एडवांस्ड सर्च

कश्मीर में आज बड़ा इम्तिहान, बकरीद के लिए जरूरी सामान घरों तक पहुंचाने में जुटा प्रशासन

aajtak.in अगस्त 12, 2019
अपडेटेड 7:13 IST

बकरीद 12 अगस्त को है. इससे पहले घाटी के माहौल पर सबकी नजरें हैं. आर्टिकल-370 हटाए जाने के बाद तनाव की स्थिति के कयास लगाए जा रहे थे, लेकिन अभी तक कोई अप्रिय घटना नहीं हुई है. जम्मू से जहां धारा-144 हटा ली गई वहीं, कश्मीर में कुछ जगहों पर ढील दी गई है. बकरीद को देखते सरकार ने अहम कदम उठाए हैं. प्रशासन की ओर से घरों पर एलपीजी और सब्जियां भेजी जा रही हैं. छुट्टी के दिन घाटी में बैंक और करीब 3557 राशन की दुकानें खुली रहेंगी.

Check Latest Updates
Advertisement
कश्मीर में शांति के बीच आज बकरीद, सुरक्षाबलों का बड़ा इम्तिहानJammu and Kashmir

हाइलाइट्स

  • बकरीद आज, कश्मीर में सुरक्षा व्यवस्था टाइट
  • जम्मू से हटाई गई धारा-144, घाटी में भी ढील
  • राज्य में इंटरनेट सेवा रोक अभी भी जारी
  • 23:58 ISTPosted by Ram Krishna

    जम्मू-कश्मीर के ऊधमपुर में धारा 144 हटाने  के बाद बाजार में जबरदस्त रौनक देखने को मिली. इस दौरान काफी संख्या में लोग खरीददारी करने बाजार पहुंचे.


  • 21:56 ISTPosted by Ram Krishna

    J-K: राजौरी में ईद की नमाज के लिए दी गई ढील

    जम्मू-कश्मीर के राजौरी में ईद की नमाज के लिए ढील दी गई है. हालांकि धारा 144 नहीं हटाई गई है. कानून व्यवस्था के लिहाज से राजौरी बेहद संवेदनशील इलाका है. राजौरी के डीसी ने इस जानकारी की पुष्टि की है. आपको बदा दें कि राजौरी का इलाका जम्मू के सीमावर्ती इलाके में आता है.

  • 20:55 ISTPosted by Ram Krishna

    जम्मू-कश्मीर सरकार के प्रिंसिपल सेक्रेटरी और प्रवक्ता रोहित कंसल ने कहा कि रविवार को लोग खरीददारी के लिए घर से बाहर निकले. कुछ लोग श्रीनगर जाना चाहते हैं. हम ऐसे लोगों को श्रीनगर जाने की सुविधा उपलब्ध कराने की कोशिश कर रहे हैं. पाबंदी के बावजूद लोगों को छूट दी जा रही है. इस संबंध में पुलिस ने भी स्पष्ट किया है. मैं सभी को ईद की शुभकामनाएं देता हूं.

  • 20:19 ISTPosted by Ram Krishna

    रविवार को श्रीनगर के डीएम ने इमामों से मुलाकात की और ईद की नमाज अदा करने के स्थल का दौरा किया व व्यवस्था की निगरानी की.

  • 20:19 ISTPosted by Ram Krishna

    कश्मीर में हालात हो रहे सामान्य, बकरीद से पहले बाजार में दिखी रौनक

    धारा 144 लगने के सातवें दिन श्रीनगर की सड़कों पर ट्रैफिक की सामान्य आवाजाही दिखी. बकरीद से एक दिन पहले बाजारों में रौनक नजर आई. कश्मीर में धीरे-धीरे हालात सामान्य हो रहे हैं. इस दौरान पुलिस ने घाटी के अलग-अलग इलाकों का एरियल व्यू जारी किया. रविवार को आजतक से बातचीत में श्रीनगर के डीसी शाहिद चौधरी ने कहा कि हालात नियंत्रण में हैं. बकरीद शांति से गुजरने की उम्मीद है. हालात की समीक्षा के बाद एक-दो दिन में लैंडलाइन खुल सकती है. वहीं, कठुआ के भागथली गांव की मस्जिद में जम्मू कश्मीर में अमन शांति के लिए दुआएं की गई. इस दौरान लोगों ने तिरंगा लहराया. हालांकि जम्मू के बॉर्डर इलाके में धारा 144 जारी है, फोन और इंटरनेट भी बंद हैं, लेकिन लोग पाबंदी हटाने की मांग कर रहे हैं.

  • 19:33 ISTPosted by Ram Krishna

    कश्मीर के सीमावर्ती इलाकों में भी इंटरनेट और मोबाइल सेवाएं बंद हैं. इसके चलते लोगों का संपर्क नहीं हो  पा रहा है. साथ ही धारा 144 लगाई गई है. हालांकि बाजार खुल रहे हैं और लोग खरीददारी कर रहे हैं.

  • 15:25 ISTPosted by Tirupati Srivastava

    राज्यपाल ने दी ईद-उल-अजहा की बधाई

    राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने ईद-उल-अजहा के शुभ अवसर पर लोगों को शुभकामनाएं देते हुए उनकी सलामती और समृद्धि की कामना की है.

  • 14:38 ISTPosted by Tirupati Srivastava

    घाटी में पहले से ज्यादा शांति

    केंद्रीय मंत्री डॉक्टर जितेंद्र सिंह ने कहा कि धारा 370 हटने के बाद घाटी में पहले से ज्यादा शांति है. वहां के स्थानीय लोग इसका समर्थन कर रहे हैं. ईद से पहले यहां हालात सामान्य हैं. पहले ऐसे मौके पर ज्यादा तनाव रहता था.  


  • 14:17 ISTPosted by Tirupati Srivastava

    जम्मू और कश्मीर में फहराएंगे तिरंगा

    जम्मू-कश्मीर में अनुच्छेद 370 हटाने के केंद्र सरकार के फैसले को भारतीय जनता पार्टी पूरे जोर-शोर से मनाना चाहती है. इसी के चलते बीजेपी की प्रदेश इकाई ने हर पंचायत में तिरंगा फहराने के लिए सिल्क और खादी के 50 हजार खास झंडे दिल्ली से मंगवाए हैं और इसे कार्यकर्ताओं और पंचायतों को दिए जाएंगे. नए बने केंद्र शासित प्रदेश में 15 अगस्त के मौके पर चार हजार से ज्यादा पंचायतों में ये झंडे फहराए जाएंगे. इसके साथ ही सभी गांवों में रंगारंग कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे. स्वतंत्रता दिवस पर इतने बड़े पैमाने पर तिरंगा फहराने की योजना के मद्देनजर केंद्र सरकार ने जबरदस्त सुरक्षा के इंतजाम किए हैं, जिसकी निगरानी राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल और उनकी टीम कर रही है.

  • 13:46 ISTPosted by Tirupati Srivastava

    घाटी में माहौल ठीक, बकरीद पर खुली रहेंगी 3500 राशन की दुकानें

    बकरीद के मद्देनजर कश्मीर में प्रशासन मुस्तैद है. प्रशासन की ओर से एलपीजी और सब्जियां घरों में भेजी जा रही हैं. इसके अलावा जरूरी सामान भी मुहैया कराए जा रहे हैं. घाटी में छुट्टी के दिन बैंक खुले रहेंगे. साथ ही 3500 राशन की दुकानें खुली रहेंगी. इधर, पुलिस प्रशासन ने लोगों से किसी भी तरह की 'शरारती और भड़काऊ खबरों' पर विश्वास नहीं करने का आग्रह किया है. जम्मू एवं कश्मीर के पुलिस महानिदेशक दिलबाग सिंह ने एक वीडियो में कहा, 'पुलिस ने बीते छह दिनों में अब तक एक भी गोली नहीं चलाई है. लोगों को घाटी में गोलीबारी की घटनाओं से संबंधित किसी भी शरारती और भड़काऊ खबर पर विश्वास नहीं करना चाहिए.' दिलबाग सिंह ने यह भी बताया कि जम्मू के 10 जिलों से निषेधाज्ञा हटा दी गई है.

  • 13:22 ISTPosted by Tirupati Srivastava

    घाटी में छुट्टी के दिन खुले रहेंगे बैंक

    बकरीद के मद्देनजर कश्मीर में प्रशासन मुस्तैद है. घाटी में छुट्टी के दिन बैंक खुले रहेंगे. साथ ही 3500 राशन की दुकानें भी खुली रहेंगी.

  • 12:34 ISTPosted by Tirupati Srivastava

    देखें श्रीनगर में क्या है हलचल...

    श्रीनगर में हालात सामान्य दिख रहे हैं. बकरीद को लेकर लोग खरीदारी कर रहे हैं. यहां सुरक्षा के पुख्ता बंदोबस्त किए गए हैं. राज्य के डीजीपी ने जनता से अपील की है कि वे अफवाहों पर ध्यान ना दें.  


  • 12:24 ISTPosted by Tirupati Srivastava

    अमित शाह बोले-अनुच्छेद-370 बिल को लेकर मन में डर था

    गृहमंत्री अमित शाह ने कहा है कि जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद-370 को खत्म करने वाले बिल को पेश करने के दौरान उनके मन में डर था. चेन्नई में एक कार्यक्रम में अमित शाह ने कहा कि इस बिल को पेश करते वक्त उनके मन में आशंका थी कि जब वे इस बिल को राज्यसभा में पेश करेंगे तो राज्यसभा चलेगी कैसे? चेन्नई में राज्यसभा के सभापति वेंकैया नायडू की जिंदगी पर एक किताब 'Listening, Learning and Leading' का विमोचन करते हुए अमित शाह ने कहा, 'आंध्र के विभाजन का दृश्य आज भी देश की जनता के सामने है...मुझे मन में थोड़ा आशंका थी कि कहीं ऐसे दृश्य का हिस्सेदार मैं भी तो नहीं बनूंगा...यही भाव के साथ...यही डर के साथ मैं राज्यसभा में खड़ा हुआ...वेंकैया जी की कुशलता का ही परिणाम है कि सभी विपक्ष के मित्रों को सुनते सुनते इस बिल को डिवीजन तक कहीं भी कोई ऐसा दृश्य खड़ा नहीं हुआ जिसके कारण देश की जनता को ये लगे कि उच्च सदन की गरिमा नीचे आई है.' इससे पहले अमित शाह ने कहा कि राज्यसभा में हमारा पूर्ण बहुमत नहीं है, फिर भी मैंने तय किया था कि बिल पहले हम राज्यसभा में लेकर जाएंगे, उसके बाद लोकसभा में लेकर जाएंगे.

  • 12:17 ISTPosted by Tirupati Srivastava

    अमित शाह बोले- कश्मीर से अब आतंकवाद का खात्मा होगा

    गृहमंत्री अमित शाह ने कहा कि अनुच्छेद-370 हटने के बाद जम्मू-कश्मीर से अब आतंकवाद का खात्मा होगा. अब कश्मीर में विकास होगा. उन्होंने कहा कि अनुच्छेद 370 को बहुत पहले हटा देना चाहिए था, लेकिन नहीं हटाया गया.

  • 10:51 ISTPosted by Tirupati Srivastava

    भारत-पाक तनाव के बीच कराची में सिंगर मीका सिंह ने किया परफॉर्म

    भारत-पाकिस्तान के बीच इन दिनों तनाव काफी बढ़ गया है. भारत के बैन लगाने के बाद पाकिस्तान ने भी इंडियन आर्ट‍िस्ट पर बैन लगा दिया है. ऐसे में सिंगर मीका सिंह का कराची जाकर कंसर्ट करना चर्चा में बना हुआ है. पा‍किस्तानी सिंगर फाकिर महमूद ने सोशल मीडिया पर मीका का एक वीडियो शेयर करते हुए लिखा है, कश्मीर पूरी तरह से लॉकडाउन है. लेकिन एक इंड‍ियन सिंगर आता है, परफॉर्म करता है, पैसे कमाता है और चला जाता है जैसे कि कुछ हुआ ही नहीं. लेकिन धर्म और देशभक्ति तो सिर्फ गरीबों के लिए है.


  • 10:07 ISTPosted by Tirupati Srivastava

    जम्मू-कश्मीर के डीजीपी ने कहा- घाटी में हालात सामान्य

    जम्मू-कश्मीर के डीजीपी और मुख्य सचिव ने कहा है कि राज्य में हालात सामान्य है. लोग बकरीद की खरीदारी कर रहे हैं. उन्होंने लोगों से अपील की है कि वे अफवाहों पर ध्यान ना दें और गलत सूचना से बचें.

  • 08:21 ISTPosted by Tirupati Srivastava

    बाजार में रौनक


  • 08:13 ISTPosted by Tirupati Srivastava

    6 दिन में नहीं चली गोली

    कुछ अंतरराष्ट्रीय न्यूज एजेंसी ने दावा किया था कि जम्मू और कश्मीर में प्रतिबंधों में ढील दिए जाने के बाद श्रीनगर में 10 हजार लोग सड़कों पर उतर आए थे. इस सभी मीडिया रिपोर्ट्स का गृह मंत्रालय ने खंडन किया था. मंत्रालय ने इसे पूरी तरह गलत और मनगढ़ंत बताया था. अब जम्मू-कश्मीर पुलिस ने भी साफ कर दिया है कि राज्य में हालात पर काबू पाने के लिए पिछले 6 दिनों में गोली का इस्तेमाल नहीं किया गया है. जम्मू और कश्मीर में ईद को ध्यान में रखते हुए प्रतिबंधों में ढील दी गई जिसके बाद लोगों ने खरीदारी भी की.

  • 08:13 ISTPosted by Tirupati Srivastava

    लेह में धोनी फहरा सकते हैं तिरंगा

    पूर्व भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर लद्दाख के लेह में तिरंगा फहरा सकते हैं. भारतीय सेना में लेफ्टिनेंट कर्नल की उपाधि पा चुके धोनी इस समय टेरिटोरियल आर्मी के साथ जम्मू कश्मीर में ड्यूटी पर हैं. धोनी ने टेरिटोरियल आर्मी में काम करने के लिए क्रिकेट से दो महीने का आराम ले रखा है. उन्होंने 30 जुलाई को ड्यूटी संभाली थी और वे 15 अगस्त तक अपनी बटालियन के साथ लेह में रहेंगे. सेना के एक अधिकरी ने कहा, 'धोनी भारतीय सेना के ब्रांड एंबेसडर हैं. वह अपनी यूनिट के सदस्यों को प्रेरित करने में लगे हुए हैं. वह कोर के साथ अभ्यास भी कर रहे हैं.' हालांकि अधिकारी ने यह नहीं बताया कि धोनी 15 अगस्त को किस स्थान पर तिरंगा फहराएंगे. 

  • 08:10 ISTPosted by Tirupati Srivastava

    शांति से मनाई जाएगी बकरीद: राज्यपाल

    राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल के साथ मुकालात के इतर राज्य के राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने कहा, 'कश्मीर घाटी में शांति के साथ ईद मनाई जाएगी. मैं यहां कश्मीरी लोगों दी जा रही सुविधाओं की जांच कर रहा हूं. हम स्थिति को सामान्य बनाने की कोशिशों में लगे हैं, लेकिन यह दोनों तरफ (सरकार और सुरक्षा बल तथा लोग) से निर्भर करेगा.'

  • 08:08 ISTPosted by Tirupati Srivastava

    घाटी में सुरक्षा व्यवस्था टाइट

    घाटी में अमन-चैन के लिए बकरीद पर सुरक्षा व्यवस्था टाइट कर दी गई है. शोपियां, पुलवामा, अनंतनाग और सोपोर जैसे एरिया में सुरक्षा व्यवस्था के पुख्ता इंताजम किए गए हैं. इधर, जम्मू-कश्मीर पुलिस ने एक बयान जारी कर राज्य में पुलिस की ओर से फायरिंग की खबरों को बेबुनियाद और अफवाह करार दिया है. पुलिस ने कहा है कि पिछले 6 दिनों में पुलिस की ओर से एक भी गोली नही चलाई गई है

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay