एडवांस्ड सर्च

कोरोना: उत्तराखंड के सीएम आवास पर हाई अलर्ट, डॉक्टरों की टीम ने डाला डेरा

कोरोना को लेकर उत्तराखंड पूरे अलर्ट पर है. वहीं मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत के आवास पर हाई अलर्ट है. बाहर से आने वाले किसी भी शख्स को बगैर चेकिंग अंदर नहीं जाने दिया जा रहा है.

Advertisement
aajtak.in
दिलीप सिंह राठौड़ देहरादून, 21 March 2020
कोरोना: उत्तराखंड के सीएम आवास पर हाई अलर्ट, डॉक्टरों की टीम ने डाला डेरा CM Trivendra Singh Rawat (फाइल फोटो)

  • मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत के आवास पर हाई अलर्ट
  • पुलिस सिक्योरिटी से लेकर स्टाफ तक की हो रही जांच

कोरोना वायरस को लेकर उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत के आवास पर हाई अलर्ट हो गया है. बाहर से आने वाले किसी भी आगंतुक, पुलिस सिक्योरिटी और मुख्यमंत्री स्टाफ के सभी कर्मियों की जांच की जा रही है. बाहर से आने वाले व्यक्ति को बगैर डॉक्टर के ग्रीन सिग्नल के अंदर नहीं जाने दिया जा रहा है. सीएमओ ऑफिस ने मुख्यमंत्री आवास के बाहर दो डॉक्टरों की टीम जांच करने के लिए तैनात कर रखी है.

कोरोना को लेकर उत्तराखंड पूरे अलर्ट पर है. सभी सार्वजानिक स्थानों से लेकर हर जगह पूरी सुरक्षा बरती जा रही है. मुख्यमंत्री आवास पर खुद स्वास्थ्य विभाग पूरी तरह से मुस्तैद हैं. मुख्यमंत्री आवास पर डॉक्टरी जांच और सैनिटाइज करने के बाद ही किसी को अंदर घुसने दिया जा रहा है. इसको लेकर मुख्यमंत्री आवास में स्वास्थ्य विभाग की तरफ से सख्त हिदायत दी गई है.

डॉक्टर रामगोपाल शर्मा द्वारा टेंपरेचर चेक और अन्य जांच की जा रही है. डॉक्टर रामगोपाल शर्मा का कहना है कि मुख्यमंत्री आवास के अंदर किसी भी बीमार व्यक्ति का प्रवेश बंद कर दिया गया है. जिन लोगों के शरीर का तापमान 37 डिग्री सेल्सियस यानी 98.6 डिग्री फैरनहाइट से ऊपर है उनको भी अंदर प्रवेश नहीं करने दिया जा रहा है. मुख्यमंत्री सिक्योरिटी में काम कर रहे सुरक्षा जवानों की भी सख्त जांच की जा रही है.

राज्य की जनता से जनता कर्फ्यू की अपील

वहीं, कोरोना से लड़ने के लिए पीएम मोदी की अपील के बाद उत्तराखंड के मुख्यमंत्री ने राज्य के लोगों से जनता कर्फ्यू में सहयोग करने की अपील की है, ताकि इस बीमारी से निपटा जा सके. इस दौरान लोगों को घर में खासतौर पर खाने के सामान को लेकर कोई दिक्कत ना हो इसके लिए पुलिस घर-घर तक राशन पहुंचाने का काम करेगी, जिससे लोगों को अनावश्यक रूप से बाहर नहीं आना पड़ेगा.

बता दें कि भारत में अब तक कोरोना वायरस के मरीजों की संख्या बढ़कर 310 हो गई है. इसमें से मौजूदा मरीजों की संख्या 278 है, जबकि 28 लोग ठीक होकर डिस्चार्ज हो चुके हैं. वहीं 4 लोगों की मौत कोरोना वायरस की वजह से हो चुकी है.

कोरोना वायरस को लेकर सरकार की तैयारियों पर बात करते हुए स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने शनिवार को कहा कि देश भर में 111 लैब आज से एक्टिव हो जाएंगे. स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने कहा कि भारत में 1600 लोगों को क्वारंटाइन में रखा गया है जिसमें विदेश से आए लोग भी शामिल हैं.

ये भी पढ़ें- कोरोना के बढ़ते केस पर बोले केजरीवाल- जरूरत पड़ी तो दिल्ली में करेंगे लॉकडाउन

ये भी पढ़ें- महाराष्ट्र-केरल-दिल्ली में तेजी से बढ़े रहे कोरोना के केस, मरीजों की संख्या हुई 310

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay