एडवांस्ड सर्च

कश्मीर में कई जगह पत्थरबाजी, हर जगह सुरक्षाबल तैनात

aajtak.in अगस्त 7, 2019
अपडेटेड 1:48 IST

70 साल से जिस मुद्दे की मांग उठ रही थी, सोमवार को केंद्र की मोदी सरकार ने जम्मू-कश्मीर से धारा 370 के असर को कम कर दिया है. जम्मू-कश्मीर अब केंद्र शासित राज्य बन गया है, लद्दाख भी अलग राज्य हो गया है. राज्यसभा में ये बिल पास हो गया है, लोकसभा में मंगलवार को पेश किया जाएगा. राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल भी आज श्रीनगर में हैं. ऐसे में घाटी में सुरक्षाबलों को अलर्ट पर रखा गया है.

Check Latest Updates
Advertisement
कश्मीर में कई जगह पत्थरबाजी, हर जगह सुरक्षाबल तैनातJammu Kashmir live updates

हाइलाइट्स

  • जम्मू-कश्मीर में कमजोर हुई धारा 370
  • जम्मू-कश्मीर अब केंद्र शासित राज्य
  • लद्दाख भी अब अलग केंद्र शासित राज्य
  • श्रीनगर में हैं NSA अजित डोभाल
  • 14:38 ISTPosted by Mohit Grover

    अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद कश्मीर में कई जगहों पर पत्थरबाजी

    जम्मू-कश्मीर से छिटपुट विरोध और हिंसा की खबरें हैं. रिपोर्ट के मुताबिक मंगलावर को श्रीनगर के कुछ इलाकों में कुल लोगों ने पत्थरबाजी की है. श्रीनगर के करीब 9 जगहों पर पत्थरबाजी की खबरें सामने आई हैं. मिली जानकारी के मुताबिक हाजी बाग कैंप, सोम्यार मंदिर, इस्लामियां कॉलेज, छोटा बाजार समेत 9 इलाकों में अराजक तत्वों ने पत्थरबाजी की है. पूरी खबर पढ़ें... अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद कश्मीर में कई जगहों पर पत्थरबाजी

  • 10:40 ISTPosted by Mohit Grover

    मोदी-शाह का ‘न्यू कश्मीर’ प्लान, जल्द होगा रेलवे-हाइवे और फूड पार्क का ऐलान

    जम्मू-कश्मीर को लेकर मोदी सरकार ने अब तक का सबसे बड़ा फैसला ले लिया है. धारा 370 को कमजोर कर दिया गया है और साथ ही जम्मू-कश्मीर को अब केंद्र शासित प्रदेश बना दिया गया है. इस बीच अब केंद्र सरकार ने पूरी तरह से घाटी पर फोकस करना शुरू कर दिया है. सूत्रों की मानें तो मोदी सरकार राज्य में जल्द ही कई बड़ी योजनाओं का ऐलान करने वाली है, जिससे राज्य में विकास को आगे बढ़ाया जा सके.

    पूरी खबर पढ़ें... मोदी-शाह का ‘न्यू कश्मीर’ प्लान, जल्द होगा रेलवे-हाइवे और फूड पार्क का ऐलान

  • 10:38 ISTPosted by Mohit Grover

    370 पर फैसले के बाद कश्मीर में स्थिति सामान्य, श्रीनगर से NSA डोभाल ने भेजी ये रिपोर्ट

    जम्मू-कश्मीर को अनुच्छेद 370 के तहत मिले विशेषाधिकारों को अब हटा दिया गया है. केंद्र सरकार के इस फैसले के बाद घाटी में सुरक्षा को बढ़ाया गया है ताकि किसी भी तरह की स्थिति से निपटा जा सके. खुद राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (NSA) अजित डोभाल भी इस वक्त श्रीनगर में हैं और करीबी से हालात पर नजर बनाए हुए है. अजित डोभाल केंद्र के फैसले को सही तरीके तक लागू होने तक वहां ही रहेंगे. NSA अजित डोभाल लगातार वहां पर लोकल लोगों से बैठक कर रहे हैं. पूरी खबर पढ़ें... 370 पर फैसले के बाद कश्मीर में स्थिति सामान्य, श्रीनगर से NSA डोभाल ने भेजी ये रिपोर्ट

  • 10:11 ISTPosted by Mohit Grover

    राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल श्रीनगर में ही हैं और केंद्र के फैसले को सही तरीके तक लागू होने तक वहां ही रहेंगे. अजित डोभाल लगातार वहां पर लोकल लोगों से बैठक कर रहे हैं.

  • 10:07 ISTPosted by Mohit Grover

    मायावती ने किया केंद्र के फैसले का समर्थन

    जम्मू-कश्मीर से धारा 370 को कमजोर करने को लेकर बहुजन समाज पार्टी की प्रमुख मायावती ने मोदी सरकार के फैसले का समर्थन किया है. मायावती ने ट्वीट कर लिखा कि उन्हें उम्मीद है कि केंद्र सरकार के इस फैसले का सही लाभ वहां के लोगों को मिलेगा. बता दें कि राज्यसभा में बसपा ने जम्मू-कश्मीर के पुनर्गठन बिल का भी समर्थन किया है.


  • 09:03 ISTPosted by Mohit Grover

    वॉइस ऑफ कराची के प्रमुख नदीम नुसरत का कहना है कि जबतक पाकिस्तान बलोच, मोहारजी, पश्तून के लोगों की मांग को पूरी नहीं करता है, उसे कश्मीर मसले पर बोलने का हक नहीं है.



  • 08:58 ISTPosted by Mohit Grover

    जम्मू-कश्मीर पुलिस के डीजीपी दिलबाग सिंह का कहना है कि कश्मीर घाटी में अभी कोई भी हिंसा नहीं हुई है. अगर कोई इस तरह की खबर फैला रहा है तो वह गलत खबर है. उन्होंने कहा कि नॉर्थ, साउथ और सेंट्रल कश्मीर में पूरी तरह से शांति का माहौल है.

  • 08:43 ISTPosted by Mohit Grover

    अमेरिका भी बनाए रखे हुए नज़र

    अनुच्छेद 370 को लेकर नरेंद्र मोदी सरकार के ऐतिहासिक फैसले पर पूरी दुनिया की नजर है. अमेरिका की माने तो वह भारत के फैसले पर बारीकी से नजर रखा रहा है. अमेरिकी प्रवक्ता मॉर्गन ओर्टागस ने कहा कि हम भारत और पाकिस्तान से एलओसी पर शांति और स्थिरता बनाने की अपील करते हैं.

  • 08:40 ISTPosted by Mohit Grover

    कश्मीर का 'पुनर्जन्म', मोदी सरकार ने बदल दिया 'जन्नत का भूगोल'

    जम्मू-कश्मीर पुर्नगठन विधेयक 2019 सोमवार को राज्यसभा में पारित हो गया. इसे केंद्र सरकार की एक बड़ी जीत के रूप में देखा जा रहा है. जम्मू-कश्मीर से धारा 370 का असर कम करने के लिए गृह मंत्री ने संकल्प पेश किया इसके साथ ही वह राज्य पुनर्गठन विधेयक भी राज्यसभा में पास कराने में कामयाब रहे. पूरी खबर पढ़ें... कश्मीर का 'पुनर्जन्म', मोदी सरकार ने बदल दिया 'जन्नत का भूगोल'

  • 08:35 ISTPosted by Mohit Grover

    जम्मू के डोडा क्षेत्र में अभी भी धारा 144 लागू हो और सुरक्षाबलों की तैनाती जारी है.

  • 08:06 ISTPosted by Mohit Grover

    राज्यसभा में पास, आज लोकसभा में पेश होगा जम्मू-कश्मीर पुनर्गठन बिल

    केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार ने जम्मू-कश्मीर को लेकर ऐतिहासिक फैसला लिया है. जम्मू-कश्मीर अब अलग केंद्र शासित राज्य बन गया है और लद्दाख भी अलग प्रदेश बन गया है. राज्यसभा में सोमवार को केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने  जम्मू-कश्मीर पुनर्गठन बिल पेश किया, जो एक लंबी बहस के बाद पारित हो गया. अब मंगलवार को इस बिल को लोकसभा में पेश किया जाएगा, जिसके बाद नए प्रस्ताव को लागू कर दिया जाएगा. पूरी खबर पढ़ें... राज्यसभा में पास, आज लोकसभा में पेश होगा जम्मू-कश्मीर पुनर्गठन बिल

  • 07:48 ISTPosted by Mohit Grover

    कश्मीर में क्या हैं हालात?


    धारा 370 कमजोर होने का पीडीपी और नेशनल कॉन्फ्रेंस विरोध कर रही हैं, यही कारण है कि उन्हें अभी हिरासत में लिया गया है. महबूबा मुफ्ती, उमर अब्दुल्ला को सोमवार देर रात को ही हिरासत में ले जाकर गेस्ट हाउस में रखा गया है. घाटी में सुरक्षा बढ़ा दी गई है और हर तरह से स्थिति पर नज़र रखी जा रही है.
    बता दें कि अब कश्मीर में अलग झंडा, अलग संविधान नहीं होगा. राज्य में सरकार का कार्यकाल 6 साल की बजाय 5 साल होगा. जम्मू-कश्मीर, लद्दाख भी अलग-अलग केंद्र शासित प्रदेश होगा.



  • 07:48 ISTPosted by Mohit Grover

    राज्यसभा में पास, अब लोकसभा की बारी


    जम्मू-कश्मीर को दो हिस्से में बांटने वाला बिल राज्यसभा से पास हो गया है, लेकिन आज इसे लोकसभा में पेश किया जाएगा. लोकसभा में भाजपा के पास बहुमत है, ऐसे में इसे पेश किए जाने के बाद इसे लोकसभा से पास कराने में दिक्कत नहीं आएगी.
    राज्यसभा में भी अगर कांग्रेस, टीएमसी समेत अन्य पार्टियों ने धारा 370 के हटाने के फैसले का विरोध किया, तो वहीं बसपा, वाईएसआर कांग्रेस, बीजद जैसी विपक्षी पार्टियां भी सरकार के फैसले के साथ रही.

  • 07:48 ISTPosted by Mohit Grover

    श्रीनगर में अजित डोभाल

    धारा 370 कमजोर होने के बाद जम्मू-कश्मीर में किसी तरह का प्रदर्शन ना हो और कोई दिक्कत सामने ना आए, इसके लिए सुरक्षाबल तैनात किए गए हैं. इस बीच NSA अजित डोभाल भी राज्य के हालात का जायजा लेने के लिए श्रीनगर में होंगे. गौरतलब है कि नई व्यवस्था के तहत जम्मू-कश्मीर की पुलिस अब सीधे केंद्र सरकार के अंतर्गत काम करेगी. घाटी में अभी भी हजारों की संख्या में सुरक्षाबल तैनात हैं और अगले आदेश तक वहां ही रहेंगे.

  • 07:48 ISTPosted by Mohit Grover

    ...और हट गई धारा 370!

    70 साल से जिस मुद्दे की मांग उठ रही थी, सोमवार को केंद्र की मोदी सरकार ने जम्मू-कश्मीर से धारा 370 के असर को कम कर दिया है. जम्मू-कश्मीर अब केंद्र शासित राज्य बन गया है, लद्दाख भी अलग राज्य हो गया है. राज्यसभा में ये बिल पास हो गया है, लोकसभा में मंगलवार को पेश किया जाएगा. राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल भी आज श्रीनगर में होंगे. ऐसे में घाटी में सुरक्षाबलों को अलर्ट पर रखा गया है.

     

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay