एडवांस्ड सर्च

कोरोना संक्रमित 10 बड़े देशों में शामिल हुआ भारत, ईरान को छोड़ा पीछे

जॉन्स हॉपकिंस यूनिवर्सिटी के डाटा के मुताबिक भारत ने कोरोना संक्रमण के मामले में ईरान (1,25,701) को पीछे छोड़ते हुए टॉप 10 देशों की सूची में अपना नाम दर्ज करा लिया है. यानी कि भारत अब विश्व के दस सबसे बड़े कोरोना प्रभावित देशों में शामिल हो गया है.

Advertisement
aajtak.in
aajtak.in नई दिल्ली, 25 May 2020
कोरोना संक्रमित 10 बड़े देशों में शामिल हुआ भारत, ईरान को छोड़ा पीछे कोरोना प्रभावित 10 देशों में भारत भी शामिल (प्रतीकात्मक फोटो)

  • पिछले 24 घंटे में कोरोना के 6977 नए मामले
  • अब तक 4 हजार 21 लोगों की हो चुकी है मौत

देश में कोरोना मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ रही है. पिछले 24 घंटे में कोरोना के 6977 नए मामले सामने आए हैं और 154 लोगों की मौत हो चुकी है. स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से सोमवार सुबह जारी अपडेट के मुताबिक, अब देश में कुल मरीजों की संख्या 1 लाख 38 हजार 845 है, जिसमें 4 हजार 21 लोगों की मौत हो चुकी है.

वहीं, कोरोना से ठीक होने वालों का आंकड़ा बढ़कर 57 हजार के पार पहुंच गया है. अब तक 57 हजार 721 लोग ठीक हो चुके हैं. देश में 77 हजार 103 एक्टिव केस हैं. पिछले 24 घंटे में महाराष्ट्र में 3 हजार से अधिक नए मामले सामने आए हैं. अब यहां कुल मरीजों की संख्या 50 हजार के पार है और 1635 लोगों की मौत हो चुकी है.

जॉन्स हॉपकिंस यूनिवर्सिटी के डाटा के मुताबिक भारत ने कोरोना संक्रमण के मामले में ईरान (1,25,701) को पीछे छोड़ते हुए टॉप 10 देशों की सूची में अपना नाम दर्ज करा लिया है. यानी कि भारत अब विश्व के दस सबसे बड़े कोरोना प्रभावित देशों में शामिल हो गया है.

corna-toll_052520115447.jpg

महाराष्ट्र 3,041 नए केसों के साथ कोरोना संक्रमण के मामलों में 50 हजार का आंकड़ा पार कर चुका है. महाराष्ट्र में कोरोना संक्रमितों की कुल संख्या 50,231 हो गई है. वहीं 58 नए केस के साथ मरने वालों की संख्या 1,635 हो गई है. जबकि गुजरात में 394 नए केसों के साथ कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़कर 14,063 हो गई है. वहीं 29 नए केस के साथ मरने वालों की संख्या बढ़कर 858 हो गई है.

स्वास्थ्य मंत्रालय का कहना है कि देश में कोरोना मरीजों का रिकवरी रेट 41.28 प्रतिशत है. जांच में भी तेजी आई है. आज की तारीख में रोज करीब 1,50,000 टेस्ट किए जा रहे हैं.

कोरोना कमांडोज़ का हौसला बढ़ाएं और उन्हें शुक्रिया कहें...

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने रविवार को दिल्ली के नजफगढ़ स्थित चौधरी ब्रह्म प्रकाश आयुर्वेद चरक संस्थान (सीबीपीएसीएस) में कोविड-19 के मरीजों के लिए बने स्वास्थ्य केंद्र का दौरा किया. इस दौरान उन्होंने कहा कि देश में जांच करने की क्षमता बढ़ी है और रोजाना 1,50,000 नमूनों की जांच की जा सकती है.

उन्होंने कहा, 'कल ही हमने 1,10,397 नमूनों की जांच की थी. कल तक हमने 29,44,874 नमूनों की जांच कर ली है.'

हर्षवर्धन ने बताया कि भारत में अब 422 सरकारी और 177 निजी प्रयोगशालाओं में कोविड-19 की जांच की जा रही है.

नजफगढ़ में कोविड-19 मरीजों को समर्पित स्वास्थ्य केंद्र का दौरा करने के बाद हर्षवर्धन ने कहा, 'पूरे देश में कोविड समर्पित 968 अस्पताल चिह्नित किये गये हैं जिनमें 2,50,397 बिस्तरों (1,62,237 आइसोलेशन बिस्तर और 20,468 गहन चिकित्सा बिस्तर) की व्यवस्था है. इनके अलावा कोविड मरीजों को समर्पित 2,065 स्वास्थ्य केंद्र हैं जिनमें 1,76,946 बिस्तरों (1,20,596 आइसोलेशन बिस्तर और 10,691 गहन चिकित्सा बिस्तर) हैं. वहीं कोविड-19 मरीजों की देखभाल को समर्पित 7,063 केंद्रों में 6,46,438 बिस्तरों की व्यवस्था की गई है.'

देश में कोविड-19 की स्थिति की जानकारी देते हुए हर्षवर्धन ने कहा कि 25 मार्च को लॉकडाउन की घोषणा करने से पहले प्रत्येक तीन दिन मामलों के दोगुना होने की दर 3.2 थी, वहीं सात दिन में यह तीन हो गई जबकि 14 दिन की गणना अवधि में यह दर 4.1 हो गई.

कोरोना पर फुल कवरेज के लि‍ए यहां क्ल‍िक करें

उन्होंने कहा, 'आज यह दर तीन दिन की अवधि में 13, सात दिन की अवधि में 13.1 और 14 दिन की गणना अवधि में 12.7 है. संक्रमण से मृत्यु दर 2.9 प्रतिशत है जबकि ठीक होने की दर सुधर कर 41.2 प्रतिशत हो गयी है. इससे स्पष्ट है कि लॉकडाउन की वजह से स्थिति सुधरी है.'

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay