एडवांस्ड सर्च

Advertisement

इंडिया टुडे के कैमरे में कैद सूखे की मार झेल रहे राज्यों की भयावह तस्वीरें

बंदीप सिंह [Edited by: सुजीत कुमार]
20 June 2019
इंडिया टुडे के कैमरे में कैद सूखे की मार झेल रहे राज्यों की भयावह तस्वीरें
1/9
'सूखा' शब्द सुनते ही आपके जेहन में कैसी तस्वीर उभरती है. कुछ ऐसी जैसी सूखी धरती में दरार और बिना फसल के खेत. लेकिन हर साल सूखा का सामना कर रहे देश के कुछ हिस्सों की तस्वीरें उससे भी कई गुना भयावह है. इंडिया टुडे के कैमरों ने कुछ ऐसी ही दर्दनाक तस्वीरें कैद की हैं, जिसे देखकर यकीनन आपकी रूह कांप जाएगी. इस साल मध्य भारत के लगभग सभी राज्य भंयकर सूखे का सामना कर रहे हैं. इन राज्यों के लोग बूंद-बूंद पानी को तरस रहे हैं. इंडिया टुडे ने सूखा का सामना कर रहे कई जिलों में अपने फोटो जर्नलिस्ट को भेजा. वहां से जो तस्वीरें मिली हैं वो समाचार रिपोर्टों, आंकड़ों और मौसम के ग्राफ से परे हैं...सचमुच दिल दहलाने वाली.

इस तस्वीर में है बुंदेलखंड का कालू, जिसने जीवन के छह वसंत ही अब तक देखे हैं लेकिन प्रकृति की ऐसी मार पड़ी कि उसे घर में पानी भी नसीब नहीं हो रहा. ऐसे में उत्तर प्रदेश के बांदा में लगभग सूखी केन नदी के पानी से अपने कंठ को तर करने की कोशिश कर रहा है. (फोटो: मनीष अग्निहोत्री, 10 जून 2019)

इंडिया टुडे के कैमरे में कैद सूखे की मार झेल रहे राज्यों की भयावह तस्वीरें
2/9
धरती तो धरती...डैम भी ऐसे सूखा कि तार तार हो गया. कर्नाटक के कोप्पल जिले में मुदलापुर बांध का एक नजारा. कोप्पल सबसे ज्यादा सूखा प्रभावित जिलों में से एक है. (फोटो: सतीश )
इंडिया टुडे के कैमरे में कैद सूखे की मार झेल रहे राज्यों की भयावह तस्वीरें
3/9
कर्नाटक के कोप्पल जिले में सूखा पड़ा मुदलापुर बांध. प्रदेश के 30 जिलों में से 23 जिलों को सूखा प्रभावित घोषित किया गया है. जिसमें से एक है कोप्पल. (फोटो: सतीश)

इंडिया टुडे के कैमरे में कैद सूखे की मार झेल रहे राज्यों की भयावह तस्वीरें
4/9
महाराष्ट्र में नासिक जिले के त्रयंबकेश्वर के पास सूखे की मार कैसी है. इसका दृश्य. बांध के छोटे से हिस्से में कुछ पानी बचा है. इस पर टूट पड़े किसान. क्योंकि उन्हें जीना है. अन्न के कुछ दाने पाने हैं. उसी से पूरे परिवार का भेट भी भरना है. पानी में सिंचाई के लिए डाले गए पाइप. (11 जून)
इंडिया टुडे के कैमरे में कैद सूखे की मार झेल रहे राज्यों की भयावह तस्वीरें
5/9
ये पानी नहीं अमृत है. जी हां, महाराष्ट्र के पालघर जिले के मोखदा कस्बे में सूखे की मार झेल रहे इस ग्रामीण ने कुएं की गहराई में जाकर थोड़ा सा पानी निकाला है. इसके लिए यह 'अमृत' है. (फोटो: मंदार देवधर)
इंडिया टुडे के कैमरे में कैद सूखे की मार झेल रहे राज्यों की भयावह तस्वीरें
6/9
पानी पानी रे: राजस्थान के जैसलमेर स्थित चोगहरिया गांव में एक टैंकर आया है. कई किलोमीटर दूर से भागकर महिलाएं तो महिलाएं, बच्चे भी आए हैं. सभी कतार में खड़े हैं, क्योंकि एक घड़ा पानी से पूरे परिवार की प्यास बुझानी है. (फोटो: पुरुषोतम दिवाकर, 9 जून 2019)

इंडिया टुडे के कैमरे में कैद सूखे की मार झेल रहे राज्यों की भयावह तस्वीरें
7/9
कैसे बुझेगी प्यास: राजस्थान के जैसलमेर में टैंकर की राह देखतीं महिलाएं. सतरवाली गांव की तस्वीरें जहां 2 किलोमीटर चलकर महिलाएं पानी लेने आई हैं. (फोटो: पुरुषोतम दिवाकर, 9 जून 2019)
इंडिया टुडे के कैमरे में कैद सूखे की मार झेल रहे राज्यों की भयावह तस्वीरें
8/9
ह्रदय विदारक: देखिए प्रकृति की कैसी मार पड़ी है. ये कोई कालाहांडी का दृश्य नहीं है. ये है राजस्थान के पोकरण स्थित खेतोलाई गांव की तस्वीर, जहां NH 11 पर मवेशियों का कंकाल ले जाता एक वाहन  (फोटो: पुरुषोतम दिवाकर, 10 जून 2019)
इंडिया टुडे के कैमरे में कैद सूखे की मार झेल रहे राज्यों की भयावह तस्वीरें
9/9
मछली जल की रानी है, जीवन उसका पानी है...हाथ लगाओ डर जाएगी, बाहर निकालो मर जाएगी...चेन्नई के चेम्बरमबक्कम झील में इन मछलियों को बाहर नहीं निकाला गया है, बल्कि झील सूख गई और इन्होंने तड़प-तड़प कर जान दे दी. (फोटो: जैसन, 11 जून 2019)

Advertisement
Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay