एडवांस्ड सर्च

#Metoo कैंपेन पर बोलीं काजोल- अब लोग शर्माते नहीं, बोलते हैं

बॉलीवुड में इन दिनों  #me too कैंपेन चर्चा में है. काजोल ने भी इस कैंपेन पर अपनी प्रतिक्रिया दी.

Advertisement
aajtak.in
हंसा कोरंगा नई दिल्ली, 08 October 2018
#Metoo कैंपेन पर बोलीं काजोल- अब लोग शर्माते नहीं, बोलते हैं काजोल (फोटो- इंस्टाग्राम)

एक्ट्रेस काजोल ने आज तक के खास कार्यक्रम सीधी बात में #MeToo कैंपेन पर रिएक्ट किया. उनसे सीनियर जर्नलिस्ट श्वेता सिंह ने सवाल पूछा कि #MeToo कैंपेन जब विदेशों में होता है तो बॉलीवुड से भी आवाज उठती है, लेकिन जब यहां एक आवाज उठती है तो क्या ये खामोशी चुभती है?

इसके जवाब में काजोल ने कहा-  ''ये #me too कैंपेन शानदार कैंपेन है. इस कैंपेन का अहम मकसद ये था कि जिन चीजों के बारे में आपको लगता है कि शर्माना चाहिए, बात नहीं करनी चाहिए, ये चीजें हैं जिस पर आप बात कर सकते हैं.''

पति की ये फिल्में हैं काजोल की फेवरेट

इंटरव्यू के दौरान काजोल ने अजय देवगन की पसंदीदा फिल्मों के बारे में बताया. कहा कि उन्हें अजय देवगन की फिल्म- सिंघम, गोलमाल और रेड काफी पसंद हैं. गोलमाल के बारे में काजोल ने कहा कि यह उनके लिए एक बड़ी उपलब्धि थी क्योंकि गोलमाल में जो उन्होंने किया वह उनके वास्तविक स्वभाव से बिलकुल विपरीत है. अजय वास्तविक जीवन में काफी शांत हैं और उस किरदार को खुद में साधने के लिए उन्हें काफी मेहनत करनी पड़ी.

काजोल को नहीं बनना था एक्ट्रेस

काजोल ने बताया कि उनका एक्ट्रेस बनने का कोई प्लान नहीं था. उन्होंने कहा, "दुर्घटनावश एक्ट्रेस बन गई. मेरी बहन को फिल्मों में आना था. उसके साथ फोटोशूट पर जाया करती थी. मां ने कहा कि वहां उसके साथ हो तुम भी फोटोज करा लो. काजोल ने कहा कि मेरी तस्वीरें निर्देशकों के पास सर्कुलेट होने लगीं और एक दिन एक निर्देशक ने उनसे कहा कि वह उनकी फिल्म करना चाहेंगी? काजोल ने कहा कि फिल्म की शूटिंग के लिए 2 महीने के लिए कनाडा जाना था और उनकी 2 महीने की ही छुट्टियां थीं. उन्हें लगा कि यह एक शानदार मौका है. वह चली गईं और उसके बाद उन्हें इस काम से प्यार हो गया और वह इसी में सेट हो गईं.''

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay