एडवांस्ड सर्च

नोटबंदी: 15 तक ही चलेंगे 500 के पुराने नोट, बैंक में करा सकते हैं जमा

आर्थिक मामलों के सचिव शक्तिकांत दास ने इस संबंध में जानकारी देते हुए ट्विटर पर लिखा, 'पुराने 500 रुपये के नोट के उपयोग को लेकर मिली छूट 15 दिसंबर की आधी रात से खत्म हो जाएगी.' इसका मतलब यह हुआ कि 500 रुपये के पुराने नोटों का अब आप कहीं इस्तेमाल नहीं कर पाएंगे.

Advertisement
aajtak.in
सबा नाज़ नई दिल्ली, 14 December 2016
नोटबंदी: 15 तक ही चलेंगे 500 के पुराने नोट, बैंक में करा सकते हैं जमा बैंक में 31 दिसंबर तक जमा होते रहेंगे 500 के पुराने नोट

नोटबंदी के बाद लोगों को बिजली बिल या दवा खरीदने जैसे कुछ जरूरी कामों में 500 रुपये के पुराने नोट इस्तेमाल करने की रियायत गुरुवार आधी रात के बाद खत्म हो जाएगी. कई जगहों पर यह खबर चल रही थी कि इन नोटों का इस्तेमाल बुधवार के बाद से बंद हो जाएगा, हालांकि वित्त मंत्रालय इसके बाद स्पष्ट करते हुए बताया कि ये नोट आज नहीं बल्कि 15 दिसंबर यानि गुरुवार आधी रात तक इस्तेमाल किए जा सकेंगे.

वित्त सचिव शक्तिकांत दास ने इस संबंध में जानकारी देते हुए ट्विटर पर लिखा, 'पुराने 500 रुपये के नोट के उपयोग को लेकर मिली छूट 15 दिसंबर की आधी रात से खत्म हो जाएगी.' इसका मतलब यह हुआ कि इन नोटों का अब आप कहीं इस्तेमाल नहीं कर पाएंगे.

हालांकि अगर आपके पास भी 500 रुपये के पुराने नोट अब भी बचे हुए हैं, तो घबराने की जरूरत नहीं. वित्त मंत्रालय ने यह स्पष्ट किया है कि आप 30 दिसंबर तक बैंकों में जाकर ये नोट जमा करवा सकते हैं.

वित्त मंत्रालय से यह भी स्पष्ट किया है कि बैंकों में 500 और 1000 के पुराने नोट जमा करने की अंतिम तारीख 30 दिसंबर ही रहेगी, इस समय सीमा को फिलहाल न तो बढ़ाया गया है और न ही घटाया गया है.

बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 8 नवंबर को आधी रात के बाद से 500 रुपये और 1000 रुपये के नोट का चलन बंद करने का ऐलान किया था. हालांकि इस नोटबंदी से लोगों को ज्यादा परेशानी ना हो इसके लिए सरकार ने 15 दिसंबर तक कई जरूरी चीज़ों के लिए इन नोटों के इस्तेमाल की रियायत दी थी.

इन जगहों पर 500 के पुराने नोट इस्तेमाल की थी छूट-

  • सरकारी अस्पताल, फार्मेसी
  • सहकारी भंडार से 5 हजार रु. तक का सामान
  • मिल्क बूथ, श्मशान घाट/कब्रिस्तान
  • एलपीजी सिलेंडर, स्मारकों के टिकट
  • स्थानीय निकायों के बिल-जुर्माना
  • घर का बिजली/पानी का बिल
  • कोर्ट फीस, सरकारी दुकानों से बीज
  • सरकारी स्कूलों की दो हजार रु. तक की फीस
  • सरकारी कॉलेजों की फीस, 500 रु. तक का प्रीपेड मोबाइल रिचार्ज
  • टोल प्लाजा पर पुराने 500 के नोट स्वीकार किए जाएंगे.

इस बीच सरकार ने कुछ रियायतें वापस लेते हुए रेलवे, बस और मेट्रो में इन नोटों के इस्तेमाल की छूट 10 दिसंबर के बाद खत्म कर दी थी. नोटबंदी के बाद हुई कैश की किल्लत के बीच सरकार डिजिटल ट्रांजैक्शन को बढ़ावा देने पर जोर दे रही है. इसी कड़ी में वित्तमंत्री अरुण जेटली ने डिजिटल पेमेंट पर कई तरह की रियायतों का ऐलान किया था.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay