एडवांस्ड सर्च

नेपाल के इस मंदिर में दी जाती है हजारों पशुओं की बलि

भारत में हिंदू धर्मावलंबियों का सबसे बड़ा जमावड़ा कुंभ मेले के दौरान देखने को मिलता है तो वहीं नेपाल में ये जमावड़ा हर साल बारा जिले के गदिमाई मंदिर में लगता है. ये मंदिर सबसे ज्यादा पशुओं की बलि दिए जाने के लिए जाना जाता है.

Advertisement
aajtak.in
गणेश शंकर [Edited By: सुवासित]रक्सौल, 16 January 2015
नेपाल के इस मंदिर में दी जाती है हजारों पशुओं की बलि Symbolic Image

भारत में हिंदू धर्मावलंबियों का सबसे बड़ा जमावड़ा कुंभ मेले के दौरान देखने को मिलता है तो वहीं नेपाल में ये जमावड़ा हर साल बारा जिले के गदिमाई मंदिर में लगता है. ये मंदिर सबसे ज्यादा पशुओं की बलि दिए जाने के लिए जाना जाता है.

भक्त अपनी मन्नत पूरी होने के बाद इस मंदिर में पशुओं की बलि देने के लिए आते हैं. हर पांच साल में एक बार आयोजित किए जाने वाले इस मेले में माता को बलि चढ़ाई जाती है. माना जाता है कि इस दौरान विश्व में सबसे ज्यादा पशुओं की बलि इसी मंदिर में दी जाती है. इस साल भी ये पूजा 27 नवंबर से 29 नंवबर तक आयोजित की गई है.

ये मंदिर भारतीय सीमा से 30 किलोमीटर की दूरी पर है. इस पूजा के दौरान मंदिर में जबरदस्त भीड़ होती है. जनसैलाब को देखते हुए यहां के प्रशासनिक अधिकारी सुरक्षा के जबरदस्त इंतजाम रखते हैं.

हालांकि इस बार सुप्रीम कोर्ट ने पशु तस्करी पर रोक लगा दी है जिससे भक्तों को काफी कठिनाइयों का सामना करना पड़ रहा है. मंदिर में दिए जाने वाली बलि के खिलाफ कई सामाजिक संगठनों ने भी मोर्चा खोल रखा है.

समाजसेवी स्वामी अग्निवेश सहित कई पशु सुरक्षा से जुड़े संगठनों ने अभी से ही इलाके में कैंप कर चुके हैं. इन लोगों का कहना है कि इस पूजा का आयोजन करने वाली समिति ने कई बार बलि ना देने की बात कही है लेकिन हर बार वो अपने वादे से मुकर जाते हैं.

भले ही प्रशासन और समाजसेवी संगठन बलि के रोकने के लिए कई प्रयास करते दिखते हैं लेकिन आस्था और विश्वास के आगे सभी बेबस नजर आते हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay