एडवांस्ड सर्च

जब पाकीजा में काम करने से मीना कुमारी ने कर दिया था इंकार, ऐसे हुई थीं राजी

दरअसल कमाल अमरोही जो मीना कुमारी के पति थे वे इस फिल्म के निर्देशक भी थे. कमाल और मीना के बीच बढ़ती दूरियों का असर इस फिल्म पर भी पड़ा और मीना ने इस फिल्म में आगे काम करने से मना कर दिया.

Advertisement
aajtak.in
aajtak.in नई दिल्ली, 31 March 2020
जब पाकीजा में काम करने से मीना कुमारी ने कर दिया था इंकार, ऐसे हुई थीं राजी मीना कुमारी

बॉलीवुड की मशहूर एक्ट्रेस मीना कुमारी का जन्म 1 अगस्त को दादर (मुंबई) में हुआ था. उन्हें फिल्म इंडस्ट्री की ट्रेजडी क्वीन के नाम से याद रखा जाता है. उनका निजी जीवन कांटों से भरा रहा. उनका असली नाम महजबीं बानो था. जब मीना कुमारी का जन्म हुआ था तो उनके पिता अली बख्श और मां इकबाल बेगम के पास डॉक्टर को देने के लिए पैसे तक न थे.

ऐसी हालत में दोनों ने यह तय कर लिया था वह बच्ची को मुस्लिम यातीमखाने में दे देंगे. देकर आ भी गए लेकिन पिता का मन नहीं माना और वापस जाकर बच्ची को घर ले आए. मीना कुमारी को उनके करियर में जिस फिल्म के लिए सबसे ज्यादा याद किया जाता है वो फिल्म थी पाकीजा. मगर क्या आप जानते हैं कि मीना कुमारी इस फिल्म में काम नहीं करना चाहती थीं.

दरअसल, कमाल अमरोही जो मीना कुमारी के पति थे वे इस फिल्म के निर्देशक भी थे. कमाल और मीना के बीच बढ़ती दूरियों का असर इस फिल्म पर भी पड़ा और मीना ने इस फिल्म में आगे काम करने से मना कर दिया. ऐसे में एक ऐतिहासिक फिल्म का अस्तित्व खतरे में पड़ता नजर आया. तभी नरगिस दत्त और सुनील दत्त ने इन दोनों कलाकारों को इस फिल्म को पूरा करने के लिए किसी तरह राजी किया. उन दिनों मीना कुमारी की तबीयत काफी खराब रहती थी. मगर इसके बावजूद उन्होंने इस फिल्म की शूटिंग की और ये फिल्म भारतीय सिनेमा के इतहास की मास्टरपीस मानी जाती है.

बागी 2 के दो साल पूरे, दिशा ने रोमांटिक फोटोज शेयर कर दी टाइगर को बधाई

10 दिन से एडमिट कनिका, क्यों नहीं मिला कोरोना वायरस से छुटकारा?

शराब की लत ने ले ली जान

कमाल अमरोही से बिगड़ते रिश्ते का ये अंजाम ये हुआ की दोनों ने तलाक ले लिया. इसके बाद मीना कुमारी के जीवन में धर्मेंद्र की एंट्री हुई. मगर ये रिश्ता भी ज्यादा दिनों तक नहीं चल पाया. बताया जाता है कि धर्मेंद्र से अलग होने के बाद मीना खुद को अकेला महसूस करने लगी थीं. अपने अकेलेपन के गम को दूर करने के लिए उन्होंने शराब पीना शुरू कर दिया था. वो दिन रात नशे में डूबी रहती थीं. वह रातभर सोती नहीं थीं.

इस वजह से उन्हें लिवर सिरोसिस बीमारी हो गई थी. ज्यादा बीमार रहने से उनकी हालत बहुत खराब हो गई और उन्होंने महज 39 साल की उम्र में दुनिया को अलविदा कह दिया. 31 मार्च, 1972 को उनका निधन हो गया.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay