एडवांस्ड सर्च

कानूनी विवाद में फंसी फिल्म 'नीरजा', भनोट परिवार ने निर्माताओं पर लगाए गंभीर आरोप

पिछले साल आई फिल्म नीरजा को लोगों ने पसंद किया और सराहा भी. इस फिल्म के लिए सोनम कपूर को नेशनल अवॉर्ड भी मिला. लेकिन अब ये फिल्मों विवादों का हिस्सा बन गई है. जानें, क्या है पूरा मामला...

Advertisement
aajtak.in
वन्‍दना यादव नई दिल्ली, 23 May 2017
कानूनी विवाद में फंसी फिल्म 'नीरजा', भनोट परिवार ने निर्माताओं पर लगाए गंभीर आरोप नीरजा भनोट के किरदार में सोनम कपूर

साल 2016 में सोनम कपूर स्टारर फिल्म 'नीरजा' ने लोगों को एक ऐसी लड़की की कहानी से रूबरू करवाया जिसकी बहादुरी पर देश को नाज है. इस फिल्म के लिए सोनम कपूर को नेशनल अवॉर्ड से भी नवाजा गया है. लेकिन इस फिल्म के साथ अब एक कानूनी विवाद जुड़ बया है. नीरजा भनोट का परिवार उसके जीवन पर बनी फिल्‍म के निर्माताओं के खिलाफ कानूनी कार्रवाई पर विचार कर रहा है.

खबरों के मुताबिक, भनोट परिवार का आरोप है कि निर्माताओं ने फिल्म की कमाई में 10 प्रतिशत हिस्सा उन्हें देने का वादा किया था जिसे निर्माताओं ने पूरा नहीं किया है. इस फिल्म ने दुनिया भर में लगभग 125 करोड़ रुपये की कमाई की थी और सर्वश्रेष्ठ हिन्दी फीचर फिल्म का नेशनल अवॉर्ड भी अपने नाम किया था.

नेशनल अवॉर्ड्स का ऐलान, अक्षय बने बेस्ट एक्टर, सोनम की 'नीरजा' सर्वश्रेष्ठ फिल्म

एक इंटरव्यू में बात करते हुए नीरजा के भाई अनीश भनोट ने कहा कि नीरजा हमेशा कहा करती थी कि अपना काम करो और अन्याय बर्दाश्त नहीं करो. यही बात इस वक्त मैं आपसे कह सकता हूं.

बता दें कि इस फिल्‍म को इस साल के राष्‍ट्रीय पुरस्‍कारों में सर्वश्रेष्‍ठ हिंदी फिल्‍म चुना गया है जबकि सोनम कपूर को इस फिल्‍म के लिए स्‍पेशल मेंशन अवॉर्ड दिया गया है. इस फिल्‍म को 62वें फिल्‍मफेयर अवॉर्ड्स में 6 अलग-अलग पुरस्‍कार दिए गए थे.

नीरजा की मां ने सोनम को दिया ये खास तोहफा

नीरजा भनोट ने 1986 में अपनी बहादुरी से पैन-एम फ्लाइट के 359 यात्रियों की जान बचाई थी. उन्हें मरणोपरांत अशोक चक्र से नवाजा गया था. नीरजा सबसे कम उम्र में अशोक चक्र पाने वाली शख्स‍ियत हैं. फिल्म को राम माधवानी ने डायरेक्ट किया है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay