एडवांस्ड सर्च

Advertisement

न शेर-न सांप, इस जन्तु का सबसे ज्यादा शिकार बना इंसान

सुरेंद्र कुमार वर्मा
26 July 2019
न शेर-न सांप, इस जन्तु का सबसे ज्यादा शिकार बना इंसान
1/15
धरती पर इंसानी कहर के कारण जीव-जन्तुओं की लाखों प्रजातियां विलुप्त हो चुकी हैं और कई विलुप्ति की कगार पर हैं, लेकिन इसके उलट कई बार जीव-जन्तु भी इंसानों के लिए काल बन जाते हैं. रोचक यह है कि इंसानों के लिए बड़े जीव-जन्तुओं से ज्यादा जानलेवा और खतरनाक छोटे तथा कमजोर दिखने वाले जीव-जन्तु होते हैं जो हर साल बड़ी संख्या में इंसानों की जान ले लेते हैं. (Photo-TWITTER)
न शेर-न सांप, इस जन्तु का सबसे ज्यादा शिकार बना इंसान
2/15
इंसान भले ही शेर, चीता, हाथी, जंगली भैंस और भालू जैसे बड़े जानवरों से डरता हो तथा उनसे दूर रहने में अपनी भलाई समझता हो, लेकिन ये उतने नुकसानदेह नहीं हैं जितने छोटे और अदने से दिखने वाले जानवर. सबसे ज्यादा मौत जिस जीव के कारण होती वो एक साल में इतने इंसानों को मार डालता है जितना इंसान एक साल इंसान को नहीं मार पाते. एक नजर डालते हैं उन छोटे-बड़े जीव-जन्तुओं पर जो हर साल में बड़ी संख्या में इंसानी जान ले लेते हैं. (Photo-TWITTER)

न शेर-न सांप, इस जन्तु का सबसे ज्यादा शिकार बना इंसान
3/15
13. समुद्री जीव शार्क दिखने में भले ही विशालकाय हो, और इसे देखकर हर किसी को डर लगे लेकिन यह सच है कि इंसानी जान के लिहाज से यह जीव ज्यादा खतरनाक नहीं है. एक साल में औसतन 6 इंसानों को अपना शिकार बनाता है शार्क. 2014 में शार्क के हमले में महज 3 इंसानों की मौत हुई थी, जबकि 2015 में यह आंकड़ा 6 तक पहुंच गया था. इसी तरह भेड़िया के शिकार में हर साल औसतन 10 लोग मारे जाते हैं. (PHOTO-Gallagher AJ)
न शेर-न सांप, इस जन्तु का सबसे ज्यादा शिकार बना इंसान
4/15
12. शेर को भले ही जंगल का राजा कहा जाता हो, लेकिन यह इंसानी जान के लिए ज्यादा खतरनाक साबित नहीं होते. माना जाता है कि शेर एक साल में औसतन 100 लोगों को मार डालता है. शेर के हमले के सबसे ज्यादा शिकार तंजानिया बनता है क्योंकि 2005 में यहां पर हुए एक अध्ययन में यह बात सामने आई कि 1990 से 2005 के बीच 563 लोग शेर के हमले में मारे गए. वहां पर आज भी औसतन 22 लोग हर साल शेर के हमले में मारे जाते हैं. हालांकि वैश्विक स्तर पर इनके हमले के बारे में सटीक नंबर हासिल करना बेहद कठिन है.
न शेर-न सांप, इस जन्तु का सबसे ज्यादा शिकार बना इंसान
5/15
11. हाथी इंसानों के हाथों हर साल जितनी संख्या में मारे जाते हैं उसकी तुलना में उनके हमले के शिकार लोगों की संख्या कम है. हर साल औसतन 500 लोग हाथी के हमले में मारे जाते हैं. 2014 में आए एक रिपोर्ट के अनुसार पिछले 3 सालों में अकेले अफ्रीका में 1 लाख हाथी शिकारियों के हाथों मारे गए. 2011 में हर 12 अफ्रीकी हाथी शिकारियों का निशाना बना.

न शेर-न सांप, इस जन्तु का सबसे ज्यादा शिकार बना इंसान
6/15
10. हाथी के अलावा एक समुद्री जीव हिप्पोपौटेमस भी हर साल औसतन 500 इंसानी जान ले लेता है. अफ्रीका में यह सबसे घातक जानवर के रूप में जाना जाता है.
न शेर-न सांप, इस जन्तु का सबसे ज्यादा शिकार बना इंसान
7/15
9. टेप वर्म यानी फीता कृमि एक कीड़ा है जो इंसानी जीवन के लिए बेहद खतरनाक है और यह हर साल औसतन 700 लोगों को अपना शिकार बनाता है. यह शरीर के अंदर प्रवेश कर शरीर के अंदरुनी हिस्सों को खासा नुकसान पहुंचाता है. इसके कारण दिमाग, मांसपेशी और अन्य कई चीजें प्रभावित होती हैं. (Photo-Russ Hobbs, Klaus Rohde)
न शेर-न सांप, इस जन्तु का सबसे ज्यादा शिकार बना इंसान
8/15
8. जलीय जीव मगरमच्छ (क्रोकोडाइल) भी इंसानों के लिए सबसे बड़े खतरों में शामिल है. संयुक्त राष्ट्र के फूड एंड एग्रीकल्चरल ऑर्गेनाइजेशन (FAO) के अनुसार मगरमच्छ अफ्रीका में खतरनाक जानवरों में शुमार किए जाते हैं और हर साल औसतन 1000 लोग इसके हमले में मारे जाते हैं.
न शेर-न सांप, इस जन्तु का सबसे ज्यादा शिकार बना इंसान
9/15
7. टेप वर्म (फीता कृमि) की तरह एक और अस्कारिस राउंडवॉर्म्स (Ascaris roundworms) जिसे  अस्कारियासिस के नाम से जाना जाता है, 2013 के एक अध्ययन के मुताबिक गोलकृमि के संक्रमण के कारण हर साल औसतन 4500 लोग मारे जाते हैं.  विश्व स्वास्थ्य संगठन के अनुसार यह संक्रमण लोगों की छोटी आंत में सबसे ज्यादा होता है. व्यस्कों की तुलना में यह सबसे ज्यादा बच्चों को प्रभावित करता है.
न शेर-न सांप, इस जन्तु का सबसे ज्यादा शिकार बना इंसान
10/15
6. सेट्सी फ्लाइज (Tsetse flies) एक प्रकार की निद्रा रोग उत्पन्न करने वाली अफ्रीकी मक्खी है और यह हर साल औसतन 10 हजार लोगों को अपना शिकार बनाती है. हालांकि अब इससे मरने वालों की संख्या में कमी आनी शुरू हो चुकी है. सेट्सी फ्लाइज से प्रभावित लोगों को पहले सिर दर्द होता है फिर बुखार, घुटनों में दर्द और खुजली जैसी चीजें भी होने लगती है, लेकिन यह कई बार तंत्रिका संबंधी समस्या में बदल जाता है जिस कारण कई लोगों की मौत हो जाती है.

न शेर-न सांप, इस जन्तु का सबसे ज्यादा शिकार बना इंसान
11/15
5. एसेससीन बग्स (Assassin bugs) इसे किसिंग बग भी कहते हैं. इसके काटने से हर साल औसतन 12 हजार लोग मारे जाते हैं. इसके अलावा फ्रेश वाटर स्नैल यानी एक तरह का घोंघा भी बड़ी संख्या में लोगों की जान लेने के लिए जिम्मेदार माना जाता है. इसके संपर्क में आने के कारण लाखों लोग प्रभावित होते हैं.

4. विश्व स्वास्थ्य संगठन के मुताबिक घोंघा के काटे जाने के कारण संक्रमण की वजह से 20 हजार से 2 लाख लोगों की मौत हो जाती है. (Photo-JJ Harrison)

न शेर-न सांप, इस जन्तु का सबसे ज्यादा शिकार बना इंसान
12/15
अब बात करते हैं उन जानवरों की जो इंसानों के लिहाज सबसे खतरनाक होते हैं.
3. कुत्ता जिसे दुनिया में सबसे लोकप्रिय पालतू जानवरों में शामिल किया जाता है. लेकिन कई बार यह खतरनाक भी हो जाता है. कुत्तों के काटने से रैबीज जैसी खतरनाक बीमारी फैलती है जिस कारण बड़ी संख्या में लोगों की मौत हो जाती है. हालांकि टीके के जरिए रैबीज पर रोक लगाई जा सकती है. विश्व स्वास्थ्य संगठन के मुताबिक अभी भी 35 हजार से ज्यादा लोग कुत्तों के काटे जाने से मर जाते हैं.

न शेर-न सांप, इस जन्तु का सबसे ज्यादा शिकार बना इंसान
13/15
2. इंसानों के लिहाज सांप दूसरा सबसे खतरनाक जीव है जो बड़ी संख्या में इंसानी जान लेता है. हर साल सांप के कांटे जाने से दुनियाभर में करीब 50 हजार लोग मारे जाते हैं.

न शेर-न सांप, इस जन्तु का सबसे ज्यादा शिकार बना इंसान
14/15
1. कुत्ते और सांप के अलावा धरती पर इंसानों के लिए सबसे खतरनाक जीव कोई विशालकाय या बड़ा जानवर नहीं है बल्कि यह बेहद छोटा सा दिखने वाला मच्छर है. मच्छरों का भारत समेत दुनिया के कई देशों में आतंक है और कई प्रयासों के बाद भी इस पर अंकुश नहीं लगाया जा सका है. मच्छरों के काटने से हर साल 7.50 लाख लोगों की मौत हो जाती है. इसमें से आधे से ज्यादा मौत (करीब 6 लाख) अकेले मलेरिया के कारण हो जाती है. मलेरिया नाम की बीमारी अनोफिलिस मच्छर के कांटने से होती है. इसके अलावा मच्छरों के कांटे जाने से डेंगू समेत कई अन्य बड़ी बीमारियों की वजह से भी लोगों की जान चली जाती है.
न शेर-न सांप, इस जन्तु का सबसे ज्यादा शिकार बना इंसान
15/15
इन जीव-जन्तुओं के अलावा इंसानी जान का एक और बड़ा दुश्मन है जो खुद इंसान ही है. मानव सभ्यता की शुरुआत से ही इंसान, इंसानों का दुश्मन बना हुआ है और आज की तारीख में भी दुनियाभर में लाखों इंसान इंसान के हाथों मारे जा रहे हैं. यूनाइटेड नेशंस ऑफिस ऑन ड्रग्स एंड क्राइम के अनुसार सन 2012 में 4 लाख 37 हजार लोगों का कत्ल इंसानों ने कर दिया. मच्छरों के बाद इंसानों की सबसे ज्यादा मौत इंसानों की ओर से किए जा रहे हमलों के कारण हुए. अकेले भारत में सालभर में 30,450 लोगों (2016 में) की हत्या कर दी गई. वहीं 2017 में अकेले ब्राजील में 63,880 लोगों की हत्या कर दी गई थी.  मच्छर के बाद सबसे ज्यादा जान इंसान ही लेते हैं. (PHOTO-IANS)

Advertisement
Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay