एडवांस्ड सर्च

फिल्ममेकर्स को मिल रही धमकियों पर सरकार चुप क्योंः श्याम बेनेगल

पद्मावती पर चल रहे विवादों के बीच डायरेक्टर श्याम बेनेगल ने सरकार को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि फिल्म के डायरेक्टर्स और एक्टर्स को मिल रही धमकियों पर सरकार कोई एक्शन क्यों नहीं ले रही है.

Advertisement
aajtak.in
स्वाति पांडे नई दिल्ली, 20 November 2017
फिल्ममेकर्स को मिल रही धमकियों पर सरकार चुप क्योंः श्याम बेनेगल पद्मावती में दीपिका पादुकोण

रविवार को पद्मावती के मेकर्स ने फिल्म की रिलीज को टालने की घोषणा कर दी. फिल्म को टालने के पीछे का कारण सेंसर बोर्ड को समय पर फिल्म की कॉपी ना देने या लगातार मिल रही धमकियां हो सकती हैं. इन सब विवादों के बीच डायरेक्टर श्याम बेनेगल ने सरकार को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि फिल्म के डायरेक्टर्स और एक्टर्स को मिल रही धमकियों पर सरकार कोई एक्शन क्यों नहीं ले रही है. बेनेगल को सेंट्रल बोर्ड ऑफ फिल्म सर्टिफिकेशन के नए दिशा-निर्देश बनाने की जिम्मेदारी दी गई है.

बेनेगल ने Indian Express से बात करते हुए कहा- यह लोकतंत्र है. लोग मेरे विचार से सहमत नहीं हो सकते, लेकिन मेरे पास बोलने का अधिकार है. लोग खुलेआम सिर काटने की बात करते हैं और उसे लिए पैसे भी ऑफर कर रहे हैं और इसे रोकने के लिए राज्य सरकार कुछ नहीं कर रही? गृह विभाग और पुलिस को बीच में आना चाहिए सुरक्षा मुहैया कराना चाहिए. जब मुख्यमंत्री और सरकारी सदस्य ही ऐसा दृष्टिकोण रखेंगे तो प्रशासन क्या करेगी?

पद्मावती पर विवाद: BJP नेता की रणवीर सिंह को धमकी- टांग तोड़कर हाथ में दे देंगे

नेशनल टीवी पर खुलेआम मर्डर और अटैक की धमकी देने वालों के खिलाफ क्या सरकार को एक्शन नहीं लेना चाहिए? लोगों को खुलेआम धमकियां मिल रही हैं.

करणी सेना ने दी धमकियां:

गौरतलब है कि श्री करणी सेना इस साल जनवरी से ही फिल्म का विरोध कर रही है. उन्होंने धमकी दी है कि जो भी थिएटर फिल्म दिखाएगी, उसे वो जला देंगे. वहीं उनके राजस्थीन यूनिट के हेड ने दीपिका पादुकोण का नाक काटने की भी धमकी दे दी है.

CBFC की फटकार के बाद मेकर्स की सफाई, अब अगले साल आएगी फिल्म!

वसुंधरा राजे ने चिट्ठी लिख बदलाव की मांग की:

इसके पहले शनिवार को राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने सूचना और प्रसारण मंत्री स्मृति ईरानी को चिट्ठी लिख कहा है कि फिल्म में जब तक जरूरी बदलाव ना हो, तब तक इसे रिलीज ना किया जाए. उन्होंने कहा है कि फेमस इतिहासकारों, फिल्म पर्सनैलिटीज के सदस्यों की एक समिती को फिल्म की कहानी पर विस्तार से चर्चा करना चाहिए.

राजे ने सेंसर बोर्ड को सर्टिफिकेट देने से पहले सभी परिणामों के बारे में सोच लेने के लिए कहा है. इंदौर में केंद्रीय मंत्री थंवर सिंह गहलोत ने सेंसर बोर्ड को फिल्म से आपत्तिजनक सीन्स हटाने के लिए कहा है.

बेनेगल समिती ने सीबीएफसी के नए दिशा-निर्देशों वाली रिपोर्ट तैयार कर ली है, लेकिन कोई भी जानकारी अभी सामने नहीं आई है. केंद्र को सुझावों के दो सेट भेज दिए गए हैं. एक अप्रैल में भेजा गया था और दूसरा सितंबर में.

क्या झूठ बोल रहे हैं पद्मावती के निर्माता? सेंसर ने वापस कर दी है फिल्म

टल गई रिलीज:

लगातार कई संगठनों के विरोध का सामना कर रही फि‍ल्म पद्मावती के मेकर्स ने आखि‍रकार इस फिल्म की रिलीज को स्थिगत कर दिया है. वायकॉम 18 मोशन पिक्चर्स की ओर से जारी एक आधि‍कारिक बयान में कहा गया है कि 1 दिसंबर 2017 को रिलीज होने जा रही फिल्म पद्मावती को स्थगित किया गया है.

जानें क्या कहा गया है बयान में:

वायकॉम 18 मोशन पिक्चर्स की ओर से जारी इस बयान में कहा गया है, 'पद्मावती' को बनाने के पीछे जिस स्टूडियो ने काम किया है वह स्वेच्छा से 1 दिसंबर 2017 को होने वाली फिल्म रिलीज को स्थगित करता है. सबसे प्रतिभाशाली फिल्म निर्माताओं में एक संजय लीला भंसाली के साथ वायाकॉम 18 मोशन पिक्चर्स ने एक सुंदर सिनेमाई मास्टरपीस बनाई है 'पद्मावती'. जिसमें राजपूत वीरता, गरिमा और परंपरा को फिल्माया गया है.  यह फिल्म एक ऐसी कहानी है जो सभी भारतीयों को गर्व से भर देगी और दुनिया भर में हमारे देश की कहानी को बयां करने के कौशल का प्रदर्शन करती है.'

पद्मावती: 1 हफ्ते में दूसरी बार फूटा दीपिका का गुस्सा, बोलीं- 'शर्मनाक है विरोध'

हम एक जिम्मेदार, कानून-पालन करने वाले कॉर्पोरेट नागरिक हैं और अपने देश के कानून और संस्थानों जिनमें सेंसर बोर्ड भी शामिल है के लिए हमारे दिल में उच्चतम सम्मान है. हम हमेशा स्थापित प्रक्रिया और सम्मेलन का पालन करते रहने के लिए प्रतिबद्ध हैं. हमें विश्वास है कि हम जल्दी ही फिल्म को रिलीज करने के लिए अपेक्षित मंजूरी और जल्द बदली हुई रिलीज तारीख की घोषणा करेंगे.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay