एडवांस्ड सर्च

राजस्थानः आइसोलेशन वार्ड में डॉक्टरों से झगड़ा कर रहे लोग: स्वास्थ्य मंत्री

कोरोना वायरस के बढ़ते खतरे की ओर जहां प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश के लोगों से सहयोग की अपील की है तो वहीं राजस्थान के स्वास्थ्य मंत्री ने यह कहकर चौंका दिया है कि लोग समझाने के बाद भी नहीं मान रहे. होम आइसोलेशन पर नजर रखने के लिए घर के बाहर कर्मचारी भी तैनात किए जाएंगे.

Advertisement
aajtak.in
शरत कुमार जयपुर, 20 March 2020
राजस्थानः आइसोलेशन वार्ड में डॉक्टरों से झगड़ा कर रहे लोग: स्वास्थ्य मंत्री राजस्थान में कोरोना वायरस से अब तक 12 लोग पीड़ित (सांकेतिक तस्वीर-PTI)

  • कोरोना से निबटने के लिए अब सख्ती करने का समयः रघु शर्मा
  • राजस्थान में करीब 2000 लोगों को होम आइसोलेशन में रखा गया

कोरोना वायरस के बढ़ते असर पर राजस्थान के स्वास्थ्य मंत्री रघु शर्मा ने नाराजगी जताते हुए कहा कि अब लोगों पर सख्ती करने का समय आ गया है. लोग समझाने से नहीं मान रहे हैं. जिन लोगों को संदिग्ध मानकर हम भर्ती कर रहे हैं वो आइसोलेशन वार्ड में डॉक्टरों से लड़ाई झगड़ा कर रहे हैं.

देश के अन्य हिस्सों के साथ-साथ राज्य में कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण पर राजस्थान के स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि कोरोना वायरस से निपटने के लिए अब सख्ती करने का समय आ गया है. लोग समझाने से नहीं मान रहे हैं. यहां तक कि धारा 144 लगाई गई है फिर भी लोग घरों से निकल रहे हैं.

उन्होंने कहा कि जिन लोगों को संदिग्ध मानकर हम भर्ती कर रहे हैं वो आइसोलेशन वार्ड में डॉक्टरों से लड़ाई झगड़ा कर रहे हैं.

'होम आइसोलेशन के बाहर तैनात होंगे कर्मचारी'

ऐसे लोगों पर सख्ती बरतने की बात करते हुए रघु शर्मा ने कहा कि उन पर भी कठोर कार्रवाई की जाएगी. इसके अलावा कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए हमने गांव से लेकर शहर तक सारे सरकारी अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि वे पूरी तरह से नजर रखें कि बाहर से कौन राज्य में आता है तुरंत उसकी सूचना सरकार को दें. राज्य में फसल खरीद केंद्रों को भी बंद कर दिया गया है क्योंकि बाहरी राज्य से बहुत ज्यादा लोग इन केंद्रों पर आ रहे थे.

उन्होंने बताया कि इसी तरह से यह भी तय किया गया है कि दूसरे राज्यों को जाने वाली बसों को भी अब रोका जाए. जिन लोगों को होम आइसोलेशन के लिए कहा गया है उनके घर के बाहर एक सरकारी कर्मचारी की ड्यूटी लगाई जा रही है ताकि वह घर से बाहर नहीं निकले. राजस्थान में करीब 2000 लोगों को होम आइसोलेशन में रखा गया है.

चेन स्मोकर था इटैलियन नागरिकः स्वास्थ्य मंत्री

जयपुर में इटैलियन नागरिक की मौत पर राजस्थान के स्वास्थ्य मंत्री रघु शर्मा ने कहा कि राज्य में कोरोना वायरस के कुल 12 मरीज अब तक सामने आए हैं, जिसमें से जिस एक इटैलियन व्यक्ति के मौत होने की बात हो रही है वह कोरोना से निगेटिव हो चुका था और इटैलियन दूतावास के कहने पर ही उन्हें सवाई मानसिंह अस्पताल से डिस्चार्ज कर निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया था.

स्वास्थ्य मंत्री रघु शर्मा ने कहा कि इटैलियन व्यक्ति एक चेन स्मोकर था और उसके लंग्स में कोई दिक्कत थी.

उन्होंने कहा कि राजस्थान के भीलवाड़ा में कोरोना वायरस के कॉम्युनिटी स्प्रेड को ध्यान में रखते हुए पूरी तरह से कर्फ्यू लगा दिया गया है. वहां का एक मशहूर चिकित्सक कोरोना वायरस पॉजिटिव निकला है जो बड़ी संख्या में लोगों का इलाज कर रहा था.

इसे भी पढ़ें: कौन और कब करा सकता है कोरोना का टेस्ट? सरकार ने बनाए ये नियम

इसे भी पढ़ें: Corona Virus: बचने के लिए आज ही डाइट में शामिल करें 7 चीज

शुरुआती रिपोर्ट के अनुसार किसी व्यक्ति की डेथ हुई है जिसका वह इलाज कर रहा था जिसके जरिए कोरोना उस तक पहुंचा है हालांकि यह सारी रिपोर्ट अभी उदयपुर की लैब से आई है. इसकी अंतिम पुष्टि के लिए पुणे भेजा जा रहा है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay