एडवांस्ड सर्च

Bank Strike:अलर्ट! बैंकों की हड़ताल आज, इन ग्राहकों पर पड़ेगा असर

देशभर के कई बैंकों में आज कामकाज प्रभावित रह सकता है. दरअसल, दो बैंक यूनियनों ने 22 अक्टूबर को 24 घंटे की हड़ताल बुलाई है.

Advertisement
aajtak.in
aajtak.in 22 October 2019
Bank Strike:अलर्ट! बैंकों की हड़ताल आज, इन ग्राहकों पर पड़ेगा असर Bank Strike Today: बैंकों के विलय का विरोध कर रहे हैं यूनियन

  • अखिल भारतीय बैंक कर्मचारी संघ और भारतीय बैंक कर्मचारी परिसंघ की हड़ताल
  • सरकार के 10 बैंकों के विलय के फैसला के विरोध में बुलाई गई है हड़ताल

देशभर के कई बैंकों में आज यानी  22 अक्टूबर को कामकाज प्रभावित रहने की आशंका है. दरअसल, दो यूनियन- अखिल भारतीय बैंक कर्मचारी संघ और भारतीय बैंक कर्मचारी परिसंघ ने 24 घंटे की हड़ताल बुलाई है. इस बीच, भारतीय मजदूर संघ से जुड़े हुए नेशनल ऑर्गनाइजेशन ऑफ बैंक वर्कर्स और नेशनल ऑर्गनाइजेशन ऑफ ऑफिसर्स और इनसे जुड़ी बैंक यूनियंस ने बताया है कि वह इस हड़ताल में शामिल नहीं हैं. बता दें कि बैंकिंग सेक्‍टर में कुल 9 यूनियन हैं.

किस बैंक ने क्‍या कहा?

हालांकि देश के सबसे बड़े बैंक एसबीआई समेत कुछ अन्‍य बैंकों का दावा है कि इस हड़ताल का ज्यादा असर बैंक के ग्राहकों पर नहीं पड़ेगा.वहीं कुछ बैंकों ने अपने ग्राहकों को अलर्ट भी किया है. बीते दिनों एसबीआई ने बताया था, ‘इस हड़ताल में शामिल कर्मचारी यूनियन में हमारे बैंक कर्मचारियों की सदस्यता संख्या काफी कम है. ऐसे में हड़ताल से बैंक के कामकाज पर असर काफी सीमित रहेगा.’ इसी तरह बैंक ऑफ महाराष्‍ट्र को भी लगाता है कि यह हड़ताल बैंकिंग स्‍तर पर प्रभावित नहीं करेगा.

हालांकि बैंक ऑफ बड़ौदा ने अपने ग्राहकों को अलर्ट जरूर किया था. बैंक ने बताया था कि वह हड़ताल के दिन अपनी तमाम शाखाओं और कार्यालयों में कामकाज सामान्य करने के लिए सभी आवश्यक कदम उठा रहा है. एक अन्‍य सरकारी बैंक सिंडिकेट बैंक ने कहा, ‘प्रस्तावित हड़ताल को लेकर बैंक ने अपनी शाखाओं में सामान्य कामकाज के लिए आवश्यक कदम उठाए हैं. हालांकि, हड़ताल होने की स्थिति में बैंक शाखाओं-कार्यालयों का कामकाज प्रभावित हो सकता है. ’

क्‍या है हड़ताल की वजह?

मुख्‍य तौर पर ये हड़ताल सरकार के 10 बैंकों के विलय के विरोध के लिए बुलाई गई है. दरअसल, बीते दिनों वित्‍त मंत्री निर्मला सीतारमण ने 10 बैंकों के विलय का ऐलान किया था. इसके बाद 4 नए बैंक अस्तित्‍व में आ जाएंगे. वहीं आंध्रा बैंक, इलाहाबाद बैंक, सिंडिकेट बैंक, कॉर्पोरेशन बैंक, यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया और ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स का अस्तित्‍व नहीं रहेगा. बैंक यूनियन का कहना है कि इस विलय से बैंकिंग सेक्‍टर में लोगों की नौकरी जाएगी. इसके अलावा बैंक यूनियन जमा राशि पर दरों में गिरावट का भी विरोध कर रहे हैं.

अगले 9 दिन में 4 दिन बंद रहेंगे बैंक

इसके बाद 26 अक्‍टूबर को शनिवार की वजह से देश के अधिकतर बैंक बंद रहेंगे. वहीं 27 अक्‍टूबर को दिवाली और रविवार है. यानी 27 अक्टूबर को भी बैंकों की छुट्टी रहेगी. दिवाली के बाद 28 अक्टूबर को गोवर्धन पूजा और 29 अक्टूबर को भैया दूज की वजह से देश के कई हिस्‍सों में बैंक नहीं खुलने की वजह से कामकाज प्रभावित हो सकता है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay