एडवांस्ड सर्च

सेना प्रमुख बिपिन रावत बोले- आतंकियों के खिलाफ फिर सर्जिकल स्ट्राइक जरूरी

बता दें कि पाकिस्तानी आतंकियों के खिलाफ हुई सर्जिकल स्ट्राइक को जल्द ही दो साल पूरे होने वाले हैं. इस बीच अब एक बार फिर इस तरह की मांग उठ रही है, और अब सेना प्रमुख का बयान भी आ गया है.

Advertisement
मंजीत नेगी [Edited By: मोहित ग्रोवर]नई दिल्ली, 24 September 2018
सेना प्रमुख बिपिन रावत बोले- आतंकियों के खिलाफ फिर सर्जिकल स्ट्राइक जरूरी सेना प्रमुख बिपिन रावत (फाइल फोटो)

सेना प्रमुख बिपिन रावत ने पाकिस्तान की सरकार और वहां की सेना को लेकर सोमवार को बड़ा बयान दिया है. आजतक से बात करते हुए उन्होंने कहा कि जब तक पाकिस्तान में सेना और ISI सरकार के अधीन नहीं आती तब तक बॉर्डर पर हालात नहीं सुधरेंगे.

इतना ही नहीं बिपिन रावत ने ये भी कहा कि जिस तरह के हालात चल रहे हैं उनको देखते हुए आतंकवादियों के खिलाफ एक और सर्जिकल स्ट्राइक की ज़रूरत है.

घाटी में लगातार पुलिसकर्मियों को आतंकवादियों द्वारा निशाने पर लिया जा रहा है. इस पर उन्होंने कहा कि पुलिस को टारगेट किया जाना आतंकियों की निराशा को दिखाता है. सेना घाटी में अपना ऑपरेशन चालू रखेगी. उन्होंने कहा कि कश्मीर में आम आदमी मुश्किलें झेल रहा है, वहीं अलगाववादियों के रिश्तेदार विदेश में मौज कर रहे हैं.

उन्होंने कहा कि आज कश्मीर का युवा नौकरी की तलाश में है, लेकिन अलगाववादी और आतंकी उन्हीं नौजवानों से नौकरी छोड़ आतंकी बनने को कह रहे हैं.

सेना प्रमुख बोले कि हम इस बात पर जोर दे रहे हैं कि किस तरह अपनी सेना को आधुनिक बनाया जाए. समय के अनुसार जल्द ही हम पूरी तरह से आधुनिक फौज को तैयार करना होगा.

उन्होंने कहा कि जरूरी नहीं है कि फौज में हथियार बढ़ाए जाएं बल्कि अभी जो भी मौजूद हैं उन्हें ही आधुनिक कर दिया जाए. हम काफी चीज़ों में सुधार कर रहे हैं. बिपिन रावत ने कहा कि हम लोग साइबर के मामलों से भी निपटने के लिए काम कर रहे हैं.

आपको बता दें कि इससे पहले भी सेना प्रमुख ने सर्जिकल स्ट्राइक के मुद्दे पर बयान दे चुके हैं. हाल ही में उन्होंने कहा था कि सर्जिकल स्ट्राइक सरप्राइज देने का हथियार है. इसे सरप्राइज ही रहने दें. वह भारतीय सेना के पाकिस्तान के खिलाफ एक और सर्जिकल स्ट्राइक किए जाने के सवाल पर जवाब दे रहे थे. 

पाएं आजतक की ताज़ा खबरें! news लिखकर 52424 पर SMS करें. एयरटेल, वोडाफ़ोन और आइडिया यूज़र्स. शर्तें लागू
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay