एडवांस्ड सर्च

मॉडल की आपबीती- सलमान खान की बीइंग ह्यूमन के CEO ने पीटा, एक कान से सुनने की क्षमता ख़त्म

एक्टर सलमान खान के क्लोदिंग ब्रांड बीइंग ह्यूमन के सीईओ मनीष मंधाना पर एक मॉडल एंड्रिया डिसूजा मारपीट का आरोप लगाया है. मॉडल की शिकायत पर केस दर्ज किया गया है.

Advertisement
aajtak.in
aajtak.in नई दिल्ली, 06 March 2019
मॉडल की आपबीती- सलमान खान की बीइंग ह्यूमन के CEO ने पीटा, एक कान से सुनने की क्षमता ख़त्म एंड्रिया डिसूजा

एक्टर सलमान खान के क्लोदिंग ब्रांड बीइंग ह्यूमन के सीईओ मनीष मंधाना पर एक मॉडल एंड्रिया डिसूजा ने मारपीट का आरोप लगाया है. मॉडल की शिकायत पर मुंबई के गामदेवी थाने में आईपीसी की धारा 325 के तहत मामला दर्ज किया गया है. एंड्रिया का आरोप है कि मनीष ने उनको इतना मारा, जिससे उनकी सुनने की क्षमता कम हो गई. अब उन्हें एक कान से सुनाई नहीं दे रहा है.

स्पॉटबॉय की खबर के मुताबिक, एंड्रिया ने बताया, "2015 में दुबई में बीइंग ह्यूमन स्टोर के लॉन्च के दौरान उनकी मुलाकात मंधाना से हुई थी. हमने सोशल मीडिया पर बातचीत करना शुरू कर दिया. 2013 से में फिल्मों में काम की तलाश में दुबई से मुंबई भटक रही थी. फाइनली दिसंबर 2015 में मैं मुंबई शिफ्ट हो गई. मुझे ये मालूम था कि मनीष शादीशुदा है."

"उसने मुझसे यह कहते हुए झूठ बोला कि उसकी शादी लगभग खत्म हो गई है. उसकी पत्नी और बच्चे उससे अलग रहते हैं. और वो जल्द ही तलाक लेने वाला है. मैंने उस पर विश्वास किया. लेकिन, 2017 के बीच में मुझे पता चला कि मनीष ने मुझे झूठ बोला है. उसके कई और लड़कियों से भी संबंध है और उनसे भी उसने ऐसी ही बातें कही हैं. बाद उन्हें छोड़ दिया. जब मैंने उससे इस बारे में पूछा तो उसने इससे इंकार कर दिया."

"अगस्त 2017 में पहली बार उसने मेरे साथ मारपीट की. दरअसल, मेरी दोस्त अपने पोर्टफोलियो की शूटिंग पूरी करने के बाद मेरे घर पर रुक गई. उस दिन जब मनीष मेरे घर आया तो वो बेडरूम में गया, जहां मेरी दोस्त सो रही थी. वो उसके बगल में लेट गया. जब मैं कमरे में गई, तो उसने मुझे उनके बीच में लेटने के लिए कहा. यह देखकर कि मुझे अच्छा नहीं लगा. इसके बाद वो उस रात घर से चला गया."

"अगली सुबह, जब मैंने उससे इसके बारे में पूछने की कोशिश की तो उसने मुझे पीटा. मुझे उस दिन बिग बॉस (11) का ऑडिशन को छोड़ना पड़ा था क्योंकि इस घटना से मेरा चेहरा सूज गया था."

मॉडल ने आरोप लगाया कि "मुझे एक महिला से मनीष के कई सारे चैट्स मिली. जिसके बारे में जब मैंने उससे पूछताछ की तो उसने मुझे बहुत मारा. धीरे-धीरे ये सब बढ़ता गया. मेरी हेल्थ में गिरावट शुरू हो गई. मैं डिप्रेशन में जाने लगी. 6 महीने बाद मेरे चचेरे भाई मुझे अस्पताल ले गए. वहां, मुझे बताया गया कि मेरे दाहिने कान की नस डैमेज हो गई थी. मैंने उसकी पत्नी को मैसेज किया, लेकिन मुझे नहीं लगता कि वह मेरी बात सुनने में दिलचस्पी ले रही थी."

गामदेवी पुलिस स्टेशन के पुलिस इंस्पेक्टर राकेश जाधव ने डिसूजा की शिकायत की पुष्टि की है. उन्होंने कहा, "हमने पीड़िता का बयान दर्ज किया है और एक एफआईआर दर्ज की गई है. आवश्यक कार्रवाई की जाएगी." बता दें कि डिसूजा ने मेडिकल रिपोर्ट के साथ-साथ पुलिस को अपनी चोट लगी तस्वीरें भी दी हैं.

बता दें कि मनीष मंधाना का इस मामले पर अभी तक कोई बयान नहीं आया है.

शिकायत में क्यों हुई देरी?

जब मॉडल से सवाल किया गया कि उसने शिकायत दर्ज करवाने के लिए 15 महीने तक इंतजार क्यों किया तो इस पर उन्होंने बताया, "मैं अपनी चोटों से उबर रही थी. इसके अलावा, मेरे दोस्तों ने भी मनीष के खिलाफ कार्रवाई करने से मुझे मना कर दिया क्योंकि वो ताकतवर इंसान है. लेकिन मैंने धीरे-धीरे साहस इकट्ठा किया और निर्णय लिया कि मुझे सभी को उसके गलत व्यवहार के बारे में बताना है. मुझे न्याय चाहिए.''

(इनपुट- शिवांगी ठाकुर)

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay