एडवांस्ड सर्च

मोदी के खिलाफ ब्रिटिश अखबार ने छापी रिपोर्ट, शेखर कपूर बोले - 'देश के वोटर्स से ज्यादा जानते हो?'

उन्होंने ट्वीट करते हुए  लिखा - भारत को अंधकार युग में भेजने वाला विदेशी मीडिया गार्डियन भारत में रहने वाले करोड़ों नौजवानों की ज़िंदगियों, उम्मीदों और महत्वाकांक्षाओं के बारे में ज्यादा जानता है?

Advertisement
aajtak.in
aajtak.in नई दिल्ली, 25 May 2019
मोदी के खिलाफ ब्रिटिश अखबार ने छापी रिपोर्ट, शेखर कपूर बोले - 'देश के वोटर्स से ज्यादा जानते हो?' शेखर कपूर

लोकसभा चुनाव में मोदी सरकार की बंपर जीत के बाद से कई सेलेब्स ने अपनी प्रतिक्रियाएं सामने रखी हैं. शाहरुख, सलमान, अक्षय कुमार समेत तमाम सितारों ने मोदी सरकार को इस जीत की बधाई दी है वही कई सितारे ऐसे भी थे जिन्होंने पीएम मोदी से इस जीत के बाद कुछ गंभीर सवाल भी किए हैं. इनमें अनुराग कश्यप और स्वरा भास्कर जैसे सितारों का नाम भी लिया जा सकता है. कई सितारे कई चुनावी विश्लेषण से भरी रिपोर्ट्स भी शेयर कर रहे हैं. हाल ही में वरिष्ठ डायरेक्टर शेखर कपूर ने प्रतिष्ठित विदेशी अखबार दि गार्डियन की एक रिपोर्ट शेयर करते हुए अखबार पर तंज कसा है.

दि गार्डियन की ये रिपोर्ट पीएम मोदी के दोबारा प्रधानमंत्री चुने जाने पर प्रकाशित हुई है. इस आर्टिकल में कहा गया है कि देश में बढ़ती बेरोजगारी, खस्ताहाल अर्थव्यवस्था और हिंदू मुस्लिम के हिंसक ध्रुवीकरण के चलते मोदी देश को अंधकार युग में ले जा सकते हैं.

इस रिपोर्ट के बारे में शेखर कपूर ने ट्वीट किया है. उन्होंने ट्वीट करते हुए  लिखा - भारत को अंधकार युग में भेजने वाला विदेशी मीडिया गार्डियन भारत में रहने वाले करोड़ों नौजवानों की ज़िंदगियों, उम्मीदों और महत्वाकांक्षाओं के बारे में ज्यादा जानता है जो पहली बार मतदान के लिए चुनावी मैदान में उतरे हैं और जिन्होंने देश और अपने भविष्य के लिए अपनी पसंद पर भरोसा किया है.

गौरतलब है कि शेखर कपूर सोशल मीडिया पर काफी एक्टिव हैं और अपनी पॉलिटिकल राय भी लोगों के साथ साझा करते रहते हैं. उन्होंने इससे पहले ट्वीट करते हुए कहा था - ये दुनिया ये मानने को तैयार ही नहीं है कि भारत के वोटर्स का अपना खुद का दिमाग भी हो सकता है ? मैं जिस तरह की खबरें पढ़ रहा हूं उससे मुझे एहसास हो रहा है कि भारत के वोटर्स ने भेड़चाल में वोट दिया है. 85 मिलियन नौजवान वो थे जिन्होंने पहली बार वोट दिया है और इन लोगों ने अपने उज्जवल भविष्य के लिए वोट दिया है. ऐसा नतीजे साबित कर देंगे.'

गौरतलब है कि शेखर कपूर की साहसी फिल्म बैंडिंट क्वीन उस दौर में कई निर्देशकों के लिए काफी प्रेरणादायक साबित हुई थी. इस फिल्म ने विवाद के साथ ही साथ अपने कंटेंट के लिए देश-विदेश में काफी सुर्खियां बटोरी थीं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay