक दल, गैर सरकारी संगठन इस बिल का विरोध कर रहे हैं.

आंदोलन में न गवाएं कीमती समय

सीएम सर्बानंद सोनोवाल ने कहा, "आपको पिछले आंदोलनों और प्रदर्शनों से सीख लेनी चाहिए, बिना कार्य संस्कृति के कोई भी समुदाय दुनिया में अपनी श्रेष्ठता साबित नहीं कर सकती है, सड़कों पर प्रदर्शन कर नस्लीय पहचान की सुरक्षा नहीं की जा सकती है. सीएम सोनोवाल ने रविवार को 1400 मीटर लंबे फ्लाईओवर की आधारशिला रखी. इस दौरान उन्होंने कहा, "राज्य की युवा पीढ़ी को ईमानदारी, कठिन मेहनत और गंभीरता के साथ असम को दुनिया के मानचित्र पर रखना चाहिए, उन्हें अपना कीमती समय आंदोलन और विरोध प्रदर्शन में बर्बाद नहीं करना चाहिए."

राज्य की युवा पीढ़ी को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि हमें एक शानदार कार्य संस्कृति विकसित करने की जरूरत है. युवाओं को आगाह करते हुए उन्होंने कहा कि वे बहकावे में आकर स्वार्थवश किए जा रहे आंदोलनों का हिस्सा न बनें.

असम की पहचान बचाने के लिए प्रतिबद्ध

सीएम ने कहा कि ये सरकार असमी मूल के लोगों के समर्थन से बनी है और वे किसी भी कीमत पर असम के स्थानीय लोगों की पहचान और संस्कृति को कमजोर नहीं पड़ने देंगे. सीएम ने कहा, "हमने कोई ऐसा काम नहीं किया है जिससे असमी पहचान पर संकट आए, न ही हम भविष्य में ऐसा कुछ करेंगे. हमारी सरकार असम के लोगों के लिए काम कर रही है और असम के लोग इसके गवाह हैं."

कब्जा करने वालों के खिलाफ प्रदर्शन करें

वहीं वित्त मंत्री हेमंत बिस्वा सरमा ने कहा कि नागरिकता संशोधन बिल के खिलाफ जो प्रदर्शन कर रहे हैं उन्हें उन ताकतों के खिलाफ आवाज उठानी चाहिए जिन्होंने हमारी जमीनें छीन ली है, जो हमारे धर्मस्थलों पर काबिज हो गए हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay