एडवांस्ड सर्च

राजपथ पर गणतंत्र दिवस समारोह के रंग को मिली ओबामा की वाहवाही

देश आज 66वां गणतंत्र दिवस मना रहा है. राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देशवासियों को राष्ट्रीय पर्व की बधाई दी है. इस बार परेड में अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा चीफ गेस्ट हैं. गणतंत्र दिवस के लिए दिल्ली समेत पूरे देश में अभूतपूर्व इंतजाम किए गए हैं.

Advertisement
aajtak.in
aajtak.in [Edited by: नंदलाल शर्मा]नई दिल्ली, 27 January 2015
राजपथ पर गणतंत्र दिवस समारोह के रंग को मिली ओबामा की वाहवाही President Pranab Mukherjee

जनवरी की सर्दी की रिमझिम बारिश और कोहरे के बीच राष्ट्र ने अपना 66वां गणतंत्र दिवस खूब गर्मजोशी से मनाया, जिसमें अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा की मौजूदगी में ऐतिहासिक राजपथ पर देश की मजबूत सैन्य क्षमता, विभिन्न क्षेत्रों में अर्जित उपलब्धियों, आधुनिक सैन्य उपकरणों, विविध सांस्कृतिक और सामाजिक परंपराओं के अलावा सरकार की आत्मनिर्भरता और स्वदेशीकरण का प्रदर्शन किया गया.
तस्वीरों में देखिए गणतंत्र दिवस की झांकियां

ओबामा के रूप में पहली बार भारत के इस राष्ट्रीय पर्व के साक्षी बने अमेरिकी राष्ट्रपति के साथ ही राजपथ से लेकर ऐतिहासिक लालकिले के दोनों ओर मौजूद देश विदेश के सैकड़ों गणमान्य लोगों और लाखों आम नागरिकों ने बेहद खुशगवार माहौल के बीच देश की सैन्य ताकत और सांस्कृतिक विरासत के प्रदर्शन को गर्व के साथ देखा.

राजपथ से लालकिले तक मानों देश के गौरव की गाथा लिखी गई थी. सुरक्षा के लिए अभूतपूर्व व्यवस्था की गई थी लेकिन इससे लोगों के उत्साह में कोई कमी नहीं आई. सैन्य एवं रक्षा उपकरणों, सेना के तीनों अंगों की विविध टुकड़ियों की कदमताल, देशभर की सांस्कृतिक विरासत और विविध योजनाओं एवं उपलब्धियों की झलक दिखाने वाली झांकियां, जांबाज बच्चों के कारनामों, लोकनर्तकों की टोलियां और स्कूली बच्चों के दस्तों ने अपनी मौजूदगी से राष्ट्रीय पर्व की इस गौरवमयी सुबह को यादगार बना दिया.

गणतंत्र दिवस परेड का समारोह इंडिया गेट पर अमर जवान ज्योति से शुरू हुआ, जहां प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने पुष्पांजलि अर्पित कर शहीदों को राष्ट्र की ओर से श्रद्धांजलि अर्पित की. मातृभूमि की सेवा में बलिदान देने वाले सशस्त्र बलों के जवानों के अदम्य साहस की स्मृति में अमर जवान ज्योति पर हमेशा लौ प्रज्ज्वलित रहती है. उलटी करके रखी गई राइफल और उसपर टंगी सैनिक टोपी अमर जवानों के बलिदान का प्रतीक है. कृतज्ञ राष्ट्र हर वर्ष इस राष्ट्रीय पर्व पर उनके बलिदानों का स्मरण करता है, जिनकी वजह से हमें आजादी का यह वरदान मिला.

'बीस्ट' में सवार होकर पहुंचे ओबामा

ओबामा अपनी ‘बीस्ट’ में सवार होकर राजपथ पहुंचे. प्रधानमंत्री मोदी और वहां मौजूद लोगों ने ओबामा दंपत्ति का स्वागत किया. कुछ ही पल बाद परंपरागत अंदाज में राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी की कार उनके अश्व दस्ते की लयबद्ध ताल के बीच राजपथ पर आकर रूकी.

परंपरा के अनुसार, राष्ट्रीय ध्वज फहराने के बाद, 21 तोपों की सलामी के साथ राष्ट्रीय गान की धुन बजायी गई. इसके बाद परेड शुरू होने से पहले सेना के मेजर मुकुंद वर्धराजन और नायक नीरज कुमार सिंह को मरणोपरांत शांतिकाल के उच्चस्थ बहादुरी पुरस्कार अशोक चक्र से सम्मानित किया गया. इन दोनों ने जम्मू कश्मीर में उग्रवादियोंे का मुकाबला करते हुए अपना जीवन कुर्बान किया था.

राष्ट्रपति बराक ओबामा के सुरक्षा अपायों के तहत राष्ट्रपति के सलामी मंच पर बुलेट प्रूफ कवच लगाया गया. राष्ट्रपति ने सलामी मंच से अपने देश के जांबाज जवानों की सलामी ली. उनकी दाइ’ ओर बैठे अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा और बाई ओर बैठीं मिशेल ओबामा परेड का आनंद ले रही थीं. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने हरे और नारंगी रंग वाली छींटदार तुर्रदार पगड़ी और बंद गले का कोट पहना था. वह परेड के दौरान राष्ट्रपति ओबामा को परेड के बारे में कुछ कुछ बताते नजर आए.

सजे धजे सुरक्षाकर्मियों की कदमताल के बीच देश में ही डीआरडीओ द्वारा विकसित सतह से हवा में मार करने वाली मध्यम दूरी की आकाश मिसाइल का सेना संस्करण और हथियारों का पता लगाने वाले रडार का एक साथ प्रदर्शन इस साल की परेड का मुख्य आकषर्ण रहा.

इसके अलावा हाल ही में प्राप्त लंबी दूरी तक समुद्री निगरानी करने वाले और पनडुब्बी रोधी विमान पी-8आई और काफी दूर तक मार करने वाले उन्नत लड़ाकू विमान मिग-29के को पहली बार प्रदर्शित किया गया है. इस वर्ष की परेड में पहली बार तीनों सैन्य बलों थलसेना, नौसेना और वायुसेना की महिला दलों के मार्चिंग दस्ते को शामिल किया गया.

राष्ट्र के समक्ष समुद्री क्षेत्र से उभरने वाले सुरक्षा खतरे के मद्देनजर भारतीय नौसेना ने अपनी झांकी में समुद्री युद्ध के सभी चार आयामों में से कुछ को प्रदर्शित किया. स्वदेश निर्मित विध्वंसक आईएनएस कोलकाता, उन्नत हल्के हेलीकॉप्टर ध्रुवे के साथ ब्रह्मोस मिसाइल लांच करने के मॉडल को प्रदर्शित कर नौसेना आत्मनिर्भरता और स्वदेशीकरण की अपनी प्रतिबद्धता को दर्शाया.

राजपथ पर नारी शक्ति

दूसरी झांकी में भारतीय नौ सेना और नारी शक्ति का प्रदर्शन किया गया. इसमें वे चार महिला अधिकारी शामिल थीं जिन्होंने भारतीय नौसेना के पोत महादेई में गोवा से लेकर ब्राजील के रियो-डी-जेनेरियो तक समुद्र की विषमताओं का बहादुरी से सामना करते हुए समुद्री यात्रा में हिस्सा लिया था. परेड के अंत में वायुसेना के विमानों के शानदार करतब देखने को मिले. यह फ्लाई पास्ट चक्र के आकार से शुरू हुआ. इसमें तीन एमआई-35 हेलीकॉप्टरों ने वी आकार में उड़ान भरी. इसके बाद हरक्यूलिस आकार बनाया गया, जिसे तीन सी-130जे सुपरहरक्यूलिस विमानों ने अंजाम दिया.

राष्ट्रपति ओबामा की मौजूदगी ने आज के इस दिन को कुछ खास कुछ अलग बना दिया था. यही वजह है कि दिल्ली में अभूतपूर्व सुरक्षा व्यवस्था की गई थी. राजपथ के चारों ओर सात स्तरीय सुरक्षा व्यवस्था की गई है. मध्य दिल्ली में दिल्ली पुलिस और अर्धसैनिक बलों के करीब 40,000 जवानों की तैनाती की गई.

गणतंत्र दिवस परेडः अपडेट्स

11.57AM: राजपथ पर एयरफोर्स जवानों का एयर शो

11.52AM: मोटरसाइकिल पर सवार जवानों का जांबाज करतब, राष्ट्रपति ने दी सलामी

11.33 AM: राजपथ पर पंचायती राज मंत्रालय की झांकी
11.28 AM:
राजपथ पर प्रधानमंत्री जन-धन योजना की भी झांकी दिखी
11.17 AM:
गुजरात की झांकी में सरदार पटेल की प्रतिमा का प्रदर्शन किया गया. प्रधानमंत्री मोदी के प्रयासों से ही बन रहा है 182 मीटर ऊंचा स्टेच्यू ऑफ यूनिटी
11.17 AM:
महाराष्ट्र की झांकी में पंडरपुर की यात्रा का प्रदर्शन. परेड में शामिल नितिन गडकरी, प्रकाश जावेड़कर झांकी देखते ही अपने स्थान से खड़े हो गए
11.16 AM: अरुणाचल प्रदेश की झांकी में ईगू नृत्य का प्रदर्शन, डांस ऑफ प्रीस्ट भी कहा जाता है ईगू नृत्य को
11.14 AM: बस्तर के ऐतिहासिक दशहरे का प्रदर्शन
11.12 AM: कश्मीर के रौफ नृत्य का भी प्रदर्शन
11.05AM: राजपथ पर उत्तराखंड की झांकी, भगवान शिव की मूर्ति खास

10.56AM: दिल्ली पुलिस के दस्ते ने दी राष्ट्रपति को सलामी

10.54AM: सशस्त्र सीमा बल के दस्ते ने दी राष्ट्रपति का सलामी

10.48AM: पूर्व सैनिकों के दस्ते ने दी राष्ट्रपति को सलामी

10.28 AM: एवरेस्ट फतह करने वाली महिला अफसरों की टीम ने दी राष्ट्रपति को सलामी
10.26 AM:
कैप्टन दिव्या अजीत ने किया महिला अफसरों की टीम का नेतृत्व

10.05 AM: लेफ्टिनेंट सुब्रोतो मित्रा के नेतृत्व में राजपथ पर परेड शुरू
10.10 AM :
कुपवाड़ा में शहीद हुए नायक नीरज कुमार सिंह को भी मरणोपरांत अशोक चक्र
10.08 AM :
मेजर मुकुंद वर्द्धराजन को मरणोपरांत अशोक चक्र सम्मान

10.05 AM : राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने फहराया झंडा
10.00 AM :
राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी समारोह स्थल पहुंचे

10.01 AM : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने किया स्वागत
10.02 AM :
अब ध्वजा रोहण की तैयारी
9.54 AM :
उप राष्ट्रपति हामिद अंसारी समारोह स्थल पर पहुंचे
9.52 AM :
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर समारोह स्थल पर पहुंचे
9.48 AM :
राष्ट्रपति भवन से समारोह स्थल के लिए रवाना हुए प्रणब मुखर्जी
9.42 AM :
पीएम नरेंद्र मोदी ने अमर जवान ज्योति पहुंचकर किया शहीदों को नमन
9.34 AM : रक्षा मंत्री मनोहर पार्रिकर और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी पहुंचे.
9.34 AM : तीनों सेना प्रमुख इंडिया गेट पर अमर जवान ज्योति पहुंचे
9.35 AM : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, रक्षा मंत्री मनोहर पार्रिकर भी जल्द देंगे सौनिकों को श्रद्धांजलि
9.07 AM : चीन ने भारत को गणतंत्र दिवस की बधाई दी
9.05 AM : खराब मौसम के कारण एयरफोर्स फ्लाई पास्ट पर मंडराया खतरा
9.00 AM : बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने दिल्ली के पार्टी कार्यालय में झंडा फहराया
7.52 AM : किरण बेदी ने भी देश को बधाई देते हुए टि्वटर पर लिखा, 'मुझे उम्मीद है कि दिल्ली के लोग साथ आएंगे, जिससे राजधानी को गुड गवर्नेंस मिलेगी और नेगेटिविटी दूर होगी
7.22 AM : अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट कर देश को गणतंत्र दिवस की बधाई दी

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay