एडवांस्ड सर्च

कोरोना से निपटने के लिए DRDO का बड़ा कदम, मास्क-सैनिटाइजर के बाद अब बना रहा वेंटिलेटर

कोरोना की महामारी से निपटने के लिए तीनों सेनाएं और डीआरडीओ युद्ध स्तर पर मोर्चा संभाल रही हैं. इसमें रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (DRDO) अहम भूमिका निभा रहा है. खासतौर से सैनिटाइजर और मास्क बनाने के लिए DRDO दिन रात काम कर रहा है.

Advertisement
aajtak.in
मंजीत सिंह नेगी नई दिल्ली, 26 March 2020
कोरोना से निपटने के लिए DRDO का बड़ा कदम, मास्क-सैनिटाइजर के बाद अब बना रहा वेंटिलेटर डीआरडीओ के चेयरमैन डॉक्टर सतीश रेड्डी

  • देश में कोरोना वायरस संक्रमित मरीजों का आंकड़ा बढ़ा
  • Covid-19 के चलते देश में मास्क की बढ़ गई है डिमांड
  • मास्क-सैनिटाइजर के बाद DRDO अब बना रहा वेंटिलेटर

कोरोना वायरस लगातार भारत में अपने पैर पसार रहा है. पूरे देश में लॉकडाउन लागू है. कोरोना के प्रकोप को रोकने के लिए सरकार सतर्क है. लगातार लोगों की टेस्टिंग की जा रही है लेकिन कोरोना के केस लगातार बढ़ते जा रहे हैं. कोरोना की महामारी से निपटने के लिए तीनों सेनाएं और डीआरडीओ युद्ध स्तर पर मोर्चा संभाल रही हैं.

इसमें रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (डीआरडीओ) अहम भूमिका निभा रहा है. खासतौर से सैनिटाइजर और मास्क बनाने के लिए DRDO दिन रात काम कर रहा है. डीआरडीओ के चेयरमैन डॉक्टर सतीश रेड्डी ने आजतक से खास बातचीत में बताया कि हमारी लैब अभी तक बीस हजार से ज्यादा बोतल सैनिटाइजर तीनों सेनाओं, स्वास्थ्य मंत्रालय और दिल्ली पुलिस को दे चुकी है.

कोरोना कमांडोज़ का हौसला बढ़ाएं और उन्हें शुक्रिया कहें...

उन्होंने कहा कि हमने अपनी तकनीक स्वास्थ्य मंत्रालय को भी दे दी है. डीआरडीओ के चेयरमैन डॉक्टर सतीश रेड्डी ने बताया कि हमने अपनी ये तकनीक उद्योगों को दी है, जिससे हर दिन 10 हजार लीटर सैनिटाइजर बना सकते हैं.

ये भी पढ़ें- कोरोना संकट के बीच धड़ल्ले से बनाए जा रहे फर्जी मास्क, इंडिया टुडे की जांच से खुलासा

उन्होंने कहा कि मास्क की जरूरत को पूरा करने के लिए भी हम काम कर रहे हैं. हमने 20 हजार मास्क बनाकर दिल्ली पुलिस को दिए हैं. डीआरडीओ ने मुंबई की एक इंडस्ट्री को बॉडी सूट बनाने की तकनीक दी है. उन्होंने कहा कि अब हर दिन एक हजार बॉडी सूट बनाने शुरू करेंगे.

वेंटिलेटर की जरूरत को पूरा करने के लिए भी डीआरडीओ काम कर रहा है. अभी मैसूर में एक इंडस्ट्री के साथ नए वेंटिलेटर पर काम चल रहा है. आने वाले दो-तीन दिनों में यह वेंटिलेटर भी तैयार हो जाएगा. जिसके बाद भारत इलेक्ट्रॉनिक्स और दूसरी प्राइवेट इंडस्ट्री के साथ मिलकर वेंटिलेटर बनने शुरू किए जाएंगे.

कोरोना पर फुल कवरेज के लि‍ए यहां क्ल‍िक करें

बता दें कि केंद्र और राज्य सरकारों के सतर्क रहने के बाद भी देश में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या में इजाफा हो रहा है. अब भारत में कोरोना संक्रमित मरीजों का का आंकड़ा करीब 650 तक पहुंच चुका है. वहीं, अबतक 16 लोगों की कोरोना से जान जा चुकी है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement
Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay