एडवांस्ड सर्च

J-K से 370 हटाने का विरोध करने वाले UK सांसद से मिले कांग्रेस नेता, BJP ने बताया शर्मनाक

बीजेपी ने कांग्रेस के इस कदम को भय पैदा करने वाला बताया है और कहा है कि कांग्रेस को देश की जनता को यह बताना होगा कि उसके नेता विदेश जाकर विदेशी नेताओं से भारत के बारे में क्या बात करते हैं.

Advertisement
aajtak.in
पॉलोमी साहा नई दिल्ली, 10 October 2019
J-K से 370 हटाने का विरोध करने वाले UK सांसद से मिले कांग्रेस नेता, BJP ने बताया शर्मनाक जेरेमी कॉर्बिन के साथ कांग्रेस पार्टी के यूके प्रतिनिधि (फोटो-टि्वटर)

  • बीजेपी ने कहा, कांग्रेस पार्टी इस मुलाकात पर देश की जनता को जवाब दे
  • यूके के लेबर पार्टी सांसद जेरेमी कॉर्बिन ने मुलाकात की खुद जानकारी दी

जम्मू-कश्मीर पर मोदी सरकार के फैसले का विरोध करने वाले लेबर पार्टी के सांसद जेरेमी कॉर्बिन से कांग्रेस के प्रतिनिधिमंडल ने मुलाकात की है. ये मुलाकात कश्मीर को लेकर हुई, जिसके बाद भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) ने कांग्रेस पर निशाना साधा है.

बीजेपी ने कांग्रेस के इस कदम को भय पैदा करने वाला बताया और कहा कि कांग्रेस को देश की जनता को यह बताना होगा कि उसके नेता विदेश जाकर विदेशी नेताओं से भारत के बारे में क्या बात करते हैं. बीजेपी ने अपने ट्विटर हेंडल पर आगे लिखा कि ऐसे शर्मनाक काम के लिए देश की जनता कांग्रेस पार्टी को करारा जबाव देगी. बता दें, कांग्रेस के यूके प्रतिनिधियों ने कॉर्बिन से मुलाकात की है. इसकी जानकारी कॉर्बिन ने खुद ट्वीट कर दी है.

कॉर्बिन के ट्वीट में कमल धालीवाल भी दिख रहे हैं जो यूके में ओवरसीज कांग्रेस के अध्यक्ष हैं. बीजेपी के विदेश मामलों के प्रभारी विजय चौथेवाले ने कहा, कांग्रेस पार्टी यूके की लेबर पार्टी से सलाह ले रही है. ये लोग अपने मास्टर्स से मुलाकात के लिए सीधा पाकिस्तान भी जा सकते हैं.

बीजेपी ने अपने ट्वीट में लिखा है कि कांग्रेस के यूके प्रतिनिधियों ने लेबर पार्टी सांसद जेरेमी कॉर्बिन से कश्मीर और वहां मानवाधिकारों की स्थिति को लेकर मुलाकात की है. कॉर्बिन ने खुद इसकी जानकारी देते हुए एक ट्वीट में लिखा कि कांग्रेस पार्टी के नेताओं के साथ कश्मीर के हालात पर चर्चा की गई. कॉर्बिन ने ट्वीट में नसीहत दी है कि कश्मीर में तनाव घटने चाहिए और भय और हिंसा का दौर भी थमना चाहिए.

पहले भी हो चुका है विवाद

एक ऐसा ही वाकया साल 2017 में हुआ था जब डोकलाम विवाद के बीच राहुल गांधी की चीनी राजदूत से मुलाकात की खबर आई थी. दरअसल, चीनी दूतावास के WeChat अकाउंट पर 8 जुलाई को राहुल गांधी के साथ मीटिंग की पुष्टि की गई, जबकि कांग्रेस ने राहुल गांधी की इस मुलाकात की खबरों को 'फर्जी' करार दिया. राहुल गांधी के भारत में चीनी राजदूत से मिलने की खबरें सिक्किम के डोकलाम में भारत-चीन सीमा विवाद के बीच आई थी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay