एडवांस्ड सर्च

रघुराम राजन ने जाते-जाते भी नहीं घटाई ब्याज दरें, रेपो रेट 6.5 फीसदी ही रहेगी

रिजर्व बैंक के गवर्नर रघुराम राजन ने जाते-जाते भी ब्याज दरों में कटौती नहीं की. राजन ने अपने कार्यकाल की अंतिम आर्थ‍िक नीति में पॉलिसी रेपो रेट और कैश रिजर्व रेट (सीआरआर) में किसी तरह का बदलाव नहीं किया. आरबीआई ने मंगलवार को अपनी मोनेटरी पॉलिसी पेश करते हुए रेपो रेट को 6.5 फीसदी और सीआरआर को 4 फीसदी ही बरकरार रखा.

Advertisement
aajtak.in
रोहित गुप्ता मुंबई, 09 August 2016
रघुराम राजन ने जाते-जाते भी नहीं घटाई ब्याज दरें, रेपो रेट 6.5 फीसदी ही रहेगी रघुराम राजन 4 सितंबर को रिटायर हो जाएंगे

रिजर्व बैंक के गवर्नर रघुराम राजन ने जाते-जाते भी ब्याज दरों में कटौती नहीं की. राजन ने अपने कार्यकाल की अंतिम आर्थ‍िक नीति में पॉलिसी रेपो रेट और कैश रिजर्व रेट (सीआरआर) में किसी तरह का बदलाव नहीं किया. आरबीआई ने मंगलवार को अपनी मॉनेटरी पॉलिसी पेश करते हुए रेपो रेट को 6.5 फीसदी और सीआरआर को 4 फीसदी ही बरकरार रखा.

आरबीआई मार्च 2017 तक रि‍टेल महंगाई दर (सीपीआई) 5 फीसदी रहने का अनुमान जताया है. पहले भी इसी दर का अनुमान था. आरबीआई ने कहा कि‍ महंगाई 5 फीसदी के पार भी जा सकती है. आरबीआई ने वित्त वर्ष 2016-17 के लिए 7.6 फीसदी वृद्धि दर का अनुमान बरकरार रखा.

4 सितंबर को रिटायर हो जाएंगे राजन
आरबीआई गवर्नर के तौर पर यह रघुराम राजन की आख‍िरी मॉनेटरी पॉलिसी थी. वे 4‍ सितंबर को अपने तीन साल के कार्यकाल के बाद रिटायर होंगे. अगली मॉनेटरी पॉलि‍सी 4 अक्‍टूबर को पेश की जाएगी. इससे पहले नए गवर्नर के नाम का ऐलान हो जाने की पूरी संभावना है. रिजर्व बैंक के पूर्व डिप्टी गवर्नर सुबीर गोकर्ण नए आरबीआई गवर्नर की दौड़ में सबसे आगे बताए जा रहे हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay