एडवांस्ड सर्च

Cyclone Vayu Live Updates: वायु तूफान की तबाही से बचा गुजरात, अगले 24 घंटे अहम

गोपी घांघर/आशुतोष मिश्रा [Edited By: अभिषेक शुक्ल/मोहित ग्रोवर] जून 13, 2019
अपडेटेड 20:17 IST

Cyclone Vayu Live Updates चक्रवाती तूफान ‘वायु’ का खतरा गुजरात से टल गया है. वायु के खतरे को देखते हुए एजेंसियां अलर्ट पर हैं. हालांकि, गुरुवार सुबह राहत की खबर ये आई कि वायु का असर पूरे राज्य पर नहीं बल्कि तटीय इलाकों पर ही देखने को मिल सकता है. किसी भी अनहोनी का सामना करने के लिए NDRF की 52, SDRF की 9, SRP की 14 कंपनियां तैनात हैं. केंद्र सरकार भी राज्य सरकार के साथ मिलकर काम कर रही है.

Check Latest Updates
Advertisement
LIVE: वायु तूफान की तबाही से बचा गुजरात, अगले 24 घंटे अहमCyclone Vayu (Photo: आशुतोष मिश्रा)

हाइलाइट्स

  • गुजरात में आज चक्रवात वायु का खतरा टला
  • मौसम विभाग का निर्देश अगले 24 घंटे रहेंगे अहम
  • ओमान की ओर मुड़ा चक्रवाती तूफान वायु
  • तटीय इलाकों में NDRF, SDRF की टीमें तैनात हैं
  • मुंबई में हाई टाइड को लेकर अलर्ट जारी किया गया है
  • चक्रवात वायु के दौरान हवाओं की रफ्तार 150 KMPH से तेज रह सकती है
  • 21:12 ISTPosted by Abhishek Shukla

    शुक्रवार 10 बजे से गुजरात में विमानों की आवाजाही होगी शुरू

    एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया ने बयान जारी कर कहा है कि दीव और पोरबंदर(गुजरात) के बीच उड़ानें शुक्रवार सुबह 10 बजे से चालू हो जाएंगी. गुजरात से फिलहाल वायु का खतरा टल गया है. कांदला और केशोड़ एयरपोर्ट पर मध्य रात्रि 12 बजे से उड़ाने चालू हो जाएंगी. सामान्य तौर पर उड़ानें शुक्रवार सुबह 6 बजे से शुरू हो जाएंगी.

  • 20:26 ISTPosted by Abhishek Shukla

    गुजरात में तेज बारिश

    गुजरात में शाम चार बजे के करीब 28 तालुका में तेज बारिश हुई. जफराबाद, खांभा, तलाजा, लाठी, महुआ, राजुला, पलिटाना, अमरेली, उमराला, भावनगर, वालभीपुर में एक इंच से ज्यादा बारिश हुई. वहीं अन्य 12 तालुकों में तेज बारिश हुई. गरियाधार, उना, बरवाला, मंगरोल, गिर, गढ़, लिलिया, सावरकुंडला, तलाला, जेसार, बाबरा, वेरावल, नासवाडी, चोरयाशी, जलालपुर जैसी जगहों पर भी बारिश हुई. वायु से प्रभावित कुल 2,251 गावों में बिजली गुल है. वहीं लगभग 1924 गावों में बिजली फिर से चालू कर दी गई है.

  • 20:16 ISTPosted by Abhishek Shukla

    गुजरात से टला वायु का खतरा

    गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने चक्रवाती तूफान वायु पर हुई बैठक में कहा है कि मौसम विभाग की जानाकारी के मुताबिक गुजरात पर खतरा बनकर आ रहा चक्रवात वायु अब ओमान की ओर मुड़ गया है. लेकिन इसे के बाद भी अगले 24 घंटे गुजरात के लिए अहम रहेंगे. इस दौरान स्थानीय प्रशासन और एनडीआरएफ की टीमें हाई अलर्ट मोड पर रहेंगी. प्रभावित 10 जिलों के सभी स्कूल, कॉलेज शुक्रवार को भी बंद रहेंगे.

  • 17:42 ISTPosted by Abhishek Shukla

    चक्रवात वायु से गुजरात के तट पर नहीं बन रहा लैंडफॉल

    मौसम विभाग के मुताबिक चक्रवाती तूफान वायु अब गुजरात के तटों पर अपना प्रभाव नहीं डालेगा. वायु का लैंडफाल बदल गया है. अब गुजरात के समुद्री तटों के आसपास रहने वाले लोगों के लिए राहत भरी खबर है.



  • 17:21 ISTPosted by Abhishek Shukla

    जब समुद्री टापू में फंसी प्रेग्नेंट महिला

    गुजरात में जहां एक एक ओर एनडीआरएफ की टीमें बचाव कार्य जारी रख रहीं हैं वहीं जफराबाद में सियालबेट गांव के पास एक समुद्री टापू में एक गर्भवती महिला फंसी थी. बचाव टीम ने महिला को सुरक्षित निकालकर अस्पताल में पहुंचा दिया है.

  • 17:16 ISTPosted by Abhishek Shukla

    गुजरात में नौ अन्य ट्रेनें रद्द

    गुजरात में चक्रवाती तूफान वायु के कारण नौ अन्य ट्रेनों को रद्द कर दिया गया है. रद्द की गई ट्रेनों में ओखा से अहमदाबाद तक जाने वाली ट्रेनों की संख्या ज्यादा है. चक्रवाती तूफान वायु का का खतरा गुजरात के तटीय क्षेत्रों में अभी भी बना हुआ है. एनडीआरएफ की टीमें लगातार लोगों को बाहर निकालकर सुरक्षित तटों तक पहुंचाने की कोशिश कर रहे हैं.

  • 09:15 ISTPosted by Mohit Grover

    चक्रवात वायु पर कुछ ये बोल गए मंत्री...

    एक तरफ गुजरात में सेना-NDRF अलर्ट पर हैं, हर कोई अनहोनी को टालने की तैयारी की जा रही है. इस बीच राज्य सरकार के मंत्री भूपेन्द्र सिंह चूडासमा ने विवादित बयान दिया है. अलर्ट के बाद भी सोमनाथ मंदिर को खोलने के सवाल पर भूपेन्द्र सिंह चूडासमा ने कहा कि ये कुदरती आफत है, कुदरत ही रोक सकती है, तो कुदरत को हम क्या रोकें.

  • 09:12 ISTPosted by Mohit Grover

    मुंबई में हाईटाइड का खतरा

    गुजरात में वायु चक्रवात आने का खतरा बना हुआ है. इस बीच मुंबई में हाईटाइड का अलर्ट है. बताया जा रहा है कि मुंबई में करीब 3.83 मीटर ऊंची लहरें उठ सकती हैं.

  • 07:50 ISTPosted by Mohit Grover

    कुछ इस तरह छू कर निकल जाएगा चक्रवात वायु...

    कुछ इस तरह छू कर निकल जाएगा चक्रवात वायु...




  • 07:49 ISTPosted by Mohit Grover

    प्रशासन ने तैयार कर रखे हैं खाने के पैकेट

    चक्रवात वायु के खतरे को देखते हुए प्रशासन ने कई तरह की व्यवस्था की हुई हैं. प्रशासन ने खाने के पैकेट भी तैयार किए हुए हैं, जिसे जरुरतमंदों को दिया जा सके.

  • 07:47 ISTPosted by Mohit Grover

    खतरा हुआ कम लेकिन अलर्ट पर है प्रशासन

    चक्रवात वायु आज गुजरात में अपना असर दिखा सकता है. लेकिन इसके आने से पहले ही एक राहत वाली खबर आई है. बताया जा रहा है कि अब इसका असर पूरे राज्य पर नहीं बल्कि तटीय इलाकों पर ही पड़ेगा. हालांकि, प्रशासन अभी भी इसे हल्के में नहीं ले रहा है.

  • 03:54 ISTPosted by Ram Krishna

    प्रशासन ने जारी किए हेल्पलाइन नंबर

    चक्रवाती तूफान वायु के दौरान लोगों की मदद करने के लिए जिला प्रशासन और एनडीआरएफ ने हेल्पलाइन नंबर भी जारी किए हैं. एनडीआरएफ का हेल्पलाइन नंबर- 91-9711077372 है. इसके अलावा चक्रवात वायु प्रभावित जिलों के हेल्पलाइन इस प्रकार हैं.जामनगर कंट्रोल रूम नंबर: 0288-2553404द्वारका कंट्रोल रूम नंबर: 02833-232125पोरबंदर कंट्रोल रूम नंबर: 0286-2220800दाहोद कंट्रोल रूम नंबर: 02673-239277नवसारी कंट्रोल रूम नंबरः 02637-259401पंचमहल कंट्रोल रूम नंबर: +912672242536छोटा उदयपुर कंट्रोल रूम नंबर: +912669233021कच्छ कंट्रोल रूम नंबर: 02832-250080राजकोट कंट्रोल रूम नंबर: 0281-2471573अरावली कंट्रोल रूम नंबर: +912774250221

  • 03:13 ISTPosted by Ram Krishna

    देखिए अभी कहां पर है चक्रवात वायु...

  • 03:02 ISTPosted by Ram Krishna

    चक्रवात वायु के दस्तक देने से पहले समुद्र में उठती लहरें..देखिए वीडियो

  • 03:01 ISTPosted by Ram Krishna

    कई ट्रेनें रद्द, एयरपोर्ट भी बंद

    चक्रवात वायु को देखते हुए पश्चिमी रेलवे ने कई ट्रेनों को रद्द कर दिया है और कई ट्रेनों के रूट बदल दिए हैं. इस चक्रवाती तूफान की वजह से कुल 110 ट्रेनें प्रभावित हुई हैं. इसके अलावा चक्रवाती तूफान वायु से संभावित नुकसान और यात्रियों को होने वाली परेशानी को देखते हुए पांच एयरपोर्ट पर विमानों का संचालन भी बुधवार रात से गुरुवार आधी रात तक के लिए बंद कर दिया गया है. एयरपोर्ट्स अथॉरिटी ऑफ इंडिया के मुताबिक पोरबंदर, दीव, भावनगर, केशोद और कांडला एयरपोर्ट से विमानों का संचालन बंद कर दिया गया है.

  • 03:01 ISTPosted by Ram Krishna

    सवा दो लाख लोगों को राहत शिविर पहुंचाया

    प्रशासन ने एहतियातन कदम उठाते हुए गुजरात के तटीय इलाकों से लोगों को निकालकर सुरक्षित स्थान पहुंचा दिया. गुजरात के अतिरिक्त मुख्य सचिव (राजस्व) पंकज कुमार के मुताबिक समुद्र तटीय 500 गांवों को खाली करा लिया गया है. 2 लाख 15 हजार लोगों को राहत शिविरों और 10 हजार पर्यटकों को सुरक्षित स्थान पर पहुंचाया गया है. इसके अलावा अब भी कई लोगों के इलाके में फंसे होने की जानकारी है. वहीं, गुजरात के प्रभावित जिलों के स्कूलों को दो दिन के लिए बंद कर दिया गया है और अधिकारियों की छुट्टियां रद्द कर दी गई हैं.

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay