एडवांस्ड सर्च

6 जून को रिलीज़ होगा "कहने को हमसफर हैं" का तीसरा सीजन

कहने को हमसफ़र है के तीसरे सीजन में पुराने किरदारों का मेकओवर हो गया है और साथ ही कुछ नए किरदार भी नज़र आएंगे. इस सीरीज के ट्रेलर से ही पता चलता है की इस सीरीज का तीसरा सीजन कितना मज़ेदार होगा.

Advertisement
aajtak.in
साधना कुमार मुंबई, 24 May 2020
6 जून को रिलीज़ होगा "कहने को हमसफर हैं" का तीसरा सीजन कहने को हमसफर हैं

इस लॉकडाउन में जहां दर्शक अपने फेवरेट सीरियल्स के नए एपिसोड्स देखने के लिए तरस रहे हैं वहीं वेब सीरीज में दिलचस्पी रखने वालों के लिए गुड न्यूज़ है. पहले दो सीज़न की शानदार सफलता के बाद, ALTBalaji और ZEE5 फिर से लेकर आ रहा है अपना सबसे सफल वेब सीरीज ''कहने को हमसफ़र हैं'' का तीसरा सीजन. ये 6 जून 2020 को दोनों प्लेटफॉर्म्स में रिलीज़ होगी. इसकी शूटिंग लॉकडाउन होने से पहले ही पूरी कर दी गई थी.

"कहने को हमसफ़र हैं" के तीसरे सीजन में पुराने किरदारों का मेकओवर हो गया है और साथ ही कुछ नए किरदार भी नज़र आएंगे. इस सीरीज के ट्रेलर से ही पता चलता है की इस सीरीज का तीसरा सीजन कितना मज़ेदार होगा.

ट्रेलर के बारे में बात करते हुए, अभिनेता रोनित रॉय ने कहा, “मुझे लगा था की ये शो दर्शकों को पसंद आएगा लेकिन इतना पसंद आएगा ये मैंने कल्पना भी नहीं की थी. मैं तहे दिल से उनका शुक्रिया अदा करना चाहता हूँ कि उन्होंने हमारे दोनों सीजन को इतना प्यार दिया और उन्हीं के प्यार ने इस शो के तीसरे सीजन को संभव बनाया है. मैं अपने दर्शकों को यह कहना चाहता हूँ की तैयार हो जाइये इस धमाकेदार सीजन के लिए जिसमें बहुत सारे चौंकाने वाले खुलासे होंगे और मुझे यकीन है की आप लोग ये मिस नहीं करना चाहेंगे."

गर्मी में सुनील लहरी को आई इसकी याद, एक्ट्रेस संग फोटो शेयर कर कहा- काश ऐसा हो पाता

गुरदीप कोहली ने चुटकी लेते हुए कहा, "इस सीज़न में दर्शकों को एक नई पूनम और उनके कई शेड्स देखने को मिलेंगे. पहली शादी असफल होने के बाद पूनम ने अपने से छोटे व्यक्ति के साथ शादी तो कर ली है लेकिन कहीं न कहीं उसके अंदर अब भी असुरक्षा की भावना है जो उसे घायल करती है. मुझे खुशी है कि मैंने ऐसी भूमिका निभाई है जो तीसरे सीज़न में बहुत बदल गई है. इस सीजन में भी रिश्तों और भावनाओं को इतने अच्छे और मैच्योर तरीके से दिखाया है कि मुझे यकीन है कि दर्शक इसे पसंद करेंगे. ”

क्या ख़ास है तीसरे सीजन में

"कहने को हमसफ़र हैं" में सबकी जिंदगी में बदलाव आ गए हैं. कहानी 4 साल आगे बढ़ गयी है. वेटरन एक्टर रोनित रॉय द्वारा निभाए गए रोहित मेहरा के किरदार में इस सीज़न का पूरा मेकओवर है. रोहित अब पूरी तरह से लापरवाह हो गया है, जीवन में कोई जिम्मेदारी नहीं है. वो अपने से छोटी उम्र की महिलाओं के साथ बिना कुछ सोचे-समझे संबंधों में पड़ रहा है. निशा (अंजुम फ़कीह) और अमायरा (अदिति वासुदेवा) की भी रोहित की ज़िंदगी में एंट्री होती है. रोहित पूरी तरह से अपने नवीनतम रोमांस का आनंद ले रहा है, लेकिन उसका अतीत उसे इस वास्तविकता को स्वीकार करने में असमर्थ बनाता है कि पूनम और अनन्या अब उसकी ज़िन्दगी का हिस्सा नहीं हैं.

अब हम बात करते हैं रोहित की दोनों पूर्व पत्नियों अनन्या और पूनम के बारे में जिसका किरदार निभाया है मोना सिंह और गुरदीप कोहली पुंज ने. अनन्या (मोना सिंह) के किरदार में बहुत बदलाव आए हैं. जो पहले शांत स्वाभाव की थी वो अब एक बहुत मजबूत और जीवंत महिला हैं. रोहित से रिश्ता टूटने के बाद वह एक बहुत ही सफल व्यवसायी और एक एकल माँ है जो अपने खेल में सबसे ऊपर है और केवल उसके दिमाग में उसके बेटे का भविष्य है.

पाताल लोक पर एक और विवाद, बीजेपी विधायक की शिकायत- अनुष्का शर्मा पर लगे रासुका

दूसरी ओर, पूनम (गुरदीप कोहली पुंज) भी बहुत खुश है क्योंकि उसने अभिमन्यु (सुयश संजय नय्यर) के साथ अपना नया जीवन शुरू किया है. उनका ये नया अंदाज़ उनकी असफलता के बाद उनके जीवन में आई शांति और संतुष्टि की भावना को दर्शाता है.

अब बात करते हैं रोहित और पूनम की बेटियों बानी और निक्की की जिसका किरदार निभाया है पूजा बनर्जी और पालक जैन ने. दोनों बहनों को अपने माता-पिता की असफल शादी के कारण जीवन में कई परेशानियों और कठिनाइयों का सामना करना पड़ा. बानी जो अनन्या से नफ़रत करती थी उसका स्वभाव भी अब कुछ-कुछ अनन्या जैसा हो गया है. दूसरी ओर, निकी घर में सबसे छोटी है लेकिन अपने परिवार के सदस्यों को वापस एक करने की कोशिश में लगी है.

इस एक्ट्रेस का भी है अहम रोल

कहने को हमसफ़र हैं के तीसरे सीजन में सबसे महत्वपूर्ण भूमिकाओं में से एक अमायरा होगी, जिसका किरदार निभाया है अदिति वासुदेव ने. इस सीरीज़ में उनका लुक आत्मविश्वास और बोल्डनेस से भरा है, ठीक उसी तरह जिस तरह वह अपने जीवन में हैं.

बता दें की "कहने को हमसफ़र हैं" के दूसरे सीजन में दिखाया गया था की रोहित और अनन्या जिन्होंने एक-दूसरे से बेहद प्यार किया, एक साथ रहने के लिए सभी बाधाओं के खिलाफ लड़े, आगे चलकर उनका रिश्ता टूट गया और एक-दूसरे को घृणा करने लगे. नए रिश्तों, रूप-रंग, और जीवन का एक नया पहलू, ये सब दिखाया जायेगा "कहने को हमसफ़र हैं" के तीसरे सीजन में, जो निश्चित रूप से दर्शकों को बेहद पसंद आएगा.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay