एडवांस्ड सर्च

उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने देखी बाटला हाउस, जॉन अब्राहम बोले- सम्मान की बात

उपराष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडू के लिए शनिवार की शाम दिल्ली में फिल्म बाटला हाउस की एक विशेष स्क्रीनिंग का आयोजन किया गया.

Advertisement
aajtak.in
aajtak.in नई दिल्ली, 04 August 2019
उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने देखी बाटला हाउस, जॉन अब्राहम बोले- सम्मान की बात फिल्म की टीम के साथ उप राष्ट्रपति

बॉलीवुड एक्टर जॉन अब्राहम स्टारर फिल्म 'बाटला हाउस' स्वतंत्रता दिवस के मौके पर रिलीज होगी. लेकिन उससे पहले उपराष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडू के लिए शनिवार की शाम दिल्ली में इस फिल्म की एक विशेष स्क्रीनिंग का आयोजन किया गया. जॉन ने कहा, "माननीय उप राष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडू को अपना काम दिखाना हमारे लिए एक सम्मान है. मैं यह देखना चाहता हूं कि वह हमारी फिल्म पर कैसी प्रतिक्रिया देते हैं. मैं उन्हें यह मौका देने के लिए धन्यवाद देता हूं. उनसे मिलने और उनसे बातचीत करने का इंतजार कर रहा हूं."

निखिल आडवाणी द्वारा निर्देशित 'बाटला हाउस' 2008 में हुए सीरियल ब्लास्ट के मद्देनजर दिल्ली में हुए कथित पुलिस मुठभेड़ ऑपरेशन से प्रेरित है. जॉन इस फिल्म में बाटला हाउस ऑपरेशन की कमान संभालने वाले डीसीपी संजीव कुमार यादव की भूमिका निभाते नजर आएंगे. जॉन ने कहा, "मैं ऐसे लोगों से प्यार करता हूं जो स्वार्थी उद्देश्यों के बिना राष्ट्र के लिए काम करते हैं. ऐसे लोगों की कहानियां मुझे प्रेरित करती हैं और यही कारण है कि मैं वास्तविक विषयों पर फिल्में करना पसंद करता हूं. संजीव कुमार यादव ऐसे ही लोगों में से एक हैं."

उन्होंने कहा, "उनकी भूमिका फिल्म के साथ न्याय करती प्रतीत होती है. मैं उनसे मिला और मुठभेड़ के मुद्दे से अलग भी उनसे कई बार बात की. उन्होंने मुझसे अपने व्यक्तिगत चीजों के बारे में भी बात की." 'बाटला हाउस' फिल्म में अभिनेता मृणाल ठाकुर और रवि किशन भी हैं और यह 15 अगस्त को रिलीज होने वाली है. हालांकि फिल्म रिलीज से पहले विवादों में पड़ती नजर आ रही है.

बाटला हाउस केस में मामले के 2 आरोपियों ने इस फिल्म की रिलीज को रोकने के लिए केस किया है. इस मामले के दो अभियुक्तों अरीज खान और शहजाद अहमद ने दिल्ली हाई कोर्ट में फिल्म के खिलाफ याचिका दायर की है. उन्होंने फिल्म बाटला हाउस की प्री-स्क्रीनिंग करने के लिए केंद्र को निर्देश देने की मांग की है. दलील में कहा गया है कि फिल्म के पोस्टर और प्रमोशनल वीडियोज में दिखाए गए सभी घटनाक्रम सच्ची घटना से प्रेरित है, जिससे यह लग रहा है कि बाटला हाउस मुठभेड़ पूरी तरह से असल घटना को पर्दे पर दिखा रही है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay