एडवांस्ड सर्च

आ गया इनकम टैक्स सीजन, इन 7 तरीकों से बचा लें टैक्स

इनकम टैक्स रिटर्न फाइल करने का सीजन शुरू हो चुका है. वैसे तो आपको सालभर टैक्स बचाने का प्रयास करने की जरूरत रहती है. लेकिन किसी कारण से आपने ऐसा नहीं किया तो अब आपके पास मौजूदा वित्त वर्ष का बचे हुए वक्त है जब आप टैक्स बचाने का प्रयास कर सकते हैं.

Advertisement
aajtak.in
राहुल मिश्र नई दिल्ली, 25 January 2017
आ गया इनकम टैक्स सीजन, इन 7 तरीकों से बचा लें टैक्स इनकम टैक्स में छूट लेने के ये कारगर तरीके

इनकम टैक्स रिटर्न फाइल करने का सीजन शुरू हो चुका है. वैसे तो आपको सालभर टैक्स बचाने का प्रयास करने की जरूरत रहती है. लेकिन किसी कारण से आपने ऐसा नहीं किया तो अब आपके पास मौजूदा वित्त वर्ष का बचे हुए वक्त है जब आप टैक्स बचाने का प्रयास कर सकते हैं.

लिहाजा, जानिए क्या उपाय हैं जिन्हें करके आप टैक्स में छूट पा सकते हैं. इन सभी तरीकों के जरिए आप इनकम टैक्स कानून के सेक्शन 80 सी के तहत छूट के हकदार है-

1. इक्विटी लिंक्ड सेविंग स्कीम (ELSS)- टैक्स में लाभ पाने का यह एक बेहद आसान तरीका है. यह एक प्रकार का डाइवर्सिफाइड म्यूचुअल फंड का प्रकार है जिसे इनकम टैक्स कानून के तहत टैक्स में छूट के लिए खरीदा जाता है. इसकी अहम बात यह है कि आप टैक्स बचाने के साथ-साथ इसमें निवेश किए गए पैसे में वृद्धि के भी हकदार है. यह स्कीम तीन साल के लॉक इन पीरियड के साथ उपलब्ध है.

2. टैक्स सेविंग फिक्स्ड डिपॉजिट(FD)- इस तरह के फिक्स्ड डिपॉजिट आम बैंक एफडी से कम ब्याज पर मिलता है. ऐसे डिपॉजिट में 5 साल का लॉक इन पीरियड रहता है. हालांकि इस एफडी पर मिलने वाले ब्याज पर टैक्स लगाया जाता है.

3. कर्मचारी प्रॉविडेंट फंड (EPF): आपकी सैलरी से प्रति माह प्रॉविडेंट फंड के लिए कटने वाला पैसा भी इनकम टैक्स नियम के सेक्शन 80 सी के तहत टैक्स में छूट का हकदार है.

4. पब्लिक प्रॉविडेंट फंड (PPF): यह एक स्मॉल सेविंग इंस्ट्रूमेंट है जिसमें आप कम से कम 500 रुपये और अधिकतम 1.50 लाख रुपये तक निवेश कर सकते हैं. इस निवेश पर आपको 8 फीसदी की दर पर ब्याज मिलता है. इसमें निवेश और मिलने वाला ब्याज पूरी से टैक्स से मुक्त होता है.

5. यूनिट लिंक्ड इंश्योरेंस प्लान (ULIP): ये एक इंश्योरेंस प्लान है. इसमें निवेश से आपको ईक्विटी के साथ-साथ इंश्योरेंस का लाभ मिलता है. वहीं यह सेक्शन 80 सी के तहत टैक्स में छूट का भी हकदार है.

6. सुकन्या सम्रिद्धि स्कीम(SSS): इस स्कीम के तहत यदि आप अपनी 10 साल से कम उम्र की बेटी के नाम पर निवेश करते हैं तो इनकम टैक्स नियम के सेक्शन 80 सी के तहत 1.50 लाख रुपये तक के निवेश पर आप छूट ले सकते हैं. इस स्कीम के तहत आप दो बेटियों के लिए खाता खुलवा सकते हैं और 21 साल बाद यह खाता बंद हो जाएगा. मौजूदा समय में इसमें निवेश पर आपको 8.5 फीसदी का ब्याज मिलता है.

7. नैशनल पेमेंट सिस्टम (NPS): इनकम टैक्स नियम के सेक्शन 80 सी के तहत एनपीएस में आप 1.50 लाख रुपये तक का निवेश प्रति वर्ष कर सकते हैं. वहीं सेक्शन 80 सीसीडी(1बी) के तहत आप 50,000 रुपये का अतिरिक्त निवेश कर सकते हैं. लिहाजा एनपीएस में आप कुल 2 लाख रुपये तक के निवेश पर टैक्स में छूट के हकदार है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay