एडवांस्ड सर्च

सफाईगीरी अवॉर्ड्सः राष्ट्रपति बोले- सफाई अभियान का लक्ष्य 11 साल पहले हासिल किया

aajtak.in अक्टूबर 3, 2019
अपडेटेड 7:30 IST

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के 'स्वच्छ भारत मिशन' की पहल को बढ़ावा देने के लिए देश के सबसे बड़े मीडिया समूह में से एक इंडिया टुडे ग्रुप ने 2015 में सफाईगीरी अवॉर्ड्स की शुरुआत की थी. इसी कड़ी में आज सफाईगीरी अवॉर्ड्स के 5वें संस्करण का आयोजन हुआ. इस मौके पर मुख्य अतिथि राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने अपने संबोधन में कहा कि भारत ने सस्टेनेबल गोल में शामिल सफाई अभियान को 11 साल पहले प्राप्त कर लिया, जबकि ये लक्ष्य 2030 में हासिल करना था.

Check Latest Updates
Advertisement
राष्ट्रपति बोले- सफाई का लक्ष्य 11 साल पहले हासिल कियाSafaigiri Awards-2019

हाइलाइट्स

  • राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने सचिन को किया सम्मानित
  • कला, राजनीति, खेल जैसे क्षेत्र के कई दिग्गज हुए शामिल
  • इंडिया टुडे ग्रुप ने 2015 में सफाईगीरी अवार्ड्स की शुरुआत की थी
  • 18:38 ISTPosted by Tirupati Srivastava

    राष्ट्रपति ने सचिन को किया सम्मानित

    राष्ट्रपति ने कहा कि कुंभ के दौरान स्वच्छता को देखकर काफी अच्छा लगा था. स्वच्छता अभियान के ब्रांड एंबेस्डर सचिन तेंदुलकर अपना प्रयास जारी रखें. हम सबको मिलकर ओडीएफ के लक्ष्य को प्राप्त करना है. हमें एक सामूहिक सोच को आगे बढ़ाना है. इस मौके पर स्वच्छता एंबेस्डर सचिन तेंदुलकर को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने सफाईगीरी अवॉर्ड्स से सम्मानित किया.

  • 18:33 ISTPosted by Tirupati Srivastava

    11 साल पहले लक्ष्य प्राप्त किया

    राष्ट्रपति ने कहा कि गांधी जी आंतरिक और बाहरी स्वच्छता को महत्व देते थे. जनता के सहयोग के बिना आदत नहीं बदल सकते हैं. भारत के स्वच्छता अभियान से कई अनेक देश प्रेरित हुए हैं. आज भारत ने सस्टेनेबल गोल में शामिल सफाई अभियान को 11 साल पहले पूरा कर लिया है. जबकि लक्ष्य 2030 था. सभी सफाईकर्मियों की सुरक्षा भी जरूरी है. यह सरकार और हम सबकी जिम्मेदारी है कि इनकी सुरक्षा का ख्याल रखें.

  • 18:29 ISTPosted by Tirupati Srivastava

    सफाईगीरी अवॉर्ड्स कार्यक्रम में पहुंचे राष्ट्रपति

    राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद कार्यक्रम में पहुंच चुके हैं. उनका संबोधन शुरू हो चुका है. राष्ट्रपति ने कहा कि 2014 की गांधी जंयती से आज तक सफाई के आंदोलन ने बड़ा रूप लिया. आपके मीडिया संस्थान ने सक्रियता से भाग लिया इसलिए मैं अरुण पुरी और इंडिया टुडे को बधाई देता हूं.

  • 18:01 ISTPosted by Tirupati Srivastava

    वाटर लिट्रेसी फाउंडेशन को मिला अवार्ड

    गंगा एक्शन परिवार के फाउंडर स्वामी चिदानंद, डिवाइन शक्ति फाउंडेशन की साध्वी भागवती और राजेंद्र सिंह ने जल समस्या और सुधार पर अपनी राय रखी. इस मौके पर  Water Warrior Award वाटर लिट्रेसी फाउंडेशन को मिला. अयप्पा मसागी को ये अवार्ड देकर सम्मानित किया गया.

  • 17:41 ISTPosted by Tirupati Srivastava

    Cauvery Calling अभियान

    चेन्नई और कर्नाटक में जल सकंट एक गंभीर समस्या है. इसीलिए सद्गुरु Cauvery Calling अभियान चला रहे हैं. इसके तहत कावेरी के आस-पास की कृषि-भूमि पर अनाज और नकदी फसलों के अलावा पेड़-पौधे भी लगाने पर जोर दिया जा रहा है. ईशा फाउंडेशन की ओर से 242 करोड़ पेड़ निजी कृषि भूमि पर लगाए जाने के दिशा काम जारी है. इस मौके पर Toilet Titan Award स्वदेश फाउंडेशन को दिया गया. फाउंडेशन की रानी को ये पुरस्कार देकर सम्मानित किया गया.

  • 17:26 ISTPosted by Tirupati Srivastava

    मंच पर पहुंचे सद्गुरु

    ईशा फाउंडेशन के फाउंडर सद्गुरु इंडिया टुडे के सफाईगीरी 2019 कार्यक्रम के मंच पर पहुंच चुके हैं. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के स्वच्छ भारत मिशन के पहल पर सद्गुरु अपनी राय रख रहे हैं.

  • 17:08 ISTPosted by Tirupati Srivastava

    गली से गांव की यात्रा हैः स्वामी सरस्वती

    केंद्रीय मंत्री ने कहा कि 2024 तक भारत 5 ट्रिलियन अर्थव्यवस्था के साथ सबसे साफ-सुथरा देश बनेगा. Best Institution for Sanitation Skill Award स्वामी चिदानंद सरस्वती और साध्वी भागवत को मिला है. स्वामी सरस्वती ने कहा कि 5 साल में बहुत बदलाव आया है. पढ़े लिखे लोग कचरा करे और अनपढ़ साफ करे, ऐसे कभी बदलाव नहीं आएगा. गली से गांव की यात्रा है, मोहल्ले से मुल्क की यात्रा है.

  • 16:46 ISTPosted by Tirupati Srivastava

    ओडीएफ को लेकर लोगों में आई अवेयरनेसः हरदीप पुरी

    सफाईगीरी 2019 कार्यक्रम में केंद्रीय मंत्री हरदीप पुरी ने कहा कि जब प्रधानमंत्री 15 अगस्त को देश को संबोधित कर रहे थे तो उन्होंने कहा था खुल में शौच मुक्त भारत बनाना है. 5 साल में 68 लाख टायलेट बने हैं और 5 लाख पब्लिक टायेलट से ज्यादा बनाए गए है, लेकिन सबसे अच्छी बात यह है कि लोग अवेयर हुए हैं और इस पर सोच रहे हैं. केंद्रीय मंत्री ने कहा कि जबरदस्ती किसी इलाके को शौच मुक्त का स्टेटस नहीं दिया जा सकता है. कुछ लोग ऐसा करते हैं जो कि सही नहीं है.

  • 16:23 ISTPosted by Tirupati Srivastava

    Cleanest Religious Place Award शिरडी मंदिर को

    इस मौके पर Cleanest Religious Place Award शिरडी मंदिर को मिला है. ये अवार्ड चेयरमैन सुरेश हवारे को देकर सम्मानित किया गया.  सुरेश हवारे न्यूक्लियर साइंटिस्ट रह चुके हैं. इस मंदिर में करीब 3.50 टन फूल रोज चढ़ाया जाता है. अब इन फूलों से अगरबत्ती बनाया जाता है. वहीं, community mobilizer award डॉक्टर कमलकर को देकर सम्मानित किया गया.

  • 15:44 ISTPosted by Tirupati Srivastava

    संदीप को मिला गारबेज गुरु अवॉर्ड

    सिंगर कैलाश खेर भी मंच पर पहुंच चुके हैं. सलमान अली ने उन्हें अपना गुरु बताया. वहीं, कैलाश खेरा ने कहा कि ये गजब गाते हैं और गजब गाएंगे. इस दौरान गारबेज गुरु का अवॉर्ड संदीप को मिला है. नेफ्रा मैनेजमेंट के फाउंडर संदीप ने कहा कि वह 13 साल से गारबेज का काम कर रहे हैं. नेफ्रा मैनजमेंट की टीम 2.5 लाख मीट्रिक टन कूड़ा सालाना रिसाइकिल करती है. उन्होंने कहा कि 2014 के बाद से लोग सूखे और गीले कूड़े में अंतर समझने लगे हैं.

  • 15:26 ISTPosted by Tirupati Srivastava

    सलमान अली का संदेश- साफ रहो, खुश रहो

    सिंगर सलमान अली मंच पर पहुंच चुके हैं. उन्होंने कहा कि मैं दिल से गाता हूं और दिल तक जाता हूं. सफाई को लेकर सलमान ने कहा कि अब बहुत बदलाव आ चुका है. पहले से हरियाणा में बहुत कुछ बदल चुका है. पहले गांव (मेवात, हरियाणा) में हम लोग खेतों में जाते थे. अब ऐसा गांव में नहीं रह गया है. मेरा बस सफाई को लेकर यही संदेश है कि साफ रहो, खुश रहो.

  • 15:13 ISTPosted by Tirupati Srivastava

    साफ शहर का अवॉर्ड सूरत को मिला

    डॉक्टर अरविंद कुमार ने कहा कि साफ हवा पर सबका हक है. एयर पलूशन बॉडी के हर पार्ट को प्रभावित करता है. लंग्स के जरिए बाकी पार्ट भी डैमेज होने लगते हैं. ऐसे में पलूशन को लेकर काम करने की जरूरत है. पलूशन को लेकर जब तक क्लीन एयर के लिए आम आदमी नहीं लड़ेगा तब तक समाधान नहीं होगा. सरकार के साथ आम आदमी की भी जिम्मेदारी है. वहीं, दुनू ने कहा कि सारा मामला राजनीति से जुड़ा है. ऑड-ईवन से 5 पर्सेंट पलूशन घटा था. अगर सारी गाड़ियां हट जाती तो 14 पर्सेंट घट जाता. ये सिर्फ आंकड़ों का खेल है. राजीव खंडेलवाल ने कहा कि एयर पलूशन को मार्केट पर छोड़ा गया है. अगर आपको इससे निपटना तो खुद लड़ना होगा. इस मौके पर साफ शहर का अवॉर्ड टीम सूरत को मिला है.

  • 14:50 ISTPosted by Tirupati Srivastava

    Beat Air Pollution पर चर्चा शुरू

    Beat Air Pollution पर चर्चा के लिए डॉक्टर अरविंद कुमार, संस्थापक और मैनेजिंग ट्रस्टी, लंग केयर फाउंडेशन, दुनू रॉय डॉयरेक्टर हाजार्ड्स सेंटर, राजीव खंडेलवाल सह-संस्थापक और कार्यकारी निर्देशक, अजीविका ब्यूरो मंच पर पहुंच चुके हैं.

  • 14:48 ISTPosted by Tirupati Srivastava

    विनीता मोहन को मिला नदी स्वच्छता पुरस्कार

    इस मौके पर नदी स्वच्छता पुरस्कार विनीता मोहन को दिया गया. पानी बचाने के लिए विनीत मोहन के लिए ये अवार्ड दिया गया. उन्होंने कहा कि पानी का संकट गहराता जा रहा है. महाराष्ट्र के लातूर की बात हो या साउथ अफ्रीका के केप्टाउन की. पानी के संकट को कम करने के लिए हमें उसे बचाना सीखना होगा. पर्यावरण के लिहाज से हमें अधिक से अधिक पेड़ लगाने और उसके केयर की जरूरत है.

  • 14:27 ISTPosted by Tirupati Srivastava

    सिंगर शिल्पा राव मंच पर पहुंचीं

    सिंगर शिल्पा राव सफाईगीरी के मंच पर पहुंच चुकी हैं. थोड़ी देर में नदी स्वच्छता पुरस्कार विजेताओं को सम्मानित किया जाएगा. जमशेदपुर की रहने वाली शिल्पा राव ने कहा कि लाइफ में संघर्ष से आदमी बहुत कुछ सीखता है. मुंबई में मैं अकेले रह रही थी तब मैंने काफी कुछ सीखा.

  • 13:40 ISTPosted by Tirupati Srivastava

    जोधपुर स्टेशन सबसे साफ

    Cleanest Railway Station Award का अवार्ड जोधपुर रेलवे स्टेशन को मिला है. डीआरएम गौतम अरोड़ा को ये अवार्ड देकर सम्मानित किया गया. गौतम अरोड़ा ने बताया कि 2016 में हम 187 रैंक पर थे. 2017 में 17 पर और 2019 में टॉप पर हैं. हमारी कोशिश रहती है कि हम सबको साफ-स्वच्छ रेलवे स्टेशन दे सके. उन्होंने कहा कि सुबह की शिफ्ट में 65 लोग काम करते हैं. इस वक्त काफी रस रहता है. 150 लोगों की टीम इसमें जुटी रहती है. 

  • 13:29 ISTPosted by Tirupati Srivastava

    कौन हैं आदित्य प्रतीक सिंह सिसौदिया

    बादशाह का असली नाम आदित्य प्रतीक सिंह सिसौदिया है. बादशाह ने कहा कि मैं शाहरुख खान का बहुत बड़ा फैन हूं. बादशाह फिल्म आने के बाद मैंने अपना नाम बादशाह रखा था. मेरे नाम इतना लंबा है कि मैं गाने में उसे ही बताते रह जाता. बादशाह ने सफाई को लेकर कहा कि गुटखा खाकर थूकने वालों के लिए जगह बनानी चाहिए. बादशाह ने बताया कि सिविल इंजीनियरिंग के दौरान ही तय था कि मुझे सिंगर बनना है. मैं वही गाने की कोशिश करता हूं जो जनता सुनना चाहती है. हम भी परिवार वाले हैं. मैं किसी को हर्ट नहीं करना चाहता हूं. यूथ को लेकर रैप करता हूं. बादशाह ने बताया कि ऑन स्टेज शो करना अच्छा लगता है.  बता दें कि एक दिन में बादशाह के एक गाने को 175 मिलियन लोगों ने सुना था. डीजे वाले बाबू गाना उन्होंंने 20 मिनट में बनाया था.

  • 13:12 ISTPosted by Tirupati Srivastava

    सांसद बनने के बाद से मैं अपना टायलेट खुद साफ करता हूंः मनोज तिवारी

    विल्सन ने कहा कि हमारे पास सीवर की सफाई के लिए मशीन का अभाव है. विदेशों में मशीनों से सफाई होती है तो अपने देश में क्यों नहीं?  इस काम के लिए एक जाति को ही उतारना बिल्कुल जायज नहीं है. मनोज तिवारी ने कहा जब से मैं सांसद बना हूं तब से मैं अपना टायलेट खुद साफ कर रहा हूं. एक दिन मैं और संबित पात्रा पब्लिक टायलेट भी साफ करने गए थे. इस दौरान Beat Manual Scavenging अवार्ड हिमाचल प्रदेश के सोलन के बलदेव सिंह ठाकुर को दिया गया. बलदेव सिंह ने कहा कि 2006 में मेरा गांव (नौनी) ओडीएफ बन गया था. इसके बाद 2017 राष्ट्रपति की ओर से पुरस्कार मिला था. बलदेव सिंह ने कहा कि मैं राजपूत समाज से हूं, लेकिन मैं अपने गांव का सार्वजनिक शौचालय खुद साफ करता हूं.

  • 12:53 ISTPosted by Tirupati Srivastava

    हाथ से मैला ढोने पर चर्चा शुरू

    आज देश बापू की 150वीं जयंती मना रहा है. हाथ से मैला ढोने की समस्या पर चर्चा को लेकर बेजवाड़ा विल्सन, संगीत और बीजेपी सांसद मनोज तिवारी मंच पर पहुंच चुके हैं. बेजवाड़ा ने कहा कि हाथ से मैला ढोने की समस्या नहीं खत्म हो रही है. मध्य प्रदेश में शौच करने पर बच्चे को मार दिया जाता है. ये पावर उनको किसने दिया है. किसी को मारना गलत है. संगीता ने कहा हाथ से मैला उठाना अवमानना का काम है. जो लोग ऐसा करते हुए मरते हैं उन्हें कोई भी याद करने वाला नहीं है. मनोज तिवारी ने कहा कि ये हमारे लिए शर्म की बात है, लेकिन इसके खिलाफ मुहिम छेड़ी गई है. इस समस्या का निदान गंभीरता से होना चाहिए. हमें चांद पर भी जाना है और इस मुद्दे पर भी गंभीरता से काम करना है.

  • 12:36 ISTPosted by Tirupati Srivastava

    Tech Icon Award डॉक्टर विनोद तारे को मिला

    Tech Icon Award आईआईटी कानपुर के डॉक्टर विनोद तारे को दिया गया है. उनकी जगह ये अवार्ड आईआईटी कानपुर के डॉक्टर तिवारी ने ग्रहण किया. उन्होंने बताया कि आईआईटी कानपुर में सफाई को लेकर कई प्रोजेक्ट पर काम चल रहे हैं. कुंभ में बहुत से प्रयोग किए गए थे. त्रियांस टायलेट हमने कुंभ के लिए दिया था. इस टायलेट की काफी चर्चा हुई थी और कई रिपोर्ट भी तैयार की गई थी. कुंभ में करोड़ों लोग आए थे. वहां पाइपलाइन लगाना संभव नहीं था, लेकिन ये टायलेट काफी कारगर साबित हुआ था.

  • 12:26 ISTPosted by Tirupati Srivastava

    गले की सफाई से लेकर हर चीज की सफाई करनी होगीः सिंगर शाहिद माल्या

    एक कुड़ी, जिदा नाम मोहब्बत...सॉन्ग फेम शाहिद माल्या ने अपने इसी गाने से इंडिया टुडे सफाईगिरी समिट एंड अवॉर्ड्स में टेक आइकन अवॉर्ड की शुरुआत की. उन्होंने कहा कि जब तक गायक गले की सफाई नहीं करता तब तक वो बड़ा गायक नहीं बन सकता. मैंने कई साल सफाई की तब जाकर फिल्मों में काम मिला. शाहिद माल्या ने सफाईगिरी मुहिम पर कहा कि पहले खुद को साफ रखो, फिर घर को. इससे पूरा मोहल्ला साफ हो जाएगा. मैं कोई टिश्यू पेपर और प्लास्टिक रैप नहीं फेंकता. ट्रेन में गंदगी फैलाते हैं लोग. मूंगफली और संतरे के छिलके फेंकते थे. लेकिन अब ऐसा नहीं होता. लोगों में बदलाव हो रहा है. ये अच्छी बात है. इसे जारी रखना होगा.पहले गानों में बहुत ज्यादा इंस्ट्रूमेंट नहीं होता था. लेकिन अब होते हैं. कई बार तो सिंगर की आवाज दब जाती है.

  • 12:12 ISTPosted by Tirupati Srivastava

    हिंदुस्तान यूनिलीवर लिमिटेड को मिला अवॉर्ड

    Corporate Trailblazer Award हिंदुस्तान यूनिलीवर लिमिटेड को दिया गया है. हिंदुस्तान यूनिलीवर एग्जिक्यूटिव डायरेक्टर प्रिया नायर ने कहा कि हम बुनियादी प्रोडेक्ट्स बनाते हैं. हम चाहते हैं कि हर कोई आराम से बुनियादी जरूरत के साथ रहे. हम स्कूल, गांव में जाकर लोगों को अवेयर कर रहे हैं. अगर हम सरल आदत सीखा सकें तो भारत सबसे स्वच्छ हो जाएगा.

  • 11:54 ISTPosted by Tirupati Srivastava

    पटना की हालत देखकर कई रातें नींद नहीं आईंः उदित नारायण

    उदित नारायण ने कहा कि मैं जहां पैदा हुआ हूं वो सुपौल जिले का गांव है. इसे बहुत कम लोग मेंशन करते हैं. क्योंकि मैं काठमांडू से करियर की शुरुआत की थी. इसलिए उसी का ज्यादा जिक्र होता है. मेरे गांव में 72 साल बाद बिजली आई है. उदित ने बताया कि करियर के शुरुआत में वो 5 स्टार होटलों में गाना गया करते थे, लेकिन 1988 में उन्हें कमायत से कमायत में ब्रेक मिल ही गया. सफाई को लेकर उदित ने कहा कि गांव का रहना वाला हूं. 40 साल से मुंबई में रह रहा हूं और इतने साल से सफाईगीरी के साथ रह रहा हूं. पटना की हालत देखकर कई रातें नींद नहीं आईं. इंसान जहां रहता है, उसके दुख-तकलीफ को समझना चाहिए.

  • 11:43 ISTPosted by Tirupati Srivastava

    उदित नारायण ने साझा किया मंच

    सफाईगीरी 2019 के मंच पर गायक उदित नारायण पहुंच चुके हैं. उदित नारायण कॉरपोरेट ट्रेलब्लेजर अवॉर्ड विजेताओं को सम्मानित करेंगे.

  • 11:18 ISTPosted by Tirupati Srivastava

    दिल्ली साउथ एमसीडी को मिला अवॉर्ड

    Best Waste Wealth Creators का अवॉर्ड साउथ एमसीडी दिल्ली को दिया गया है. 

  • 11:18 ISTPosted by Tirupati Srivastava

    पोलियो-आयोडिन की तरह मुहिम चलाना होगाः गुल पनाग

    सिंगल यूज प्लास्टिक पर बैन पर चर्चा जारी है. गुल पनाग ने कहा कि मैंने ये 5 साल पहले शुरू कर दिया था. हम सबको अपने कंफर्ट जोन से बाहर आना होगा. इलेक्ट्रिक गाड़ी के पक्ष मैं हमेशा रही हूं. अभी इलेक्ट्रिक व्हीकल का विस्तार नहीं हुआ है. बड़े लोग कंफर्ट जोन में आ चुके हैं, लेकिन बच्चों को जरूरत है. सिंगल यूज प्लास्टिक के लिए अवेयरनेस की जरूरत है. आयोडिन के लिए जैसे जागरूकता लाई गई थी वैसे प्लास्टिक को लेकर भी करना चाहिए. बड़े कैंपेन की जरूरत है, जैसे पोलियो को लेकर चलाया गया है. आज 20 से 25 साल बाद उसका रिजल्ट हमें मिल रहा है. वहीं, मानिक थापर और सहर मंसूर ने कहा कि अवेयरनेस के बिना ये संभव नहीं है. इसके लिए सभी को आगे आना होगा और सिंगल यूज प्लास्टिक को छोड़ना होगा.

  • 11:06 ISTPosted by Tirupati Srivastava

    Beat Plastic Pollution पर चर्चा शुरू

    मानिक थापर (ईको वाइज वेस्ट मैनेजमेंट, संस्थापक और सीईओ), सहर मंसूर (संस्थापक और सीईओ Bare Necessities) सफाईगीरी पर चर्चा कर रहे हैं.

  • 11:03 ISTPosted by Tirupati Srivastava

    पालघर के स्कूल को मिला अवॉर्ड

    पालघर के एक स्कूल को Cleanest School District Award मिला है. इस स्कूल में टीचरों ने गाने के जरिए साफ-सफाई की अनूठी पहल की है. 99 फीसदी स्कूलों में स्वच्छ पीने का पानी पालघर में मिल रहा है.

  • 10:59 ISTPosted by Tirupati Srivastava

    बॉलीवुड में मैं ही देश भक्त हूं

    हमारी फिल्म इंडस्ट्री को पाकिस्तान की तरह होना चाहिए. इंडिया का खाते हैं और पाकिस्तान में भारत के खिलाफ हो जाते हैं. मैंने आज तक किसी पाकिस्तानी कलाकर नाम नहीं लिया हूं. एक उभरते सिंगर का गाना सलमान खान ने पाकिस्तानी से डब करा दिया. सोनी निगम को फतवा जारी किया गया. उनके साथ सिर्फ मैं ही खड़ा रहा. अभिजीत ने कहा कि मेरा गाना कोई पाकिस्तानी से डब करके दिखाए. बालीवुड में मैं ही देश भक्त हूं. आज तक फिल्म इंडस्ट्री में किसी ने पाकिस्तान के खिलाफ आवाजा नहीं उठाई है. सबने आतंकवाद के खिलाफ आवाज उठाई है. एक डिप्लोमेट की तरह हमारी फिल्म इंडस्ट्री रही है.

  • 10:38 ISTPosted by Tirupati Srivastava

    सफाईगीरी अवार्ड्स-2019 के मंच पर पहुंचे अभिजीत

    इंडिया टुडे के मंच पर सिंगर अभिजीत भट्टाचार्य पहुंच चुके हैं. सफाईगीरी की बात लोगों के बीच कैसे पहुंचे इस पर अपनी राय रख रहे हैं. उन्होंने कहा कि सफाइगीरी एक मैनटेल्टी है. जहां हम रहते हैं वहां की नहीं सोचते हैं, केवल अपने घर की सोचते हैं. मुझे लगता है घर में घुसने से पहले बाहर की सफाई जरूरी है. अभी देश में सबसे बड़ी सफाई धारा 370 की हुई है. मुझे ऐसा लगता है टैक्सपेयर बड़ा मुद्दा है. मैं टेक्सपेयर हूं. इसके लिए मुझे मुंबई में भूखा भी रहना पड़ा. मैं चाहता हूं कि सबको टेक्स देना चाहिए.

  • 10:30 ISTPosted by Tirupati Srivastava

    दिवाकर शर्मा ने वैष्णव जन से की शुरुआत

    गांधी जयंती पर इंडिया टुडे का सफाईगीरी अवार्ड्स 2019 कार्यक्रम शुरू हो चुका है. वैष्णव जन पर राइजिंग स्टार दिवाकर शर्मा प्रस्तुति दे रहे हैं. आज शाम राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद कार्यक्रम में शिरकत करेंगे.

  • 10:12 ISTPosted by Tirupati Srivastava

    इंडिया टुडे के मंच पर आज जुटेंगे ये दिग्गज

    कार्यक्रम में दिग्गज क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर, आध्यात्मिक गुरु सद्गुरु, गायक बादशाह, कैलाश खेर, अभिजीत भट्टाचार्य, उदित नारायण और सलमान अली जैसी हस्तियों के साथ बातचीत भी होगी.

  • 10:11 ISTPosted by Tirupati Srivastava

    स्वच्छता को लेकर एक-दूसरे से प्रतिस्पर्धा

    ये एक ऐसा मंच है जहां सफाई के दूतों को सम्मानित किया जाता है. उन व्यक्तियों, संगठनों और संस्थाओं को पुरस्कृत किया जाता है जो स्वच्छ भारत की दिशा में काम कर रहे हैं और इस दिशा में महत्वपूर्ण योगदान दिया है. पिछले 4 वर्षों में इंडिया टुडे सफाईगीरी अवार्ड्स ने एक ऐसा वातावरण तैयार किया जहां लोग, संगठन स्वच्छता को लेकर एक-दूसरे से प्रतिस्पर्धा करने लगे हैं.

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay