एडवांस्ड सर्च

नोटबंदी का असर और 6 महीने रहेगा: कौशिक बसु

जानेमाने अर्थशास्त्री कौशिक बसु का कहना है कि नोटबंदी से देश की अर्थव्यवस्था को झटका लगा है और देश इससे धीरे-धीरे उबर रहा है. कौशिक बसु ने कहा- नोटबंदी का असर अभी अगले छह महीने तक जारी रहेगा. बसु विश्व बैंक के मुख्य अर्थशास्त्री और भारत सरकार के प्रमुख आर्थिक सलाहकार रह चुके हैं. उन्होंने एक टीवी चैनल को दिए इंटरव्यू में ये बाते कहीं.

Advertisement
IANS [Edited by: सना जैदी]नई दिल्ली, 05 August 2017
नोटबंदी का असर और 6 महीने रहेगा: कौशिक बसु नोटबंदी पर कौशिक बसू का बयान

जानेमाने अर्थशास्त्री कौशिक बसु का कहना है कि नोटबंदी से देश की अर्थव्यवस्था को झटका लगा है और देश इससे धीरे-धीरे उबर रहा है. कौशिक बसु ने कहा- नोटबंदी का असर अभी अगले छह महीने तक जारी रहेगा. बसु विश्व बैंक के मुख्य अर्थशास्त्री और भारत सरकार के प्रमुख आर्थिक सलाहकार रह चुके हैं. उन्होंने एक टीवी चैनल को दिए इंटरव्यू में ये बाते कहीं.

 

बसु के मुताबिक, नवंबर में की गई नोटबंदी से अर्थव्यवस्था को झटका लगा है, लेकिन खुशकिस्मती है कि यह तात्कालिक है. बसु ने कहा कि भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) द्वारा द्वारा प्रमुख ब्याज दरों में 25 आधार अंकों की कटौती से निजी निवेश को पर्याप्त बढ़ावा मिलेगा. उन्होंने कहा कि आरबीआई मुद्रास्फीति को लेकर जरूरत से थोड़ा ज्यादा चिंतित है.

 

जीएसटी पर उन्होंने कहा कि नई अप्रत्यक्ष कर प्रणाली मुसीबतों से जूझ रही है, लेकिन निवेशकों ने इसे सकारात्मक लिया है. उन्होंने कहा कि इससे दोहरा कराधान खत्म होगा और माल ढुलाई की लागत में कमी आएगी.  बसु ने कहा कि देश की वृद्धि दर अगले एक-डेढ़ सालों में घटकर 8.5 फीसदी पर आ जाएगी.

 

उन्होंने कहा कि विदेशों में देश के बारे में अच्छी धारणा है और भारत इसे पूंजी में परिवर्तित करने में सक्षम है.

 

गौरतलब है कि मोदी सरकार ने 8 नवंबर को नोटबंदी का ऐलान किया था. 500 और 1000 के नोट बंद कर 2000 के नोट लाए गए थे. बाद में 500 के नए नोट भी आए. लोगों को अपने पुराने नोट बैंकों में स्रोत बताते हुए जमा कराने का मौका दिया गया था. सरकार का दावा था कि इससे काले धन पर रोक लगेगी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay