एडवांस्ड सर्च

Advertisement

चित्रांगदा का #MeToo: सीन इतना गंदा था कि छोड़नी पड़ी फिल्म

अब बॉलीवुड एक्ट्रेस चित्रांगदा सिंह ने फिल्म बाबूमुशाय बंदूकबाज की शूटिंग के दौरान हुआ अपना मीटू मोमेंट शेयर किया है.
चित्रांगदा का #MeToo: सीन इतना गंदा था कि छोड़नी पड़ी फिल्म चित्रांगदा सिंह (फोटोः इंस्टाग्राम)
aajtak.in [Edited By: पुनीत पाराशर]नई दिल्ली, 11 October 2018

बॉलीवुड की तमाम सेलेब्रिटीज के बाद अब चित्रांगदा सिंह ने भी तनुश्री दत्ता का सपोर्ट किया है. इसके साथ ही उन्होंने खुद के साथ हुई एक दहला देने वाली घटना का भी जिक्र किया है जो उनके साथ फिल्म बाबूमुशाय बंदूकबाज के सेट पर हुई. कुछ रिपोर्ट्स के मुताबिक उन्होंने बताया, "मैं शूटिंग कर रही थी तभी अचानक वो एक आशिकाना सीन का आइडिया लेकर आए जो मुझे नवाजुद्दीन के साथ करना था. वह बहुत गंदा तरीका था. मुझे बहुत अपमानजनक महसूस किया, और वहां से चली गई."

एक्ट्रेस ने बताया कि उस वक्त नवाजुद्दीन सिद्दीकी और फीमेल प्रोड्यूसर भी वहां पर मौजूद थीं लेकिन किसी ने भी निर्देशक का विरोध नहीं किया. उन्होंने कहा, "उसी वक्त मैंने यह फैसला किया कि मैं यह फिल्म नहीं करूंगी. मैंने फिल्म छोड़ने की वजह को एक मीडिया हाउस के साथ साझा किया था लेकिन उन्होंने कहा कि मुझे आगे आकर इस बारे में बात करनी होगी. मुझे लगता है कि उस वक्त किसी ने भी इस मुद्दे को महत्व नहीं दिया था."

एक्ट्रेस ने कहा, "हालांकि अब कोई फर्क नहीं पड़ता है. क्योंकि मीडिया अभी शानदार काम कर रहा है. मीटू मोमेंट सिर्फ पश्चिम को कॉपी करने के लिए नहीं होना चाहिए. इसे हमारे समाज की फिक्र के मकसद से होना चाहिए." याद हो कि फिल्म के निर्देशक कुशन नंदी ने उस वक्त कहा था कि इंटीमेट सीन वो वजह नहीं है जिसके चलते चित्रांगदा ने फिल्म छोड़ी. उन्होंने इन सभी आरोपों को उस वक्त खारिज किया था.

तनुश्री का समर्थन करते हुए चित्रांगदा ने कहा, "यदि जो वह कह रही हैं वो सच है तो इसे महत्व दिया जाना चाहिए. कोई फर्क नहीं पड़ता कि कितना वक्त गुजर चुका है."

Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay