एडवांस्ड सर्च

कॉलेजों में जातिगत भेदभाव की याचिका पर SC ने केंद्र सरकार को भेजा नोटिस

कॉलेजों और शैक्षणिक संस्थानों में जातिगत भेदभाव को खत्म करने की मांग को लेकर दायर की गई याचिका पर सुनवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने  केंद्र सरकार, UGC और NABH को नोटिस जारी किया है और जवाब मांगा है.

Advertisement
aajtak.in
संजय शर्मा नई दिल्ली, 20 September 2019
कॉलेजों में जातिगत भेदभाव की याचिका पर SC ने केंद्र सरकार को भेजा नोटिस मेडिकल छात्रा पायल तड़वी ने खुदकुशी कर ली थी (फाइल फोटो)

  • सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र, UGC को भेजा नोटिस
  • शैक्षणिक संस्थानों में जातिगत भेदभाव खत्म करने का मामला

कॉलेजों और शैक्षणिक संस्थानों में जातिगत भेदभाव को खत्म करने की मांग को लेकर दायर की गई याचिका पर सुनवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने  केंद्र सरकार, UGC और NABH को नोटिस जारी किया है और जवाब मांगा है.

सुप्रीम कोर्ट में पायल तडवी और रोहित वेमुला की मां ने कॉलेजों में जातिगत भेदभाव खत्म करने की मांग को लेकर जनहित याचिका दायर की थी. इस याचिका पर सुनवाई करते हुए शुक्रवार को सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार को नोटिस जारी करके चार हफ्ते में जवाब मांगा है.

सुनवाई के दौरान सुप्रीम कोर्ट ने पूछा कि जब यूजीसी के नियम पहले से हैं तो हम इस मामले में क्या कर सकते हैं. इस पर याचिकाकर्ता की वकील इंदिरा जयसिंह ने कहा कि नियम तो हैं, लेकिन इन्हें लागू नहीं किए जा रहे हैं. 288 यूनिवर्सिटी में इक्विटी कमीशन नहीं है.

याचिकाकर्ताओं ने मांग की है कि शैक्षिक और अन्य संस्थानों में जातिगत भेदभाव खत्म करने का सशक्त और कारगर मैकेनिज़्म बनाया जाए. याचिकाकर्ता चाहते हैं  कि कोर्ट यूजीसी को इस बाबत निर्देश जारी करे ताकि उच्च शैक्षणिक संस्थानों के नियमन से जुड़ा 2012 का नियम सख्ती से लागू किया जा सके. याचिका में ये भी गुहार लगायी गई है कि विश्वविद्यालय और अन्य उच्च शैक्षिक संस्थानों में सभी छात्रों-शिक्षकों को समान अवसर मुहैया करवाने के लिए विशेष सेल बनाएं. इससे अनुसूचित जाति और जनजाति के छात्रों, शिक्षकों या कर्मचारियों के साथ भेदभाव की आंतरिक शिकायतों के समय से निपटारे में मदद होगी. बता दें कि हैदराबाद में रोहित वेमुला और महाराष्ट्र पायल तड़वी ने खुदकुशी कर ली थी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay