एडवांस्ड सर्च

समुद्री रास्ते से भारत में घुसने की साजिश, हमले की फिराक में जैश के 50 आतंकी

बीएसएफ से जुड़े हुए सुत्रों के मुताबिक 50 आतंकी भारत में हमला करने की फिराक में है. जैश के यह आतंकी समुद्री रास्ते से भारत में घुसपैठ कर अपने नापाक मंसूबों को अंजाम देने की तैयारी कर रहे हैं.

Advertisement
aajtak.in
जितेंद्र बहादुर सिंह नई दिल्ली, 09 September 2019
समुद्री रास्ते से भारत में घुसने की साजिश, हमले की फिराक में जैश के 50 आतंकी प्रतीकात्मक तस्वीर

  • सूत्रों का दावा, जैश के आतंकियों को दी जा रही डीप सी डाइविंग की ट्रेनिंग
  • कैसे करें समुद्र में तैनात सुरक्षाकर्मियों पर हमला, यह भी बताया जा रहा

जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद से ही पाकिस्तान और उसकी जमीन से संचालित हो रहे आतंकवादी संगठन बौखलाए हुए हैं. भारत को लगातार हमले की चेतावनी देते रहे पाकिस्तान के तेवर अब नरम पड़े हैं तो आतंकी संगठन बड़ी साजिश में जुट गए हैं.

भारत और पाकिस्तान की सरहद की हिफाजत में तैनात सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) के अनुसार आतंकवादी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के आतंकी देश में किसी बड़े हमले को अंजाम देने की फिराक में हैं.

बीएसएफ से जुड़े हुए सुत्रों के मुताबिक 50 आतंकी भारत में हमला करने की फिराक में है. जैश के यह आतंकी समुद्री रास्ते से भारत में घुसपैठ कर अपने नापाक मंसूबों को अंजाम देने की तैयारी कर रहे हैं.

बीएसएफ सूत्रों की मानें तो अब आतंकी संगठन जमीन की बजाय समुद्री रास्ते से भारत में दाखिल कराने की रणनीति पर कार्य कर रहे हैं. जैश के आतंकियों के एक ग्रुप को पाकिस्तान में डीप सी डाइविंग की ट्रेनिंग दी जा रही है.

समुद्र में सुरक्षाकर्मियों पर हमले की दी जा रही ट्रेनिंग

सूत्रों की मानें तो डीप सी डाइविंग की ट्रेनिंग ले रहे आतंकवादियों को यह ट्रेनिंग भी दी जा रही है कि समुद्र में तैनात सुरक्षा बलों के जवानों पर कैसे हमला करें. सूत्रों के मुताबिक बीएसएफ की इस रिपोर्ट को दक्षिणी कमांड को भेज दिया गया है. सेना अलर्ट पर है.

सर क्रीक इलाके में भी मिली नाव

बीएसएफ की रिपोर्ट के बीच भारतीय सेना ने भी सर क्रीक इलाके में नाव पाए जाने की जानकारी देते हुए देश के दक्षिणी हिस्से में आतंकवादी हमले की आशंका जताई थी. भारतीय सेना की ओर से लेफ्टिनेंट जनरल सैनी ने आतंकवादियों की तलाश के लिए अभियान शुरू कर देने की भी जानकारी दी थी.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay