एडवांस्ड सर्च

इंदौर: डॉक्टरों पर हुआ पथराव, राहत इंदौरी बोले- आज गर्दन शर्मिंदगी से झुक गई

देश के कई शहरों से ऐसे मामले सामने आए हैं, जहां पर कोरोना वायरस के खिलाफ जंग लड़ रहे डॉक्टरों के साथ बदसलूकी की गई है. ऐसे ही इंदौर के एक मामले पर मशहूर शायर राहत इंदौरी ने प्रतिक्रिया दी है.

Advertisement
aajtak.in
aajtak.in नई दिल्ली, 02 April 2020
इंदौर: डॉक्टरों पर हुआ पथराव, राहत इंदौरी बोले- आज गर्दन शर्मिंदगी से झुक गई राहत इंदौरी ने स्वास्थ्यकर्मियों से बदसलूकी पर नाराजगी जाहिर की है.

  • इंदौर की घटना पर राहत इंदौरी की प्रतिक्रिया
  • डॉक्टरों पर हमला शर्मनाक हरकत: राहत इंदौरी
  • इंदौर में डॉक्टरों पर की गई थी पत्थरबाजी

कोरोना वायरस के खिलाफ देश इस वक्त एक जंग लड़ रहा है, जिसमें हमारे डॉक्टर सबसे अहम भूमिका निभा रहे हैं. मध्य प्रदेश के इंदौर में कोरोना वायरस को लेकर जब डॉक्टरों की टीम जांच के लिए पहुंची तो उन पर हमला कर दिया गया. अब इस घटना पर मशहूर शायर डॉ. राहत इंदौरी का बयान आया है. राहत इंदौरी ने कहा कि इस घटना के बाद सिर शर्म से झुक गया है.

ट्विटर पर वीडियो साझा करते हुए राहत इंदौरी ने इस मामले पर प्रतिक्रिया दी. उन्होंने कहा, ‘हमारे शहर में जो वाकया पेश आया, उसकी वजह से सारे मुल्क के लोगों के सामने शर्मिंदगी से गर्दन झुक गई, शर्मसारी हुई. ये लोग आपकी तबीयत देखने आए थे, उनके साथ जो आपने सलूक किया इससे पूरा हिंदुस्तान हैरत में है’.

कोरोना पर फुल कवरेज के लि‍ए यहां क्ल‍िक करें

राहत इंदौरी ने कहा कि इंदौर की गिनती शानदार शहरों में होती है, लेकिन इस तरह का बर्ताव बिल्कुल गलत है. उन्होंने कहा कि अगर आज आप डॉक्टरों की मदद करेंगे, तो वक्त आपकी मदद करेगा.

बता दें कि इंदौर के टाट पट्टी इलाके में जब स्वास्थ्यकर्मियों की एक टीम जब कुछ कोरोना वायरस मरीजों की जांच के लिए पहुंची तो वहां मौजूद लोगों ने उन पर पथराव कर दिया. इस घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ और बाद में पुलिस ने कार्रवाई की.

स्थानीय पुलिस ने अब तक इस मामले में चार लोगों को हिरासत में लिया है, जबकि अन्य की तलाश वायरल वीडियो के आधार पर की जा रही है.

कोरोना कमांडोज़ का हौसला बढ़ाएं और उन्हें शुक्रिया कहें...

सिर्फ इंदौर ही नहीं, बीते दिनों कई शहरों से इस तरह के मामले सामने आए थे. खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी इस पर चिंता व्यक्त की थी और कहा था कि जो लोग संकट की घड़ी में भगवान के रूप में हमारे लिए काम कर रहे हैं, उनके साथ इस तरह का व्यवहार करना बिल्कुल गलत है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay