एडवांस्ड सर्च

US-कोरिया विवाद से धराशायी शेयर बाजार, निवेशकों के 6.4 लाख करोड़ स्वाहा

अमेरिका और उत्तर कोरिया के बीच युद्ध को लेकर चल रही तनातनी का असर बाजार पर दिखने लगा है. पिछले 4 दिनों में भारतीय निवेशकों को इसका नुकसाना उठाना पड़ है. पिछले चार दिनों के ट्रेडिंग सेशन में भारतीय निवेशकों को करीब 100 बिलियन अमेरिकी डॉलर यानी 6.4 लाख करोड़ रुपये का नुकसान झेलना बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज का बाजार पूंजीकरण अब 133.1 लाख करोड़ रुपये है.

Advertisement
aajtak.in
केशवानंद धर दुबे नई दिल्ली, 12 August 2017
US-कोरिया विवाद से धराशायी शेयर बाजार, निवेशकों के 6.4 लाख करोड़ स्वाहा प्रतीकात्मक फोटो

अमेरिका और उत्तर कोरिया के बीच युद्ध को लेकर चल रही तनातनी का असर बाजार पर दिखने लगा है. पिछले 4 दिनों में भारतीय निवेशकों को इसका नुकसाना उठाना पड़ है. पिछले चार दिनों के ट्रेडिंग सेशन में भारतीय निवेशकों को करीब 100 बिलियन अमेरिकी डॉलर यानी 6.4 लाख करोड़ रुपये का नुकसान झेलना बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज का बाजार पूंजीकरण अब 133.1 लाख करोड़ रुपये है. 7 अगस्त को यह सबसे ऊंचे स्तर यानी 139.5 लाख करोड़ रुपये तक पहुंच गया था. 6 जुलाई को यह 133 लाख करोड़ रुपये था. इसके बाद 23 ट्रेडिंग सेशन के बाद 7 अगस्त को यह 139.5 लाख करोड़ रुपये तक पहुंच गया.

रॉयटर्स के अनुसार, दुनियाभर के निवेशकों को करीब एक ट्रिलियन डॉलर यानी करीब 640 खरब 85 अरब रुपये का नुकसान हो चुका है. शुक्रवार को सेंसेक्स 1 प्रतिशत और गिरा. ये 318 अंकों की गिरावट के साथ 31,214 पर बंद हुआ. यह पिछले 2 महीनों का निम्न स्तर है. निफ्टी भी 1.1 फीसदी यानी करीब 109 अंकों की गिरावट के साथ 9,711 पर बंद हुआ. पूरे सप्ताह में सेंसेक्स में 3.4 फीसदी यानी कुल 1100 अकों की गिरावट हुई है.

डीलर्स के अनुसार, भारत-चीन के बीच डोकलाम विवाद और सेबी द्वारा 331 शैल कंपनियों को ट्रेडिंग से रोकना और कॉर्पोरेट सेक्टर में कमजोरी के चलते बाजार को नुकसान हुआ. दुनियाभर के बाजारों का भी ये ही हाल है. गुरुवार रात को अमेरिका के डाउ जॉन्स इंडेक्स में करीब 1 फीसदी और एस एंड पी 500 इंडेक्स में करीब 1.45 फीसदी की गिरावट हुई. इसके अलावा शुक्रवार की शुरुआती खरीदारी में यूके के एफटीएसई में 1.5 प्रतिशत की गिरावट हुई.

 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay