एडवांस्ड सर्च

छत्तीसगढ़: धारा-144 में राशन बांट रहे थे कांग्रेस MLA, भीड़ लगने के बाद FIR दर्ज

आरोप है कि छत्तीसगढ़ के बिलासपुर में कांग्रेस विधायक शैलेश पांडे गरीबों को मुफ्त राशन बांट रहे थे. इस वजह से उनके घर के बाहर भीड़ इकट्ठा हो गई. जबकि कोरोना वायरस को देखते हुए पूरे देश में लॉकडाउन लागू है.

Advertisement
aajtak.in
aajtak.in बिलासपुर, 30 March 2020
छत्तीसगढ़: धारा-144 में राशन बांट रहे थे कांग्रेस MLA, भीड़ लगने के बाद FIR दर्ज राशन के लिए लग गई भीड़

  • कोरोना से बचाव के लिए सोशल डिस्टेंसिंग जरूरी
  • राशन के लिए घर के बाहर लग गई भीड़

कोरोना वायरस मामले में जानकारी ही बचाव है. लेकिन कई लोग ऐसे हैं जो सबकुछ जानकर भी अनसुना कर रहे हैं. छत्तीसगढ़ में एक ऐसा ही मामला सामने आया है, जहां पर एक विधायक ने कथित तौर पर धारा 144 लागू होने के बावजूद भीड़ को इकट्ठा किया. इसके बाद पुलिस ने सरकारी आदेश का उल्लंघन करने के मामले में कांग्रेस विधायक शैलेश पांडे के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है.

आरोप है कि छत्तीसगढ़ के बिलासपुर में कांग्रेस विधायक शैलेश पांडे, गरीबों को मुफ्त में राशन बांट रहे थे. इस वजह से उनके घर के बाहर भीड़ इकट्ठा हो गई. जबकि कोरोना वायरस को देखते हुए पूरे देश में लॉकडाउन लागू है. इतना ही नहीं नियमों का सख्ती से पालन करवाने के उद्देश्य से बिलासपुर में धारा 144 भी लागू है, जिससे कहीं पर भी पांच से ज्यादा लोग जमा ना हो सकें. पुलिस के मुताबिक कांग्रेस विधायक ने धारा 144 की खिलाफत की है, इस वजह से उनके खिलाफ FIR दर्ज की गई है.

हालांकि मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक विधायक का कहना है कि उन्होंने किसी को नहीं बुलाया था. लेकिन कई गरीब लोग जब उनके घर राशन-पानी के लिए इकट्ठा होने लगे तो मजबूरन उनकी सहायता के लिए आगे आना पड़ा

कोरोना पर फुल कवरेज के लि‍ए यहां क्ल‍िक करें

यह सच है कि लॉकडाउन का सबसे बुरा असर गरीबों और दिहाड़ी मजदूरों पर पड़ा है. इसके बावजूद सोशल डिस्टेंसिंग की गंभीरता को नजरअंदाज नहीं किया जा सकता है. विधायक, ऐसे हालात में लोगों को डोर-टू-डोर सर्विस दे सकते थे. इसके अलावा जो भी लोग इकट्ठा हुए थे उनको एक मीटर की दूरी बनाकर राशन बांटा जा सकता था.

कोरोना कमांडोज़ का हौसला बढ़ाएं और उन्हें शुक्रिया कहें...

कोरोना वायरस जैसी खतरनाक बीमारी, जिसका अभी तक कोई इलाज नहीं निकला है, समाज के प्रत्येक व्यक्ति को इसे रोकने के लिए अपनी भागीदारी निभानी होगी. वरना वो समाज का नुकसान तो करेंगे ही, खुद को भी नहीं बचा पाएंगे.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay