एडवांस्ड सर्च

मोदी कैबिनेट का बड़ा फैसला, बनेंगे नए 75 मेडिकल कॉलेज

हिमांशु मिश्रा अगस्त 28, 2019
अपडेटेड 22:40 IST

नरेंद्र मोदी कैबिनेट ने स्वास्थ्य क्षेत्र के लिए बड़ा फैसला लिया है. केंद्र सरकार ने 24 हजार करोड़ की लागत से देश में 75 नए मेडिकल कॉलेज खोलने का ऐलान किया है. इसमें 15 हजार 700 डॉक्टरों की नियुक्ति की जाएगी.

Check Latest Updates
Advertisement
मोदी कैबिनेट का फैसला, बनेंगे नए 75 मेडिकल कॉलेज

हाइलाइट्स

  • देश में 75 नए मेडिकल कॉलेज खोले जाएंगे
  • चीनी निर्यात पर सब्सिडी की घोषणा
  • कोयला खनन में 100 फीसदी विदेशी निवेश को मंजूरी
  • 19:34 ISTPosted by Panna Lal

    दुनिया भर में FDI में गिरावट, भारत पर असर नहीं

    रेल मंत्री पीयूष गोयल ने कहा कि दुनिया भर में विदेशी निवेश में गिरावट देखने को मिली है. लेकिन भारत पर इसका असर ज्यादा नहीं हुआ है.

  • 19:29 ISTPosted by Panna Lal

  • 19:29 ISTPosted by Panna Lal

    डिजिटल मीडिया में 26 प्रतिशत विदेशी निवेश को मंजूरी

    केंद्र सरकार ने डिजिटल मीडिया में 26 प्रतिशत विदेशी निवेश को मंजूरी दे दी है. ये निवेश सरकार की स्वीकृति के बाद की जा सकेगी.

  • 19:21 ISTPosted by Panna Lal

    5 सालों में 286 बिलियन डॉलर FDI

    मोदी सरकार के कैबिनेट के फैसलों की जानकारी देते हुए रेल मंत्री पीयूष गोयल ने कहा कि 2014 से 19 तक 286 बिलियन डॉलर का रिकॉर्ड एफडीआई आया है. जबकि इससे पिछले के 5 सालों में 189 बिलियन डॉलर FDI आया था.

  • 19:02 ISTPosted by Panna Lal

  • 19:00 ISTPosted by Panna Lal

    गन्ना किसानों को 6268 करोड़ रुपये की सब्सिडी

    नरेंद्र मोदी सरकार ने गन्ना किसानों को बड़ी सब्सिडी दी है. सरकार के फैसले के मुताबिक 60 लाख मीट्रिक टन चीनी का निर्यात किया जाएगा. इसके लिए केंद्र सरकार ने 6 हजार 268 करोड़ रुपये के सब्सिडी को मंजूरी दी है, खास बात ये है कि ये सब्सिडी सीधे किसानों के खाते में जाएगी. केंद्र सरकार ने कोयला खनन और उससे जुड़े व्यवसायों में 100 फीसदी विदेशी निवेश को मंजूरी दी है. इसके अलावा कॉन्ट्रैक्ट मैन्युफैक्चरिंग में 100 फीसदी विदेशी निवेश को मंजूरी दे दी गई है.

  • 18:53 ISTPosted by Panna Lal

    केंद्र सरकार ने मेडिकल क्षेत्र के लिए क्रांतिकारी फैसला लिया है. सरकार ने तीन साल की अवधि में 75 नये मेडिकल कॉलेज खोलने का फैसला लिया है. इसके लिए 24 हजार करोड़ रुपये खर्च किए जाएंगे. इन मेडिकल कॉलेजों में 15 हजार 700 डॉक्टरों की नियुक्ति की जाएगी.

  • 16:33 ISTPosted by Panna Lal

    शाम 5 बजे राज्यपाल सत्यपाल मलिक की प्रेस कॉन्फ्रेंस

    जम्मू-कश्मीर के राज्यपाल सत्यपाल मलिक आज शाम 5 बजे जम्मू-कश्मीर के हालात पर प्रेस कॉन्फ्रेंस करेंगे. राज्यपाल सत्यपाल मलिक जम्मू-कश्मीर के घटनाक्रम पर पिछले 24 दिनों से पैनी निगाह रखे हुए हैं. इस वक्त शांति व्यवस्था की पूरी जिम्मेदारी राज्यपाल सत्यपाल मलिक के जिम्मे हैं.  

  • 12:45 ISTPosted by Mohit Grover

    राहुल गांधी के बयान पर पाकिस्तान को लगी मिर्ची

    जम्मू-कश्मीर के मसले पर पाकिस्तान ने कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी के बयान को हथियार बनाया है. कांग्रेस की ओर से इसपर सफाई भी पेश की गई है, साथ ही राहुल गांधी ने भी जम्मू-कश्मीर के मसले को भारत का आंतरिक मामला बताया है और पाकिस्तान को खरी-खोटी सुनाई है. राहुल के इस बयान पाकिस्तान सरकार में मंत्री फवाद चौधरी ने भी ट्वीट किया है, उन्होंने लिखा कि राहुल गांधी कन्फ्यूज़ हैं.
    राहुल गांधी के ट्वीट को रिट्वीट करते हुए पाकिस्तान के मंत्री ने लिखा कि आपकी राजनीति की सबसे बड़ी दिक्कत है कि आप कन्फ्यूज़ हैं, सच्चाई के करीब आइए और अपने ग्रेट ग्रेट ग्रैंडफादर की तरह खड़े होइए जो भारत में सेक्युलरिज्म के सिंबल थे.’



  • 12:44 ISTPosted by Mohit Grover

    हरियाणा सीएम खट्टर के बयान का भी जिक्र

    जम्मू-कश्मीर के मसले पर पाकिस्तान हर रास्ते को अपना रहा है. अब उसने एक बार फिर संयुक्त राष्ट्र का रुख किया है और भारत पर जम्मू-कश्मीर में मानवाधिकार उल्लंघन के आरोप लगाए हैं. पाकिस्तान के द्वारा इस चिट्ठी में कांग्रेस नेता राहुल गांधी के बयान का इस्तेमाल किए जाने पर भारतीय जनता पार्टी हमलावर है, लेकिन इस चिट्ठी में पाकिस्तान ने न सिर्फ राहुल गांधी बल्कि हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर, जम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती के ट्वीट का भी जिक्र किया है. इस लिंक पर क्लिक कर पूरी खबर पढ़ें... राहुल ही नहीं हरियाणा CM खट्टर का बयान और गूगल सर्च भी बने UN में PAK के सबूत

  • 12:42 ISTPosted by Mohit Grover

    370 हटाने पर रूस खुलकर आया साथ, कहा- यह पूरी तरह भारत का आंतरिक मामला

    जम्मू-कश्मीर मसले पर भारत को रूस का साथ मिला है. रूसी राजनयिक निकोले कुदाशेव ने बुधवार को कहा कि अनुच्छेद 370 पर भारत सरकार का संप्रभु निर्णय है. यह भारत का आंतरिक मामला है. कश्मीर मसले को भारत और पाकिस्तान के बीच शिमला और लाहौर समझौते के तहत हल किया जा सकता है. हमारे विचार बिल्कुल भारत जैसे ही हैं.

  • 10:57 ISTPosted by Mohit Grover

    सुप्रीम कोर्ट ने इसी के साथ ही जम्मू-कश्मीर में मीडिया की आज़ादी को लेकर केंद्र सरकार को नोटिस जारी किया है. अदालत ने केंद्र सरकार को सात दिन में जवाब देने को कहा है.

  • 10:53 ISTPosted by Mohit Grover

    जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के मसले पर सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार को नोटिस जारी किया है. सुप्रीम कोर्ट अब इस मामले की सुनवाई अक्टूबर में करेगा, इस मामले को अदालत की संविधान पीठ सुनेगी.

  • 10:50 ISTPosted by Mohit Grover

    सीताराम येचुरी को सुुप्रीम कोर्ट से राहत.

    दूसरी याचिका में सुप्रीम कोर्ट ने लेफ्ट नेता सीताराम येचुरी को भी श्रीनगर जाने की इजाजत दे दी है. सीताराम येचुरी ने अपने विधायक एमवाई तरिगामी से मिलने की अनुमति मांगी थी.  इस पर चीफ जस्टिस ने कहा कि हम आपको आपके दोस्त से मिलने की इजाजत देंगे, लेकिन इस दौरान आप कुछ और काम नहीं कर पाएंगे. चीफ जस्टिस ने कहा कि सरकार उन्हें क्यों रोक रही है? वह देश के नागरिक हैं अगर अपने दोस्त से मिलना चाहते हैं,  तो मिल सकते हैं.
    इसपर सॉलिसिटर जनरल ने कहा कि ये पर्सनल नहीं, पॉलिटिकल विजिट थी. हालांकि, चीफ जस्टिस ने कहा कि हम सिर्फ उनके दोस्त से मिलने की इजाजत दे रहे हैं.

  • 10:45 ISTPosted by Mohit Grover

    याचिकाकर्ता छात्र को सुप्रीम कोर्ट से राहत...

    सुप्रीम कोर्ट में जम्मू-कश्मीर के मसले पर सुनवाई शुरू हो गई है. जामिया के एक छात्र के द्वारा दायर याचिका पर चीफ जस्टिस रंजन गोगोई ने पूछा है कि आज क्या पॉजिशन है, क्या आप अपने माता-पिता से संपर्क साध पाए हैं.  चीफ जस्टिस ने याचिकाकर्ता को अनंतनाग जाने की अनुमति दे दी है, ताकि वह अपने परिवार से मिल सके और बाद में दोबारा कोर्ट को रिपोर्ट करें. सॉलिसिटर जनरल ने कहा है कि वह इसकी व्यवस्था करेंगे.

  • 10:28 ISTPosted by Mohit Grover

    राहुल गांधी पर भाजपा का हमला

    जम्मू-कश्मीर पर कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी द्वारा दिए गए बयान को पाकिस्तान ने अपना हथियार बना लिया है. पाकिस्तान राहुल गांधी के बयान का इस्तेमाल संयुक्त राष्ट्र में जम्मू-कश्मीर के हालात बताने के लिए कर रहा है. अब कांग्रेस ने इसपर सफाई दी है, लेकिन भारतीय जनता पार्टी हमलावर हो गई है. केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा है कि राहुल गांधी की नादानी, कांग्रेस की परेशानी बन गई है.

    दरअसल, बुधवार सुबह कांग्रेस की तरफ से सफाई दी गई है कि जम्मू-कश्मीर को लेकर पाकिस्तान ने संयुक्त राष्ट्र में जो शिकायत की है, उसमें राहुल गांधी के बयान का गलत इस्तेमाल किया है. इसी पर भाजपा हमला कर रही है.

    राहुल गांधी के द्वारा सफाई देने पर मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा कि राहुल की नादानी कांग्रेस की परेशानी बन गई है. कांग्रेस के नेतृत्व को अब महसूस हुआ है कि उन्होंने जम्मू-कश्मीर को लेकर बड़ी गलती कर दी है.

  • 10:03 ISTPosted by Mohit Grover

    पाकिस्तान ने किया राहुल के नाम का इस्तेमाल, कांग्रेस ने दी सफाई

    पाकिस्तान के द्वारा जम्मू-कश्मीर को लेकर संयुक्त राष्ट्र में जो शिकायत की गई है, उसमें कांग्रेस नेता राहुल गांधी के बयान का हवाला दिया है. अब इसपर कांग्रेस की तरफ से एक बयान जारी किया गया है, जिसमें पाकिस्तान को लताड़ा गया है और पाकिस्तान से कई मसले पर सवाल दागे गए हैं.



  • 09:54 ISTPosted by Mohit Grover

    पाकिस्तान में नवंबर तक हो सकता है तख्तापलट: सुब्रमण्यम स्वामी

    जम्मू-कश्मीर पर भारत द्वारा लिए गए फैसले पर बौखलाया पाकिस्तान अपने ही घर में कई मोर्चों पर घिर रहा है. पाकिस्तान भारत को लेकर प्रतिबंध लगा रहा है, लेकिन घाटा उसका ही हो रहा है. अब पाकिस्तान में मची हलचल के बीच राज्यसभा सांसद सुब्रमण्यम स्वामी ने एक बड़ी भविष्यवाणी की है. स्वामी ने ट्वीट कर लिखा है कि नवंबर तक पाकिस्तान में तख्तापलट हो सकता है और एक बार फिर सेना का राज हो सकता है.

  • 09:52 ISTPosted by Mohit Grover

    कश्मीर मसले पर राहुल गांधी का ट्वीट

    जम्मू-कश्मीर को लेकर कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने बुधवार को ट्वीट किया. उन्होंने लिखा कि जम्मू-कश्मीर पर लिया गया कोई भी फैसला भारत का आंतरिक मामला है, ऐसे में किसी भी बाहरी देश को इसमें दखल नहीं देना चाहिए. उन्होंने लिखा कि कश्मीर में जो भी हिंसा हो रही है वह पाकिस्तान समर्थक लोगों के द्वारा भड़काई जा रही है.
    गौरतलब है कि बीते दिनों राहुल गांधी विपक्ष के कई नेताओं के साथ श्रीनगर गए थे, लेकिन उन्हें एयरपोर्ट से ही वापस भेज दिया गया था.



  • 08:39 ISTPosted by Mohit Grover

    कश्मीर के 10 और थाना क्षेत्रों में आज दी जाएगी पाबंदियों में ढील

    कश्मीर में आज 10 और थाना क्षेत्रों में पाबंदियों में ढील दी जाएगी. इस दौरान हाईस्कूल खोले जाएंगे. साथ ही दुकानें खोलने की भी छूट होगी. इसके अलावा घाटी में टेलीफोन सेवा पूरी तरह बहाल करने की कोशिशें जारी हैं. मंगलवार शाम से कश्मीर में और 15 टेलीफोन एक्सचेंज खोले गए.

    कश्मीर में अब तक 81 थाना क्षेत्रों में प्राथमिक और माध्यमिक स्कूल खोले गए थे, लेकिन स्कूल आने वाले छात्रों की संख्या में कमी दिखी. इसके पीछे परिजनों के मन में बच्चों को लेकर असुरक्षा की भावना है. कश्मीर के शिक्षा निदेशक यूनिस मलिक ने कहा कि घाटी में अबतक 3037 प्राइमरी और 774 माध्यमिक स्कूल खोले गए.

  • 07:43 ISTPosted by Mohit Grover

    मोदी सरकार कर सकती है स्पेशल पैकेज का ऐलान

    एक ओर सुप्रीम कोर्ट में जम्मू-कश्मीर को लेकर बड़ा दिन है. तो वहीं केंद्रीय कैबिनेट की भी बैठक है, इस बैठक में कश्मीर पर बड़ा ऐलान हो सकता है. सूत्रों की मानें तो जम्मू-कश्मीर में विकास की नई नीतियों, योजनाओं को लागू करने के लिए केंद्र बड़े पैकेज का ऐलान कर सकती है. गौरतलब है कि नई व्यवस्था के बाद 31 अक्टूबर को जम्मू-कश्मीर और लद्दाख दो नए केंद्र शासित प्रदेश बन जाएंगे. राज्य में 31 अक्टूबर, 2019 से 106 केंद्रीय कानून पूरी तरह लागू हो जाएंगे, लेकिन 30 अक्टूबर तक केंद्र और राज्य के कानून लागू रहेंगे.

  • 07:43 ISTPosted by Mohit Grover

    कश्मीर पर आएगा सुप्रीम फैसला!


    केंद्र सरकार ने 5 अगस्त को जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाने का फैसला लिया. तभी से इस फैसले की चर्चा है, कई लोग केंद्र के इस फैसले की आलोचना भी कर रहे हैं. अब इसी के खिलाफ आज सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई होनी है, अभी कई ग्रुप, व्यक्तियों ने अदालत में याचिका डाली है, जिनकी सुनवाई आज ही एक साथ होगी.
    सुप्रीम कोर्ट में ये याचिकाएं मोहम्मद अकबर लोन, जस्टिस (रिटायर्ड) हसन मसूदी, शाह फैसल, शेहला रशीद, सीताराम येचुरी द्वारा दायर की गई हैं. हालांकि, इन सभी के मुद्दे अलग-अलग हैं, कुछ याचिका अनुच्छेद 370 को हटाने के खिलाफ है. कुछ उसके पुनर्गठन के खिलाफ तो कुछ अभी तक घाटी में जारी पाबंदियों के खिलाफ दायर की गई हैं. इन याचिकाओं की सुनवाई चीफ जस्टिस रंजन गोगोई की अगुवाई वाली बेंच करेगी.

  • 07:43 ISTPosted by Mohit Grover

    जम्मू-कश्मीर को लेकर आज बड़ा दिन

    जम्मू-कश्मीर को लेकर आज बड़ा दिन है. देश की सर्वोच्च अदालत में जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 कमजोर किए जाने के खिलाफ आज 14 याचिकाओं पर सुनवाई होनी है. इनमें कुछ याचिका कश्मीर में लगी पाबंदियों को हटाने के लिए भी है. दूसरी ओर आज केंद्रीय कैबिनेट की बैठक भी है, बताया जा रहा है कि मोदी सरकार कश्मीर के लिए बड़ा ऐलान कर सकती है.

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay