एडवांस्ड सर्च

नए वित्‍त वर्ष के पहले महीने में GST कलेक्‍शन रिकॉर्ड स्‍तर पर

वित्‍त वर्ष 2019-20 के पहले महीने में जीएसटी कलेक्‍शन रिकॉर्ड स्तर पर पहुंच गया है.

Advertisement
aajtak.in
aajtak.in नई दिल्‍ली, 01 May 2019
नए वित्‍त वर्ष के पहले महीने में GST कलेक्‍शन रिकॉर्ड स्‍तर पर नए वित्‍त वर्ष के पहले महीने में GST कलेक्‍शन रिकॉर्ड स्‍तर पर

वित्‍त वर्ष 2019-20 के पहले महीने में माल एवं सेवा कर (जीएसटी) के मोर्चे पर अच्‍छी खबर मिली है.  दरअसल, अप्रैल में जीएसटी कलेक्‍शन 1.13 लाख करोड़ रुपये के नए रिकॉर्ड उच्चस्तर पर पहुंच गया. इससे पिछले महीने जीएसटी कलेक्‍शन 1.06 लाख करोड़ रुपये रहा था.

वित्‍त मंत्रालय की ओर से दी गई जानकारी के मुताबिक अप्रैल, 2019 में जीएसटी रेवेन्‍यू 1 करोड़ 13 लाख 865 करोड़ रुपये रहा. इसमें केंद्रीय जीएसटी कलेक्‍शन 21 हजार 163 करोड़ रुपये, राज्य जीएसटी (एसजीएसटी) 28 हजार 801 करोड़ रुपये, एकीकृत जीएसटी 54,733 करोड़ रुपये और सेस कलेक्शसन 9,168 करोड़ रुपये रहा. अगर एक साल पहले से तुलना करें तो अप्रैल, 2018 की तुलना में अप्रैल, 2019 में जीएसटी कलेक्‍शन  10.05 फीसदी बढ़ा है. पिछले साल अप्रैल में जीएसटी संग्रह 1 लाख 3 लाख 459 करोड़ रुपये रहा था. बता दें कि देश में जीएसटी व्‍यवस्‍था लागू होने के बाद पिछले महीने मार्च में जीएसटी कलेक्‍शन सबसे ऊंचा रहा था.

मंत्रालय के आंकड़े के मुताबिक 30 अप्रैल तक मार्च महीने के लिए कुल 72.13 लाख संक्षिप्त बिक्री रिटर्न जीएसटीआर-बी दायर किए गए. सरकार ने नियमित निपटान के तहत आईजीएसटी से 20,370 करोड़ रुपये का सीजीएसटी और 15,975 करोड़ रुपये का एसजीएसटी का निपटान किया. केंद्र के पास अस्थायी आधार पर बचे 12,000 करोड़ रुपये के आईजीएसटी का 50:50 अनुपात में केंद्र और राज्यों के बीच निपटान किया गया.

वित्त वर्ष 2019-20 में सरकार ने सीजीएसटी से 6.10 लाख करोड़ रुपये और मुआवजा सेस से 1.01 लाख करोड़ रुपये जुटाने का प्रस्ताव किया है.आईजीएसटी का शेष 50,000 करोड़ रुपये रहने का अनुमान है. वित्त वर्ष 2018-19 में सीजीएसटी कलेक्‍शन 4.25 लाख करोड़ रुपये और मुआवजा सेस 97,000 करोड़ रुपये रहा. पिछले महीने जीएसटी कलेक्‍शन 2018-19 के औसत मासिक जीएसटी रेवेन्‍यू  98,114 करोड़ रुपये के मुकाबले 16.05 फीसदी ऊंचा रहा.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay