एडवांस्ड सर्च

बिजनेसमैन प्रमोद मित्तल बोस्निया में गिरफ्तार, दिग्गज कारोबारी लक्ष्मी मित्तल के हैं भाई

दुनिया के जाने माने स्टील उद्योगपति लक्ष्मी मित्तल के छोटे भाई प्रमोद मित्तल को बोस्निया में गिरफ्तार कर लिया गया है. प्रमोद मित्तल भी स्टील कारोबारी हैं और दुनिया के कई देशों में कारोबार करते हैं.

Advertisement
aajtak.in
aajtak.in नई दिल्ली, 24 July 2019
बिजनेसमैन प्रमोद मित्तल बोस्निया में गिरफ्तार, दिग्गज कारोबारी लक्ष्मी मित्तल के हैं भाई बिजनेसमैन प्रमोद मित्तल (फाइल फोटो)

  • उद्योगपति लक्ष्मी मित्तल के भाई प्रमोद मित्तल बोस्निया में गिरफ्तार
  • प्रमोद मित्तल बोस्निया के बड़े कारोबारी माने जाते हैं.
  • प्रमोद मित्तल पर बोस्निया की पुलिस ने संगठित अपराध में लिप्त रहने का आरोप लगाया है.

दुनिया के जाने-माने उद्योगपति लक्ष्मी मित्तल के छोटे भाई प्रमोद मित्तल को बोस्निया में गिरफ्तार कर लिया गया है. प्रमोद मित्तल भी स्टील कारोबारी हैं और दुनिया के कई देशों में कारोबार करते हैं. बोस्निया के एक सरकारी वकील ने बताया कि धोखाधड़ी और पद का दुरुपयोग करने के आरोप में उन्हें गिरफ्तार किया गया है. हालांकि बोस्निया पुलिस ने आरोपों के बारे में ज्यादा विस्तार से नहीं बताया है.

बता दें कि प्रमोद मित्तल स्टील बनाने से जुड़ी कंपनी GIKIL का संचालन कर रहे हैं. वे इस कंपनी के सुपरवाइजरी बोर्ड के अध्यक्ष हैं. ये कंपनी बोस्निया के टॉप एक्सपोर्टर्स में शामिल है.

बोस्निया के प्रॉसिक्यूशन डिपार्टमेंट के अधिकारी कैजिन सेरथालिक ने कहा कि प्रमोद मित्तल के अलावा GIKIL के जनरल मैनेजर परमेश भट्टाचार्य और राजीव दास को भी गिरफ्तार किया गया है. राजीव दास GIKIL  के बोर्ड मेंबर हैं.  कैजिन सेरथालिक ने कहा, "उन्हें संगठित अपराध करने की आशंका और पद का दुरुपयोग करने के जुर्म में गिरफ्तार किया गया है, ये सब 2003 से ही चलता आ रहा था." समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक एक वेबसाइट ने दावा किया है कि प्रमोद मित्तल और दूसरे आरोपियों पर 2.8 मिलियन डॉलर रकम के हेरफेर का आरोप है.

समाचार एजेंसी रायटर्स के मुताबिक इस घटनाक्रम पर कंपनी की ओर से अबतक कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है. रिपोर्ट के मुताबिक उन्हें अबतक उत्तरी बोस्नियां के लुकावाक में स्थित कंपनी के कैंपस में रखा गया है. सरकारी अधिकारी कंपनी की तलाशी ले रहे हैं. इसके बाद आगे की कार्रवाई के लिए उन्हें तुजला प्रॉसिक्यूशन डिपार्टमेंट ले जाया जाएगा. बोस्निया के गृह मंत्रालय ने GIKIL पर छापेमारी की खबरों की पुष्टि की. हालांकि उन्होंने इस बावत ज्यादा जानकारी देने से इनकार किया.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay