एडवांस्ड सर्च

वाराणसी: होली पर मोदी-योगी की बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ पिचकारी की जबरदस्त मांग

वाराणसी में होली के मौके पर पीएम मोदी और सीएम योगी के नाम की पिचकारियों की धूम मची है. बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ के स्लोगन छपी पिचकारियों की भी मार्केट में खूब बिक्री हो रही है. ब्रांड मोदी-योगी के आगे इस बार फिल्मी सितारे और कार्टून का भी क्रेज कम हो गया है.

Advertisement
aajtak.in
रोशन जायसवाल वाराणसी, 08 March 2020
वाराणसी: होली पर मोदी-योगी की बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ पिचकारी की जबरदस्त मांग वाराणसी में छाई मोदी पिचकारी की धूम (तस्वीर-इंडिया टुडे)

  • वाराणसी में बिक रहीं मोदी-योगी ब्रांड के नाम पर पिचकारियां
  • बेटी-बचाओ-बेटी पढ़ाओ के टैग वाली पिचकारियां मार्केट में छाईं

देश में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को लेकर उनके प्रशंसकों में खासा क्रेज देखने को मिलता है. त्योहारों में भी पीएम मोदी के प्रशंसक उन्हें याद रखना नहीं भूलते. बात अगर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र की हो तो लोग और भी क्रेजी हो जाते हैं. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में इस बार मोदी और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी की पिचकारी की धूम मची है.

त्योहार चाहे जो हो, मोदी ब्रांड हमेशा लोगों की पसंद बना रहता था. वहीं दूसरे नंबर पर सीएम योगी आदित्यनाथ भी हैं. इस बार होली के बाजार पर पीएम मोदी के साथ यूपी के सीएम योगी भी एक ब्रांड की शक्ल में छाए हुए हैं.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में होली के मार्केट में इन दिनों प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री की तस्वीरों और बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ का संदेश देने वाली पिचकारियों की खासी डिमांड है. होलसेल बाजार में मोदी-योगी पिचकारी की कीमत 10 से 33 रुपये है, जो रिटेल में 50 रुपये तक बिक रही है.

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड: कोरोना के चलते बीजेपी के सभी होली कार्यक्रम किए गए रद्द

लोग जमकर कर रहे खरीदारी

रंगों का पर्व होली जब बेहद नजदीक है, ऐसे में हर कोई खरीदारी कर रहा है. लिहाजा ग्राहकों को लुभाने के लिए तमाम तरह की फैंसी और चाईनीज सामानों के बीच में जो सबसे ज्यादा पसंद की जा रही हैं, वे हैं मोदी-योगी की तस्वीरों वाली रंग-बिरंगी पिचकारियां.

यह भी पढें: दिल्ली हिंसा और कोरोना वायरस की वजह से इस बार होली नहीं मनाएंगे सीएम केजरीवाल

ये पिचकारियां सिर्फ मनोरंजन के लिए नहीं है, बल्कि इस पर दोनों ही नेताओं का दिया हुआ बहुत बड़ा संदेश भी, बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ का जिक्र है. इसलिए हर कोई इसको खरीदने में दिलचस्पी ले रहा है. लड़कियां इसे मोदी-योगी के साथ लिखे संदेश तो बच्चे अपने मोदी-योगी अंकल की तस्वीरों के चलते खरीद रहें हैं.

डिमांड ज्यादा स्टॉक कम

होली के बाजार में पिछले साल भी मोदी-योगी पिचकारी की डिमांड काफी थी, लेकिन स्टाक कम था. इसीलिए दुकानदार इस बार खास तौर पर दोनों की नेताओं का पिचकारियों का स्टाक मंगाकर बेच रहें हैं. इस बार भी हाथों-हाथ लोग इन पिचकारियों को खरीद रहें हैं.

दुकानदार की मानें तो पहले कभी फिल्मी कलाकारों और कार्टून करेक्टर का क्रेज हुआ करता था, लेकिन अब मोदी-योगी किसी ब्रांड की तरह बाजार में छाए हुए हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay