एडवांस्ड सर्च

दिल्ली गैंगरेप केस: एक और आरोपी ने किया नाबालिग होने का दावा

दिल्ली गैंगरेप केस में एक और आरोपी विनय  शर्मा ने दावा किया है कि वो नाबालिग है. वकील के ज़रिए याचिका दायर कर उसने कहा है कि उसकी उम्र 18 साल से कम है.

Advertisement
आजतक ब्‍यूरोनई दिल्‍ली, 22 January 2013
दिल्ली गैंगरेप केस: एक और आरोपी ने किया नाबालिग होने का दावा

दिल्ली गैंगरेप केस में एक और आरोपी विनय शर्मा ने दावा किया है कि वो नाबालिग है. वकील के ज़रिए याचिका दायर कर उसने कहा है कि उसकी उम्र 18 साल से कम है.

विनय असिस्टेंट जिम इंस्ट्रक्टर है. उसने बोन ओसिफिकेशन टेस्ट के लिए याचिका दी है, ताकि उसकी सही उम्र साबित हो सके. पुलिस ने विनय शर्मा की उम्र 20 साल दर्ज की है. एपी सिंह इस मामले में विनय शर्मा के आलावा एक और आरोपी अक्षय ठाकुर के भी वकील हैं.

उन्होंने कहा कि इसके पहले आरोपी विनय शर्मा ने पुलिस के दबाव में बयान दिया था और उस वक्त इसके पास कोई वकील भी नहीं था. विनय शर्मा की जन्मतिथि स्कूल सर्टिफिकेट में मार्च 1994 दर्ज है. इस उम्र को आरोपी की मां ने गलत बताया है. आरोपी की मां ने कहा कि स्कूल वालों ने खुद से ही इस उम्र को लिखा था.

आरोपी के वकील एपी सिंह ने कहा कि एक साल बढ़ाकर उसकी उम्र स्कूल सर्टिफिकेट में लिखी गई. एपी सिंह ने कहा कि विनय शर्मा की वास्तविक जन्म तिथि 1 मार्च 1995 है. गैंग रेप के आरोप के बाद उसकी उम्र 18 साल से कम हो रही है. इसलिए कोर्ट से आग्रह किया है कि उम्र फिर चेक करने के लिए 'बोन डेंसिटी' जांच करवाई जाए.

कोर्ट इस मसले पर अगली सुनवाई में फैसला सुनाएगा. यदि आरोपी की उम्र 18 साल से कम होती है तो इस पर जूवेनाइल एक्ट के तहत कार्रवाई होगी.

उधर सुप्रीम कोर्ट ने दिल्ली गैंगरेप की सुनवाई दिल्ली से बाहर कराने की अर्जी पर सुनवाई बुधवार तक के लिए टाल दी है. आरोपियों के वकीलों को लेकर हुई खींचतान के बाद सुप्रीम कोर्ट ने सुनवाई एक दिन के लिए टाल दी है. गैंगरेप के एक आरोपी राम सिंह ने कोर्ट में अर्जी लगाई है, जिसमें कहा गया है कि दिल्ली में मीडिया, नेता और प्रदर्शनकारियों के दबाव की वजह से न्यायिक प्रक्रिया बाधित हो सकती है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay