एडवांस्ड सर्च

गुरुग्राम में गैंगस्टर अशोक राठी पर जानलेवा हमला, 3 बदमाशों ने घर में घुसकर मारी गोली

साइबर सिटी गुरुग्राम के अलीपुर गांव में तीन बदमाशों ने गैंगस्टर अशोक राठी को घर में घुसकर गोली मार दी. वारदात को अंजाम देने के बाद तीनों बदमाश फरार हो गए. पुलिस का कहना है कि गैंगस्टर अशोक राठी पर 46 से ज्यादा आपराधिक मामले दर्ज हैं.

Advertisement
aajtak.in
हिमांशु मिश्रा गुरुग्राम, 16 November 2019
गुरुग्राम में गैंगस्टर अशोक राठी पर जानलेवा हमला, 3 बदमाशों ने घर में घुसकर मारी गोली गैंगस्टर अशोक राठी (फाइल फोटो)

  • गोली मारने के बाद घटनास्थल से फरार हुए बदमाश
  • अशोक राठी पर दर्ज हैं 46 से ज्यादा आपराधिक मामले

साइबर सिटी गुरुग्राम का अलीपुर गांव शनिवार सुबह गोलियों की तड़तड़ाहट से दहल गया. तीन बदमाशों ने अलीपुर में रहने वाले गैंगस्टर अशोक राठी को घर में घुसकर गोली मार दी. इसके बाद ये बदमाश घटनास्थल से फरार हो गए. बताया जा रहा है कि तीन बदमाश अलीपुर में गैंगस्टर अशोक राठी से मिलने उसके घर पहुंचे थे और कुछ देर बातचीत करने के बाद अचानक इन बदमाशों ने पिस्टल निकालकर अशोक राठी पर ताबड़तोड़ फायरिंग शुरू कर दी.

हरियाणा के गुरुग्राम के अलीपुर गांव का रहने वाला अशोक राठी जुलाई महीने में ही जेल से जमानत पर बाहर आया था. परिजनों के मुताबिक शनिवार सुबह करीब 7 बजे तीन युवक नरेंद्र, सलीम और रोहित नाम के युवक गैंगस्टर अशोक राठी से मिलने पहुंचे थे और कुछ देर तक अशोक राठी से बात की थी. इसके बाद इन तीनों ने अशोक राठी पर फायरिंग कर दी. इस घटना में गंभीर रूप से घायल गैंगस्टर को तत्काल नजदीक के अस्पताल में भर्ती कराया गया.

वहीं, इस घटना की सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची गुरुग्राम पुलिस ने अशोक राठी के परिजनों की शिकायत पर तीन लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर तफ्तीश शुरू कर दी. पुलिस यह पता लगाने की कोशिश कर रही है कि यह मामला कहीं गैंगवार का नतीजा तो नहीं है? पुलिस के मुताबिक गैंगस्टर अशोक राठी का आतंक एक दशक तक था. उस पर  हत्या, हत्या के प्रयास, लूट, रंगदारी और फिरौती जैसे करीब 46 से ज्यादा आपराधिक मामले दर्ज हैं.

अशोक राठी ने पलवल में साल 2011 में अपने सास और साले की जमीन कब्जाने के मकसद से हत्या करवा दी थी. इसी मामले में अशोक राठी उम्र कैद की सज़ा काट रहा था. जेल में रहने के दौरान भी अशोक राठी का आंतक कम नहीं हुआ था. उसने जेल में रहते हुए अपने गुर्गों के जरिए साल 2016 में अपनी ही बीवी की हत्या करवा दी थी. फिलहाल इन दिनों वह जमानत पर जेल से बाहर है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay