एडवांस्ड सर्च

कोरोना को हरा घर वापस पहुंची गुजरात की पहली पीड़ित, थाली-शंख बजा लोगों ने किया स्वागत

कोरोना वायरस को मात देकर अहमदाबाद में अपने घर वापस पहुंची एक युवती को सोसाइटी वालों ने सलाम किया है. जब वह घर पहुंची तो लोगों ने तालियां और शंख बजाकर उसका स्वागत किया.

Advertisement
aajtak.in
गोपी घांघर अहमदाबाद, 30 March 2020
कोरोना को हरा घर वापस पहुंची गुजरात की पहली पीड़ित, थाली-शंख बजा लोगों ने किया स्वागत घर वापस लौटी युवती का लोगों ने किया स्वागत (फोटो: PTI)

  • गुजरात की पहली पीड़ित ने दी कोरोना को मात
  • कोरोना से ठीक होकर वापस पहुंची घर
  • लोगों ने शंख बजाकर किया स्वागत

दुनियाभर में तबाही मचाने वाले कोरोना वायरस का असर हिंदुस्तान में भी दिख रहा है. अबतक 1100 से अधिक लोग इसकी चपेट में आ गए हैं, लेकिन इस मुश्किल घड़ी के बीच कुछ ऐसी खबरें भी आ रही हैं जो चेहरे पर मुस्कान ला देंगी. गुजरात में जो युवती कोरोना वायरस की चपेट में आई थी और राज्य की पहली मरीज बनी थी वह अब ठीक होकर घर लौट आई है. सोमवार को जब युवती अपने फ्लैट पहुंची, तो सोसाइटी वालों ने थाली और शंख बजाकर उसका स्वागत किया.

कुछ दिनों पहले युवती फिनलैंड से वापस लौटी थी, जिसके बाद उसका कोरोना वायरस टेस्ट कराया गया तो वह पॉजिटिव निकला. इसी के बाद उसका इलाज अहमदाबाद के एक अस्पताल में चल रहा था. इलाज के बाद अब युवती ठीक हो गई है और वापस अपने घर पहुंची है. जहां लोगों ने उसका जोरदार स्वागत किया.

कोरोना पर फुल कवरेज के लि‍ए यहां क्ल‍िक करें

आपको बता दें कि गुजरात में अभी तक कोरोना वायरस से पीड़ितों की संख्या 70 के करीब पहुंच गई है. सोमवार को ही यहां भावनगर में एक महिला ने कोरोना वायरस के चलते दम तोड़ दिया था, राज्य में अबतक 6 लोग कोरोना के चक्कर में जान गंवा चुके हैं.

100 से अधिक लोग हो चुके हैं ठीक

गौरतलब है कि कोरोना वायरस भले ही जानलेवा बीमारी हो लेकिन ये जरूरी नहीं है कि जो इसकी चपेट में आएगा उसकी मौत ही हो जाएगी. ऐसे कई उदाहरण सामने आए हैं, जहां लोग इस बीमारी से लड़कर वापस आए हैं और फिर से खुशहाल जीवन जी रहे हैं.

भारत में ही करीब 110 लोग अबतक कोरोना की चपेट में आने के बाद ठीक हो चुके हैं, जो देशवासियों को एक नया भरोसा जताते हैं.

पीएम ने डॉक्टरों के लिए बजवाई थीं थाली-ताली

कोरोना वायरस से फ्रंटफुट पर लड़ाई लड़ रहे देश के करोड़ों डॉक्टरों के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 22 मार्च को थाली और तालियां बजवाई थीं. रविवार के दिन जब जनता कर्फ्यू रखा गया, तब पीएम मोदी की अपील पर करोड़ों लोग अपने घरों की छत-बालकनी पर आए और डॉक्टरों के सम्मान में थाली-ताली बजाई थीं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement
Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay