एडवांस्ड सर्च

कोरोना के इस दौर में महाभारत कैसे प्रासंगिक, स्वयं 'कृष्ण' ने बताया

टीवी सीरियल महाभारत में कृष्ण का रोल प्ले करने वाले एक्टर नितीश भारद्वाज ने बताया है कि कोरोना के इस दौर में महाभारत किस तरह से प्रासंगिक है और इससे हम क्या ज्ञान अर्जित कर सकते हैं.

Advertisement
aajtak.in
aajtak.in नई दिल्ली, 01 April 2020
कोरोना के इस दौर में महाभारत कैसे प्रासंगिक, स्वयं 'कृष्ण' ने बताया नितीश भारद्वाज

कोरोना वायरस की वजह से पूरे देश में लॉक डाउन है और नागरिकों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है. सभी के लिए ये एक बड़ी चुनौती है कि वे सारा दिन घर में क्या करें. ऐसे में पब्लिक डिमांड पर सरकार द्वारा दूरदर्शन पर रामायण और महाभारत का फिर से प्रसारण किया जा रहा है जिसे लोग खूब पसंद भी कर रहे हैं. टीवी सीरियल महाभारत में कृष्ण का रोल प्ले करने वाले एक्टर नितीश भारद्वाज ने बताया है कि कोरोना के इस दौर में महाभारत किस तरह से प्रासंगिक है और इससे हम क्या ज्ञान अर्जित कर सकते हैं.

नितीश भारद्वाज ने महाभारत के दौरान कि कुछ कहानियां दर्शकों को फेसबुक पर एक वीडियो के जरिए सुनाई और ये समझाने की कोशिश की कि किस तरह से महाभारत की समझ आपको दुनियाभर में चल रहे कोरोना के प्रभाव से और उसके असर से रूबरू करा सकती है. उनके मुताबिक भविष्य में प्रकृति के प्रति जागरुकता को विकसित करने में भी महाभारत अहम योगदान दे सकती है.

11 दिन से एडमिट कनिका कपूर, 5 बार हुआ टेस्ट, फिर निकलीं कोरोना पॉजिटिव

अक्षय ने लॉकडाउन को सलमान खान के शो से किया कंपेयर, बोले- भगवान बिग बॉस हैं

उन्होंने कुछ उदाहरण के जरिए बताया कि कैसे पुराने समय में हमनें प्रकृति के साथ खिलवाड़ किया और इसका नतीजा ये निकला कि धरती पर हर एक जीव का अंत हो गया. नितीश ने कहा कि अगर हम सचेत नहीं हुए तो जैसे कुछ ही क्षणों में डायनासोर्स का अंत हो गया था वैसा ही इंसानों के साथ भी हो सकता है. एक तीव्र भुकंप और सब कुछ तहस-नहस हो जाएगा.

कोरोना की वजह से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने लॉकडाउन का ऐलान किया. लोगों ने घर से निकलना कम किया. इसका नतीजा ये निकला कि प्रकृतिक सौंदर्य फिर से बढ़ने लगा. सड़कों पर दुर्लभ जानवर निकलने लगे. क्योंकि हमनें पेड़ काटकर इन जानवरों को कष्ट दिए. किसे विकास नहीं चाहिए मगर उसके साथ हमें प्रकृति का भी पूरा ध्यान रखना होगा. मोदी जी ने सयंम और संकल्प की बात की. इसके साथ स्वध्याय और जोड़ दें.

लॉक डाउन के बाद लोग मिलकर करें नए भारत का निर्माण

नितीश ने कहा कि इस लॉक डाउन के बाद हमें एक नवीन भारत का निर्माण करने का अवसर मिला है. हमें इसे गंवाना नहीं चाहिए. हमें इस पर ध्यान देने की जरूरत है कि किस तरह से हम अपनी प्रकृति को और सुंदर बना सकते हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay