एडवांस्ड सर्च

Advertisement

उफान पर नदियां, डूबे पुल, तालाब बने घर...MP की तस्वीरें डरा देंगी

रवीश पाल सिंह
09 September 2019
उफान पर नदियां, डूबे पुल, तालाब बने घर...MP की तस्वीरें डरा देंगी
1/9
कहने को तो मॉनसून खत्म होने को है लेकिन आसमान से बरसती बूंदों में अभी भी इतना जोर है कि जमीन पर तबाही मची है. मध्य प्रदेश में भारी बारिश से नदियों की धार में इतना जोर है कि कहीं बसें बह रही हैं, तो कहीं बस्तियां सैलाब की चपेट में आ गई हैं.
उफान पर नदियां, डूबे पुल, तालाब बने घर...MP की तस्वीरें डरा देंगी
2/9
मध्य प्रदेश के कई शहरों में भारी बारिश और बाढ़ ने कहर बरपा रखा है. नदियों उफान पर हैं, जिससे शहर के कई इलाके सैलाब में डूब गए हैं. राज्य के 32 जिलों में बाढ़ का अलर्ट जारी है. भोपाल में सोमवार को सभी स्कूल भी बंद हैं. लगातार हो रही बारिश मुसीबत बनती जा रही है. वहीं मौसम विभाग ने अगले 3-4 दिनों तक बारिश की चेतावनी दी है.

फोटो-IANS
उफान पर नदियां, डूबे पुल, तालाब बने घर...MP की तस्वीरें डरा देंगी
3/9
मंडला जिले में रिकॉर्ड 134 मिली मीटर बारिश होने से घरों, दुकानों में पानी घुस गया है. मध्य प्रदेश के सीहोर में पार्वती नदी उफान पर है जिससे नदी का पानी पुल के ऊपर बह रहा है. वहीं जबलपुर में बारिश से नर्मदा नदी पर बना बरगी बांध लबालब है. लगातार बढ़ते जलस्तर को देखते हुए बरगी बांध के सभी 21 गेटों को खोलने का फैसला लिया गया है. इसके अलावा एहतियात के तौर पर तटीय इलाकों को अलर्ट कर दिया गया है.
उफान पर नदियां, डूबे पुल, तालाब बने घर...MP की तस्वीरें डरा देंगी
4/9
भोपाल से सटे विदिशा में हालात और भी बदतर हो चुके हैं. विदिशा में 24 घंटों के दौरान 178.5 मिलीमीटर बारिश रिकॉर्ड की गई है, जिसके बाद विदिशा की कई कॉलोनियों में बारिश का पानी भर गया है. नीम ताल के पास बनी इंदिरा कॉम्प्लेक्स कॉलोनी के कई घर पानी में डूब चुके हैं. यहां सड़कों पर घुटनों तक पानी है तो घरों के अंदर एक से डेढ़ फीट पानी घुस चुका है, जिसके कारण घरों में रखा काफी सारा सामान खराब हो चुका है.

उफान पर नदियां, डूबे पुल, तालाब बने घर...MP की तस्वीरें डरा देंगी
5/9
वहीं, बेतवा नदी ने अपनी हदों को तोड़ते हुए कई घाटों और निचले इलाकों में बने रिहायशी इलाकों को अपनी चपेट में ले लिया है. नदीपुरा इलाके में सुबह से बेतवा नदी का पानी घुसना शुरू हुआ, जिसके बाद 25 लोगों को अब तक वहां से नाव के जरिए निकाला जा चुका है. वहीं बेतवा नदी किनारे बना प्रसिद्ध चरणतीर्थ घाट और उसमें बने मंदिर पूरी तरह नदी के पानी में समा चुके हैं. कई मंदिरों का तो सिर्फ शिखर नजर आ रहा है.
उफान पर नदियां, डूबे पुल, तालाब बने घर...MP की तस्वीरें डरा देंगी
6/9
प्रशासन ने लोगों को नदी किनारे ना जाने की हिदायत दी है और सभी निचले इलाकों में नाव के साथ होमगार्ड के जवानों को तैनात किया गया है.

उफान पर नदियां, डूबे पुल, तालाब बने घर...MP की तस्वीरें डरा देंगी
7/9
लगातार बारिश के चलते भोपाल के भदभदा और कलियासोत डैम के गेट खोलने पड़े. कलियासोत डैम के गेट खोलने के बाद दामखेड़ा गांव की कुछ झुग्गियों में कलियासोत नदी का पानी घुस गया जिसके बाद वहां से लोगों को नगर निगम की टीम ने बाहर निकाला. लोगों को इलाके के ही सामुदायिक केंद्र में ठहराया गया है.
उफान पर नदियां, डूबे पुल, तालाब बने घर...MP की तस्वीरें डरा देंगी
8/9
भोपाल सहित राज्य के कई हिस्सों में हुई जोरदार बारिश के कारण जन-जीवन बुरी तरह प्रभावित है. बारिश के कारण निचली बस्तियों में पानी भर गया है, जिसे लोगों को आने-जाने में काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है. पुलिस और प्रशासन ने नर्मदा नदी किनारे की बस्तियों के लोगों को सतर्क कर दिया है. वहीं सिवनी जिले में बैनगंगा नदी पर बने संजय सरोवर बांध के पांच गेट खोले गए हैं. बारिश के चलते भोपाल-सागर मार्ग पर आवागमन प्रभावित है.
उफान पर नदियां, डूबे पुल, तालाब बने घर...MP की तस्वीरें डरा देंगी
9/9
मौसम विभाग ने मध्य प्रदेश के कई हिस्सों में अगले भारी बारिश का ऑरेंज अलर्ट भी जारी किया है. मौसम विभाग के मुताबिक विदिशा, रायसेन, सीहोर, भोपाल, होशंगाबाद, राजगढ़, हरदा, बैतूल, बुरहानपुर, खंडवा, खरगोन, बड़वानी, देवास, शाजापुर, अशोकनगर, श्योपुरकला, रीवा, सतना, अनूपपुर, डिंडोरी, जबलपुर, नरसिंहपुर, छिंदवाड़ा, मंडला, सिवनी, बालाघाट, पन्ना, दमोह, सागर समेत कई इलाकों में भारी बारिश हो सकती है.

फोटो-IANS
Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay