एडवांस्ड सर्च

Advertisement

प्रभु की ये रेल किसी प्लेन से कम नहीं, 22 मई से सफर पर

प्रभु की ये रेल किसी प्लेन से कम नहीं, 22 मई से सफर पर
1/8
तमाम आधुनिक सुविधाओं से लैस बहुप्रतीक्षित ट्रेन तेजस एक्सप्रेस को 22 मई को मुंबई से गोवा के लिए हरी झंडी दिखाकर रवाना किया जाएगा.
प्रभु की ये रेल किसी प्लेन से कम नहीं, 22 मई से सफर पर
2/8
इस ट्रेन में सीसीटीवी कैमरे, एलईडी टीवी, चाय और कॉफी की वेंडिंग मशीनों के साथ ही धुआं और आग का पता लगाने वाली प्रणाली भी लगाई गई है. इन सीटों के सामने LED डिस्प्ले लगे हुए हैं जिसमें टचस्क्रीन कंट्रोल में और इसी में USB चार्जिंग की सुविधा भी दी गई है.
प्रभु की ये रेल किसी प्लेन से कम नहीं, 22 मई से सफर पर
3/8
तेजस एक्सप्रेस में पावर कार में अग्निशमन प्रणाली लगाई गई है. हर एक डिब्बे में आग की सूचना देने वाले अलार्म सिस्टम को लगाया गया है और हर जगह अग्निशामक यंत्रों की व्यवस्था की गई है. सीट पर बैठने वाले यात्री को थोड़ा कम जगह मिलेगी. इसके अलावा इस डिब्बे में लगी सीटों में लक सपोर्ट नहीं होगा.
प्रभु की ये रेल किसी प्लेन से कम नहीं, 22 मई से सफर पर
4/8
ट्रेन में बैठने की व्यवस्था भी बेहतर होगी और हर सीट के लिए एलईडी टीवी तथा कॉल बेल सुविधा भी होगी.
प्रभु की ये रेल किसी प्लेन से कम नहीं, 22 मई से सफर पर
5/8
इन डिब्बों का निर्माण कपूरथला स्थित रेल कोच फैक्ट्री में किया गया है और इसमें ऑटोमेटिक दरवाजे होंगे.
प्रभु की ये रेल किसी प्लेन से कम नहीं, 22 मई से सफर पर
6/8
तेजस एक्सप्रेस की घोषणा बजट में की गई थी और रेलवे के अनुसार दिल्ली-चंडीगढ़ और दिल्ली-लखनउ के बीच भी तेजस एक्सप्रेस ट्रेनें शुरू होंगी.
प्रभु की ये रेल किसी प्लेन से कम नहीं, 22 मई से सफर पर
7/8
तेजस एक्सप्रेस के हर एक डिब्बे को बनाने में रेलवे को 3 करोड़ 25 लाख रुपये खर्च करने पड़े हैं.

प्रभु की ये रेल किसी प्लेन से कम नहीं, 22 मई से सफर पर
8/8
तेजस एक्सप्रेस के हर एक डिब्बे को बनाने में रेलवे को 3 करोड़ 25 लाख रुपये खर्च करने पड़े हैं.

Posted by: Amit Kumar Dubey
Advertisement
NEXT PHOTO GALLERY
Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay