एडवांस्ड सर्च

Advertisement

तस्वीरों में देखें: SOS पंजाब कॉन्क्लेव की झलकियां

aajtak.in [Edited By: अमित दुबे]
07 February 2019
तस्वीरों में देखें: SOS पंजाब कॉन्क्लेव की झलकियां
1/10
इंडिया टुडे के स्टेट ऑफ स्टेट्स पंजाब कार्यक्रम में मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह भी पहुंचे. अमरिंदर सिंह ने कहा कि जब से पंजाब में कांग्रेस की सरकार आई है तभी राज्य की स्थिति सुधर रही है. कैप्टन ने कहा कि पूर्व की सरकार से उन्हें खाली खजाना मिला था, राज्य के ऊपर बड़ा कर्ज था. उन्होंने केंद्र सरकार पर भेदभाव का आरोप भी लगाया.
तस्वीरों में देखें: SOS पंजाब कॉन्क्लेव की झलकियां
2/10
अमरिंदर सिंह की मानें तो नौकरी के मामले में उनकी सरकार ने बेहतरीन काम किया है. केंद्र पर हमला बोलते हुए अमरिंदर ने कहा कि मोदी सरकार की नीतियों का कोई फायदा नहीं पहुंच रहा है. मौजूदा समय में केन्द्र सरकार के सभी गोदाम चावल और गेहूं से भरे हुए हैं. अब कुछ ही दिनों में नई फसल आने वाली है और हमें अपनी फसल को रखने के लिए कोई जगह नहीं है. मुख्यमंत्री ने इंडिया टुडे के मंच से किसानों के लिए स्वामीनाथन कमीशन की सिफारिशों को देश में लागू करने की मांग की.
तस्वीरों में देखें: SOS पंजाब कॉन्क्लेव की झलकियां
3/10
भारती एंटरप्राइज के वाइस चेयरमैन राकेश भारती मित्तल ने अमरिंदर सरकार की तारीफ करते हुए कहा कि मौजूदा राज्य सरकार ने ड्रग्स की समस्या पर काफी हद तक काबू पा लिया है. लेकिन अब भी युवाओं को ड्रग्स से बचाने के लिए बहुत कुछ करने की जरूरत है. उन्होंने कहा कि अब सरकार को जरूरत है कि पंजाब से ड्रग्स की लत को जड़ से उखाड़ फेंकने के लिए पहले युवाओं के लिए रोजगार के अवसर पैदा करे.
तस्वीरों में देखें: SOS पंजाब कॉन्क्लेव की झलकियां
4/10
पंजाब SOS कार्यक्रम में इतिहासकार बीएन गोस्वामी ने सवाल उठाया कि देश के सांस्कृतिक मैप पर आखिर पंजाब का स्थान क्यों नहीं है? 'थि‍एटर एंड ऑर्ट' पर अपनी राय देते हुए उन्होंने कहा कि यह जुमला चलता है कि पंजाब में कल्चर नहीं, एग्रीकल्चर है. गोस्वामी की मानें तो इस मसले पर तत्काल मंथन की जरूरत है. हम पंजाबियों को इस बात का गर्व होगा कि हमारी संस्कृति कितनी समृद्ध‍ि है. कला का संदेश छोटी जगहों तक पहुंचाना होगा.
तस्वीरों में देखें: SOS पंजाब कॉन्क्लेव की झलकियां
5/10
वहीं चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी के वाइस चांसलर आर एस बावा का कहना है कि अगर अमरिंदर सरकार स्कूलों की स्थिति सुधारना चाहती है तो सबसे पहले सरकारी स्कूलों में पढ़ाने वाले शिक्षकों को आदेश दे कि वो अपने बच्चों को सरकारी स्कूल में ही पढ़ाएं. इसके अलावा उन्होंने पंजाब में शिक्षा का स्तर सुधारने के लिए कई सुझाव दिए.
तस्वीरों में देखें: SOS पंजाब कॉन्क्लेव की झलकियां
6/10
पंजाब एग्री यूनिवर्सिटी के वाइस चांसलर प्रोफेसर बीएस ढिल्लन ने कहा कि पंजाब के ग्रामीण इलाकों में शिक्षा का स्तर नीचे गया है. ढिल्लन ने उदाहरण देते हुए कहा कि बचपन में वो जिस स्कूल में पढ़ते थे आज वह स्कूल बंद हो चुका है. उन्होंने कहा कि कृषि में पंजाब का अहम स्थान है और आगे भी रहेगा.
तस्वीरों में देखें: SOS पंजाब कॉन्क्लेव की झलकियां
7/10
SoS पंजाब के सत्र 'व्हाट नीड्स टू बी डन' में हीरो एंटरप्राइज के चेयरमैन सुनील कांत मुंजाल ने भी शिरकत की. मुंजाल ने कहा कि उद्योग में वास्तविक ग्रोथ के लिए हमें दूसरों की बराबरी से ज्यादा दूसरों से आगे की सोचने की जरूरत है. उन्होंने कहा कि किसी क्षेत्र में पूर्ण विकसित होने के बाद जरूरी हो जाता है कि वह अपने क्षेत्र के दायरे को आगे बढ़ाए.
तस्वीरों में देखें: SOS पंजाब कॉन्क्लेव की झलकियां
8/10
पंजाब के वित्त और योजना मंत्री मनप्रीत सिंह बादल ने इंडिया टुडे के इस कार्यक्रम कहा कि पंजाब के लोगों का सम्मान पूरा देश करता है. किसानों के लिए अंतरिम बजट में शुरू की गई योजना पर मनप्रीत बादल ने कहा कि यह पूरी तरह से चुनावी है. बादल ने कहा कि मोदी सरकार की किस्मत अच्छी है कि उनकी सरकार बनने के बाद वैश्विक स्तर पर कच्चे तेल की कीमतें बेहद कम थी और इसके फायदा केन्द्र सरकार को मिला.
तस्वीरों में देखें: SOS पंजाब कॉन्क्लेव की झलकियां
9/10
इंडिया टुडे स्टेट ऑफ स्टेट्स के आख़िरी सत्र में 'म्यूजिक मेड इन पंजाब' में सिंगर और कम्पोजर सतिंदर सरताज पहुंचे. सरताज का कहना है कि कलाकार हमेशा प्यार का भूखा होता है. उन्होंने कहा कि आज की तारीख में जो चीजें बिक रही हैं उसे बनाने में कोई हर्ज नहीं है. अगर ऑडियंस कुछ डिमांड कर रही है तो आप उस डिमांड के आगे कुछ कर नहीं सकते.
तस्वीरों में देखें: SOS पंजाब कॉन्क्लेव की झलकियां
10/10
कार्यक्रम में पहुंचीं गिन्नी माही ने अपने गानों से समां बांध दिया. बातचीत के दौरान माही ने बताया कि उनका पंजाब से गहरा लगाव है. गिन्नी ने कहा, 'मैं भाग्यशाली हूं कि यहां का फोक बेहतरीन है.' उन्होंने कहा कि भले ही उनके माता-पिता विदेश में रहते हों. लेकिन पंजाब से उनका गहरा नाता है.
Advertisement
Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay