एडवांस्ड सर्च

मोदी सरकार की बुराई पर भड़का ड्राइवर, एक्शन पर OLA को बायकॉट करने लगे लोग

देश के कई हिस्सों में अक्सर राजनीतिक बहस छिड़ जाती है. ऐसा ही जब एक कैब में हुआ तो कंपनी ने ड्राइवर पर एक्शन लेने की बात कही. जिसके बाद लोगों की ओर से ओला को बायकॉट करने की मुहिम छेड़ दी गई है.

Advertisement
aajtak.in
aajtak.in नई दिल्ली, 24 January 2020
मोदी सरकार की बुराई पर भड़का ड्राइवर, एक्शन पर OLA को बायकॉट करने लगे लोग सोशल मीडिया पर फूटा लोगों का गुस्सा

  • सोशल मीडिया पर ट्रेंड हुआ #BoycottOla
  • ड्राइवर के साथ राजनीतिक बहस के बाद बवाल
  • ट्विटर पर यात्री ने साझा किया एक्सपीरियंस

देश की चर्चित कैब सर्विस कंपनी ओला लगातार चर्चा में बनी रहती है. शुक्रवार को ट्विटर पर एकाएक #BoycottOla ट्रेंड करने लगा. एक ट्विटर यूजर ने आरोप लगाया कि कैब ड्राइवर ने उनकी बातचीत पर टिप्पणी की और मोदी सरकार की आलोचना करने पर दुर्व्यवहार किया. शिकायत के बाद जब ओला ने ड्राइवर पर एक्शन लिया तो लोगों ने ओला को ही बायकॉट करने की मुहिम छेड़ दी.

पूरा मामला क्या है?

ट्विटर पर एक यूजर कनव शर्मा ने शुक्रवार को ट्वीट कर अपने अनुभव को साझा किया. कनव शर्मा ने लिखा कि कल ओला में सफर करने के दौरान ड्राइवर ने उनकी बातें सुनी और जवाब दिया कि अर्थव्यवस्था के लिए मोदी सरकार कैसे जिम्मेदार है, ये पूरी तरह से कांग्रेस की गलती है.’

कनव शर्मा के अनुसार, ड्राइवर ने उन्हें कहा कि कांग्रेस ने JNU बनाया, जहां पर टुकड़े वाले नारे लगाए जाते हैं. इसके अलावा जवाहर लाल नेहरू का दादा मुस्लिम था. कनव शर्मा के मुताबिक, जब उन्होंने ड्राइवर से तथ्य जांचने को कहा तो जवाब में उसने उन्हें ही एंटी नेशनल गैंग का सदस्य बता दिया जो सरकार की आलोचना कर रहे हैं.

1_012420030626.jpg

इस पूरी बातचीत की कनव शर्मा ने ओला से शिकायत की तो ओला ने ड्राइवर पर एक्शन लेने की बात कही. और भविष्य में ऐसा दोबारा ना होने का आश्वासन दिया.

2_012420030644.jpg

ट्विटर पर फूटा लोगों का गुस्सा

इस पूरे विवाद के बाद लोगों का गुस्सा ओला पर फूट पड़ा. ट्विटर पर  #BoycottOla ट्रेंड हुआ और लोगों की ओर से ओला के ऐप को डिलीट करने की अपील की गई. ट्विटर पर यूजर्स की ओर से दावा किया जा रहा है कि ड्राइवर को नौकरी से निकाल दिया गया है.

इसे पढ़ें... ओला-Uber की भी हालत पतली तो ऑटो सेक्‍टर में सुस्ती के लिए जिम्‍मेदार कैसे?

हालांकि, ओला की ओर से इस तरह का कोई ट्वीट नहीं किया गया है. जिसमें ड्राइवर के नौकरी जाने की बात कही गई हो. गौरतलब है कि ऐसा पहली बार नहीं है जब किसी ऐप्लिकेशन को लोगों के गुस्से का शिकार होना पड़ रहा है. इससे पहले भी कई बार धर्म के मुद्दे पर ओला, जोमैटो जैसे मसले पर विवाद हो चुका है.

कनव शर्मा कौन हैं?

ड्राइवर के व्यवहार को लेकर शिकायत करने वाले कनव शर्मा एक मैनेजमेंट कंस्लटेंट हैं. ट्विटर पर दी गई जानकारी के अनुसार वो AT Kearney नाम की कंपनी में काम करते हैं. उन्होंने अपनी लोकेशन जम्मू और दिल्ली लिखी है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay