एडवांस्ड सर्च

हरियाणाः अवैध संबंधों के चलते किया था मर्डर, जिस्म में उतारी थीं 9 गोलियां

पहले अमित सैनी और गौरव यादव की गहरी दोस्त थी. इसी दोस्ती का फायदा उठाकर गौरव यादव ने अपने दोस्त की बीवी के साथ न केवल अवैध सम्बंध बनाए बल्कि बाद में उसे भगाकर लेकर गया. डेढ़ साल से वह उसी के साथ रह रहा था.

Advertisement
aajtak.in
तनसीम हैदर गुरुग्राम, 27 March 2020
हरियाणाः अवैध संबंधों के चलते किया था मर्डर, जिस्म में उतारी थीं 9 गोलियां पुलिस ने दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है (फोटो- आजतक)

  • 19 मार्च को अंजाम दिया था वारदात को
  • दोनों आरोपी दिल्ली से गिरफ्तार

गुरुग्राम के चर्चित गौरव यादव हत्याकांड का पुलिस ने खुलासा कर दिया. इस सनसनीखेज मर्डर को अंजाम देने वाले शातिर बदमाशों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. जरायम की दुनिया से जुड़े गौरव को कातिलों ने 9 गोलियों से भूनकर मौत के घाट उतार दिया था.

ये सनसनीखेज हत्या की वारदात 19 मार्च को गुरुग्राम के गढ़ी हरसरू इलाके में अंजाम दी गई थी. जहां 30 वर्षीय गौरव यादव को गोलियों से छलनी कर दिया था. पुलिस ने इस मामले का खुलास करते हुए बताया कि इस मामले में अमित सैनी और उसके दोस्त को दिल्ली से गिरफ्तार किया गया था. पुलिस के मुताबिक गौरव यादव के आरोपी अमित सैनी की पत्नी के साथ अवैध सम्बंध थे.

ये ज़रूर पढ़ेंः लॉकडाउन के बीच कांग्रेस नेता की गोली मारकर हत्या, आरोपी का सरेंडर

गुरुग्राम पुलिस के एसीपी क्राइम ने बताया कि मृतक गौरव यादव भी अपराध की दुनिया से जुड़ा था. उसके संबंध गैंगस्टर कौशल से भी थे. पत्नी से अवैध संबंधों के चलते अमित सैनी कई दिनों से गौरव की हत्या की साजिश रच रहा था. उसने अपनी साजिश को 19 मार्च की रात करीब 11 बजे सेक्टर 10 थाना क्षेत्र में अंजाम तक पहुंचाया था.

उस वक्त गौरव यादव अपने आफिस से घर जाने को निकला था. तभी वहां मौजूद अमित सैनी ने अपने एक दोस्त के साथ मिल गौरव को गोलियों से छलनी कर दिया. जिसकी वजह से उसकी मौके पर ही मौत हो गई. दोनों आरोपी वारदात को अंजाम देकर वहां से फरार हो गए थे. पुलिस ने दोनों को दिल्ली से गिरफ्तार कर लिया.

Must Read: डॉक्टरों और मेडिकल स्टाफ को किया परेशान तो मकान मालिकों पर होगी कार्रवाई

पुलिस की मानें तो पहले अमित सैनी और गौरव यादव की गहरी दोस्त थी. इसी दोस्ती का फायदा उठाकर गौरव यादव ने अपने दोस्त की बीवी के साथ न केवल अवैध सम्बंध बनाए बल्कि बाद में उसे भगाकर लेकर गया. डेढ़ साल से वह उसी के साथ रह रहा था.

इसी बात का बदला लेने के लिए अमित सैनी ने इस हत्या की वारदात को अंजाम दे डाला. एसीपी क्राइम के मुताबिक अमित सैनी इस बात से इतना खफा था कि उसने गौरव को एक बाद एक 9 गोली मारी थी. इस वारदात के खुलासे की जिम्मेदारी क्राइम यूनिट सिकंदरपुर को दी गई थी. जिसने दोनों हत्यारोपियों को दिल्ली से गिरफ्तार कर मामले का खुलासा कर दिया.

पुलिस के अनुसार गौरव यादव पर भी आपराधिक मामले दर्ज थे. फर्रुखनगर इलाके में क्रिकेट बुकी के घर पर पैसों के विवाद में गौरव यादव ने 50 राउंड फायरिंग तक कराई थी. उस मामले में गौरव जमानत पर जेल से बाहर आया था. गढ़ी इलाके में गौरव ने प्रोपर्टी का काम किया हुआ था. उसी की आड़ में वह आपराधिक वारदातों को अंजाम देता आ रहा था.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay